मुंबई से दिल्ली आ रहे विमान में 10 मिनट का बचा था ईंधन, लैंडिंग के लिए आधे घंटे आसमान में काटता रहा चक्कर

जिस दौरान विस्तारा एयरलाइंस का विमान हवा में चक्कर काटता रहा उसमें सवार 162 यात्रियों की सांसें अटकी रही. लखनऊ के अमौसी एयरपोर्ट पर जब विमान की इमरजेंसी लैंडिंग हुई तब उसमें मात्र 10 मिनट का ईंधन शेष बचा था.

News18 Uttar Pradesh
Updated: July 18, 2019, 3:27 PM IST
News18 Uttar Pradesh
Updated: July 18, 2019, 3:27 PM IST
मुंबई से दिल्ली जा रहे विस्तारा एयरलाइंस के विमान की खराब मौसम की वजह से लैंडिंग नहीं हो सकी. इस दौरान उसमें सवार 162 यात्रियों की सांसें अटकी रही. मंगलवार शाम लखनऊ के अमौसी एयरपोर्ट पर जब विमान की इमरजेंसी लैंडिंग हुई तब उसमें मात्र 10 मिनट का ईंधन शेष बचा था. विमान के सुरक्षित लैंडिंग करने के बाद यात्रियों के जान में जान आई.

बताया जा रहा है कि दिल्ली में ख़राब मौसम की वजह से विमान को लखनऊ के लिए डायवर्ट किया गया. लेकिन यहां भी मौसम खराब होने पर विमान को कानपुर भेजा गया. कानपुर में भी लैंडिंग की अनुमति न मिली तो अंत में विमान प्रयागराज रवाना हो गया. इस बीच विमान का ईंधन खत्म होने लगा. लखनऊ में मौसम सुधरा तो पायलट ने एटीसी को बताया कि उसके विमान में ईंधन खत्म होने वाला है. प्राथमिकता के आधार पर लैंडिंग जरूरी है. करीब 30 मिनट चक्कर काटने के बाद विमान लखनऊ के रनवे पर उतर सका.

खराब मौसम होने से विमान को पहले नहीं मिली अनुमति

एयरपोर्ट निदेशक एके शर्मा ने बताया कि पायलट के पास कम दृश्यता की तकनीक कैट-3बी का प्रशिक्षण नहीं था ऐसे में उसे कानपुर भेजा गया. कानपुर में भी आंधी-बारिश शुरू हो गई. इस बीच पायलट ने फुल इमरजेंसी की घोषणा कर दी और विमान को किसी भी हवाई पट्टी पर उतारने की बात कही. उसने विमान को प्रयागराज की तरफ बढ़ाया. इधर लखनऊ एटीसी ने ईंधन कम होने और दृश्यता ठीक होने पर विमान लखनऊ में उतारने को कहा गया. इसके बाद मंगलवार शाम करीब पौने 7 बजे विमान की लैंडिंग हुई.

ये भी पढ़ें:

CM योगी को 20 साल पुराने हत्या के मामले में मिली बड़ी राहत

उत्तर प्रदेश: सुप्रीम कोर्ट के फैसले ने बचाई 1 लाख शिक्षकों की नौकरी
First published: July 17, 2019, 8:27 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...