Panchayat Chunav Results: यूपी पंचायत चुनाव की काउंटि‍ंंग शुरू, जानें कहां और कैसे देखें चुनाव परिणाम

यूपी पंचायत चुनाव की वोट‍िंग शुरू हो गई है और आप सभी ज‍िलों की मतगणना लाइव देख सकते हैं.

यूपी पंचायत चुनाव की वोट‍िंग शुरू हो गई है और आप सभी ज‍िलों की मतगणना लाइव देख सकते हैं.

Uttar Pradesh Gram Panchayat chunav ke natije: उत्तर प्रदेश में पंचायत चुनाव में कुल 12,89,830 प्रत्याशियों ने विभिन्न पदों पर अपनी किस्मत आजमाई है. इसमें लगभग 12 करोड़ 30 लाख मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया था. पूरे प्रदेश में करीब 53 फ़ीसदी पुरुष मतदाता जबकि लगभग 45 फीसद महिला मतदाताओं ने वोट डाले.

  • Share this:
उत्तर प्रदेश के 75 जिलों में चार चरणों में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की काउंट‍िंंग शुरू हो गई है और आज से नतीजे आने लगेंगे. पंचायत चुनाव के पहले चरण की वोट‍िंग 15 अप्रैल, दूसरी चरण की वोट‍िंग 19 अप्रैल, तीसर चरण की वोट‍िंग 26 अप्रैल और चौथे चरण की वोट‍िंग 29 अप्रैल को समाप्‍त हुई थी. उत्तर प्रदेश में लगभग 12 करोड़ 30 लाख मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया था. पूरे प्रदेश में करीब 53 फ़ीसदी पुरुष मतदाता जबकि लगभग 45 फीसद महिला मतदाताओं ने वोट डाले. यूपी पंचायत चुनाव की वोट‍िंग शुरू हो गई है और आप सभी ज‍िलों की मतगणना लाइव देख सकते हैं. इसके ल‍िए आपको न्‍यूज 18 के साथ जुड़े रहना होगा और आपको यहां से पल-पल का अपडेट मिलेगा.

यहां देखें यूपी पंचायत चुनाव का अपडेट

यहां भी देख सकते हैं पंचायत चुनाव के नतीजे

उत्तर प्रदेश में ग्राम पंचायत प्रधान के 58,176 पदों पर कुल 4,64,717 प्रत्याशियों ने हिस्सा लिया, जबकि 178 निर्विरोध चुने गए. इसी तरह ग्राम पंचायत सदस्य के 7,32,485 पदों के लिए कुल 4382 सात-सात प्रत्याशियों ने हिस्सा लिया, जबकि इन पदों पर 3,17,127 ग्राम पंचायत सदस्य निर्विरोध चुने गए. बात अगर क्षेत्र पंचायत सदस्य की करे तो 75,852 क्षेत्र पंचायत सदस्य पदों पर 3,42,439 प्रत्याशी चुनावी मैदान में थे, जबकि 2005 प्रत्याशी निर्विरोध चुने गए. अंत मे बात जिला पंचायत सदस्य की करे तो जिला पंचायत सदस्य के 3,050 पदों के लिए मत डाले गये हैं, जिनमे 44 397 प्रत्याशियों ने अपनी किस्मत आजमाई. जिला पंचायत सदस्य के 7 पदों पर प्रत्याशी निर्विरोध चुने गए. इस तरह उत्तर प्रदेश में पंचायत सामान्य निर्वाचन 2021 में कुल 12,89,830 प्रत्याशियों ने विभिन्न पदों पर अपनी किस्मत आजमाई है.
राज्‍य निर्वाचन आयुक्‍त मनोज कुमार ने सभी जिलाधिकारी और जिला निर्वाचन अधिकारियों को यह आदेश दिया है कि प्रत्येक मतगणना केंद्र पर मतगणना के दिन मेडिकल हेल्थ डेस्क खोले जाएं. आयोग की ओर से जारी बयान के अनुसार आयुक्‍त की यह स्पष्ट हिदायत है कि कोविड-19 के लक्षण जैसे बुखार, जुकाम आदि होने पर मतगणना स्थल पर प्रवेश की अनुमति नहीं रहेगी. मतगणना हाल या कक्ष या परिसर में प्रवेश के समय सभी व्यक्तियों की थर्मल स्कैनिंग कराना अनिवार्य किया गया है. आयोग ने विजय जुलूस पर प्रतिबंध लगाया है और किसी भी प्रत्याशी को विजय जुलूस की अनुमति कतई नहीं दी जाएगी.

आयोग के प्रवक्ता के मुताबिक प्रत्याशियों एवं अभिकर्ताओं को मतगणना प्रारंभ होने के 48 घंटे पहले आरटीपीसीआर अथवा रैपिड एंटीजन जांच की निगेटिव रिपोर्ट अथवा कोविड-19 टीका का कोर्स पूर्ण किये जाने की रिपोर्ट दिखाये जाने के बाद ही मतगणना केंद्र में प्रवेश की अनुमति मिलेगी। मतगणना केंद्र पर जाने वाले सभी को मास्क पहनना अनिवार्य होगा.

उत्तर प्रदेश के 75 जिलों में चार चरणों में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के मत डाले जा चुके हैं. पहले चरण में 15 अप्रैल, दूसरे में 19 अप्रैल, तीसरे में 26 अप्रैल और चौथे चरण में 29 अप्रैल को मतदान संपन्न हुआ. राज्‍य में चारों चरणों में ग्राम पंचायत प्रधान के 58,194, ग्राम पंचायत सदस्य के 7,31,813, क्षेत्र पंचायत सदस्य के 75,808 तथा जिला पंचायत सदस्य के 3,051 पदों के लिए मत डाले गये हैं. इनमें से कुछ पदों पर निर्विरोध निर्वाचन भी हो चुका है. इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने उत्तर प्रदेश सरकार से पंचायत चुनाव प्रक्रिया 25 मई तक समाप्त करने को कहा था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज