Assembly Banner 2021

लखनऊ शूटआउट: अखिलेश का योगी सरकार पर वार-फर्जी एनकाउंटर करवाने वालों से क्या रखें उम्मीद!

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव (फाइल फोटो-पीटीआई)

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव (फाइल फोटो-पीटीआई)

अखिलेश यादव ने कहा कि जिस सरकार में बदले की भावना से फर्जी एनकाउंटर करवाया जा रहा हो, उससे बेहतर कानून-व्यवस्था की उम्मीद कैसे की जा सकती है.

  • Share this:
29 सितंबर को लखनऊ में हुए विवेक तिवारी शूटआउट मामले में समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने योगी सरकार पर जमकर निशाना साधा. सोमवार को राजधानी लखनऊ में प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित करते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि जिस सरकार में बदले की भावना से फर्जी एनकाउंटर करवाया जा रहा हो, उससे बेहतर कानून-व्यवस्था की उम्मीद कैसे की जा सकती है. अखिलेश यादव ने विवेक तिवारी हत्याकांड को दुखद बताते हुए मुख्यमंत्री और उनकी सरकार को कटघरे में खड़ा किया.

उन्होंने कहा, "जिस दिन से बीजेपी की सरकार बनी है, उसी दिन से समाजवादी पार्टी कह रही है कि इस सरकार से बेहतर कानून-व्यवस्था की उम्मीद नहीं की जा सकती. सूबे के मुख्यमंत्री पर केस दर्ज है. उपमुख्यमंत्री पर कई धाराओं में मामला दर्ज है. इतना ही नहीं, जब मुख्यमंत्री सदन में डराने की भाषा बोलते हों तो और क्या उम्मीद की जा सकती है. ये डराने वाली भाषा का ही परिणाम है कि लोगों की सुरक्षा करने वाली पुलिस खुलेआम गोली मार रही है."

अखिलेश यादव ने प्रदेश में हो रहे एनकाउंटर पर भी सवाल खड़े किए. उन्होंने कहा कि नोएडा में जितेंद्र यादव को गोली मार दी गई. वहीं सचिन गुर्जर नौजवान को भी पुलिस ने एनकाउंटर में मार गिराया. उन्‍होंने अलीगढ़ में हुए एनकाउंटर पर भी सवाल खड़े हुए. सभी लोग कह रहे हैं कि एनकाउंटर फर्जी था. आज तक राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग की तरफ से जितने नोटिस यूपी की बीजेपी सरकार को मिले हैं, वे किसी सरकार को नहीं मिले. एनकाउंटर इसलिए किए जा रहे हैं क्योंकि मुख्यमंत्री चाहते हैं कि लोगों का एनकाउंटर हो जाए. क्या मुख्यमंत्री जी की ये भाषा नहीं थी- ठोक दो इनको? मुख्यमंत्री जी की जो भाषा थी, वह क्या था? जिन लोगों के एनकाउंटर हुए हैं, उनके सिर पर इनाम नहीं था. केस नहीं था. लेकिन केस खोल दिए गए. सरकार डरा रही है. विवेक हत्याकांड से दुनिया भर में यूपी की बदनामी हुई है.



लखनऊ शूटआउट पर बोलीं मायावती, सरकार कर रही है 'ब्राह्मणों' का शोषण
दूसरी तरफ बीएसपी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने भी सोमवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस करके योगी सरकार पर ब्राह्मणों के साथ शोषण करने का आरोप लगाया. मायावती ने कहा कि सरकार इस घटना में आरोपी पुलिसकर्मियों के साथ दोषी और लापरवाह अफसरों पर भी कार्रवाई करे. उन्होंने कहा कि इसलिए आज हमने अपने पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा उनके आवास पर भेजा था. बीएसपी सुप्रीमो ने कहा कि इस दुख की घड़ी में बहुजन समाज पार्टी मृतक परिवार के साथ खड़ी है. उन्होंने कहा कि सरकार के मंत्री मामले को दबाने में लगे है.



बस्ती: लखनऊ में रोडरेज, पास देने को लेकर हुए विवाद में युवक को मारी गोली, हालत गंभीर

खराब बस को धक्का लगा रहे थे यात्री, पीछे से आए ट्रक ने कुचला, 6 की मौत

विवेक तिवारी हत्याकांड पर DGP का ट्वीट, कहा- पुलिसकर्मियों को ट्रेनिंग की जरूरत
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज