लाइव टीवी

UP: मंत्री स्वाति सिंह के विभाग में 38 करोड़ के टेंडर में हेरफेर, जानिये क्या है मामला
Lucknow News in Hindi

Prashant Pandey | News18 Uttar Pradesh
Updated: March 17, 2020, 11:54 AM IST
UP: मंत्री स्वाति सिंह के विभाग में 38 करोड़ के टेंडर में हेरफेर, जानिये क्या है मामला
उत्तर प्रदेश सरकार की मंत्री स्वाति सरकार के विभाग में टेंडर के हेरफेर को लेकर नया मामला सामने आया है.(File Photo)

स्वाति सिंह के विभाग में जमकर लूट मची हुई है. उनके जिम्मे के पूर्व के विभाग में भी भ्रष्टाचार की कई जांचें चल रही हैं. ताजा मामला बाल विकास पुष्टाहार विभाग का है, जहां 38 करोड़ के टेंडर में बड़ा हेरफेर सामने आया है.

  • Share this:
लखनऊ. मंत्री स्वाति सिंह (Swati Singh) का विवादों से नाता नहीं छूट रहा है. एक तरफ जहां भाजपा सरकार (BJP Government)  भ्रष्टाचार पर जीरो टॉलरेंस नीति पर कायम हैं, वहीं दूसरी तरफ मंत्री स्वाति सिंह के विभाग में जमकर लूट मची हुई है. उनके जिम्मे के पूर्व के विभाग में भी भ्रष्टाचार की कई जांचें चल रही हैं. ताजा मामला बाल विकास पुष्टाहार विभाग का है, जहां 38 करोड़ के टेंडर में बड़ा हेरफेर सामने आया है.

ये है पूरा मामला

नई स्कूल नीति के अंतर्गत बाल विकास पुष्टाहार विभाग सभी आंगनबाड़ी केंद्रों को प्री प्राइमरी स्कूल में तब्दील कर रहा है. यह तब्दीली बेसिक शिक्षा विभाग के सहयोग से लाई जा रही है. नौनिहालों के लिए फर्नीचर की खरीद के लिए हर जनपद को 50 लाख का ग्रांट केंद्र सरकार ने दिया गया है जिसकी मुख्यालय से मॉनिटरिंग की जा रही है.



पहले ही बिड में सभी कंपनियों को किया डिसक्वालिफाई



हालांकि वर्षों से इस विभाग में जमे निदेशक शत्रुघ्न सिंह द्वारा बड़ा खेल देखने को मिल रहा है. निजी कंपनी सुप्रीम फर्नीचर को टेंडर दिलाने के लिए सारी कंपनी को पहले ही बिड से कमिटी डिसक्वालिफाई कर 19 जनपदों में सिर्फ सुप्रीम फर्नीचर को ही टेंडर देती जा रही है.

22 जनपदों में टेंडर की प्रक्रिया हो चुकी है पूरी

अभी तक 22 जनपदों में टेंडर प्रक्रिया हो चुकी है, बांकियों में प्रतिदिन चालू है. पूरे मामले से बेसिक शिक्षा विभाग ने पल्ला झाड़ लिया है. अपर मुख्य सचिव बेसिक शिक्षा रेणुका कुमार का कहना है कि प्री—प्राइमरी के नौनिहालों के लिए स्कूल किट व कक्षाओं के लिए फर्नीचर आदि की खरीद बाल विकास पुष्टाहार विभाग द्वारा किया जा रहा है. वहीं, दूसरी ओर मंत्री स्वाति सिंह व विभाग के अन्य अधिकारियों से उनके पक्ष के लिए न्यूज़ 18 द्वारा संपर्क किया गया पर किसी के भी द्वारा मीडिया से बात करने से साफ इंकार कर दिया गया.

ये भी पढ़ें: कोरोना वायरस की वजह से लटका इलाहाबाद विश्वविद्यालय के नाम बदलने का प्रस्ताव

इलाहाबाद विश्वविद्यालय: जानिए क्या है ये देश की चौथी सबसे पुरानी यूनिवर्सिटी
First published: March 17, 2020, 11:53 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading