लाइव टीवी

राम मंदिर ट्रस्ट में शामिल होना चाहते हैं वसीम रिजवी, बोले- भगवान की सेवा के लिए छोड़ दूंगा वक्फ बोर्ड
Lucknow News in Hindi

Mohd Shabab | News18 Uttar Pradesh
Updated: February 13, 2020, 1:38 PM IST
राम मंदिर ट्रस्ट में शामिल होना चाहते हैं वसीम रिजवी, बोले- भगवान की सेवा के लिए छोड़ दूंगा वक्फ बोर्ड
शिया वक्फ बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिजवी

वसीम रिजवी ने कहा कि मैं भगवान राम का सम्मान करता हूं. अगर भगवान राम के मंदिर में टीका लगाकर हाथ जोड़कर खड़ा होता हूं तो इस्लाम धर्म के ठेकेदार भी मुझे इस्लाम से खारिज नहीं कर सकते.

  • Share this:
लखनऊ. शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड (Shia Central Waqf Board) के चेयरमैन वसीम रिजवी (Waseem Rizvi) नें राम मंदिर (Ram Temple) निर्माण और रखरखाव के लिए बने श्री राम जन्मभूमी तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट में शामिल होने की इच्छा जताई है. वसीम रिजवी ने कहा कि मैं ट्रस्ट में किसी रूप में मिलने वाली जिम्मेदारी के लिये तैयार हूं. उन्होंने कहा कि अगर मुझे उस ट्रस्ट में जगह मिलती है तो मैं अपने को भाग्यशाली समझूंगा.

न्यूज18 से बातचीत में वसीम रिजवी ने कहा, "मैं उस मंदिर में भगवान राम की मूर्ती की सेवा करूंगा. मैं वहां की मस्जिद में नमाज भी पढ़ूंगा और श्री राम की मूर्ती की साफ-सफाई भी करूंगा. अगर मुझे भगवान राम की मूर्ती की साफ-सफाई की नौकरी मिल जाएगी तो मैं वक्फ बोर्ड की नौकरी को भी छोड़ दूंगा."

कहा धर्म के ठेकेदार मुझे इस्लाम से खारिज नहीं कर सकते

वसीम रिजवी ने कहा कि मैं भगवान राम का सम्मान करता हूं. अगर भगवान राम के मंदिर में टीका लगाकर हाथ जोड़कर खड़ा होता हूं तो इस्लाम धर्म के ठेकेदार भी मुझे इस्लाम से खारिज नहीं कर सकते. वसीम रिजवी ने कहा कि इससे नफरतें खत्म होंगी और ऐसे ही प्रयासों से भारत चलता रहेगा. बता दें इससे पहले भी वसीम रिजवी ने भगवान राम की मूर्ती के लिए तरकश में रखने के लिए चांदी के तीर दूंगा.

गौरतलब है कि वसीम रिजवी लगातार राम मंदिर के पक्ष में बोलते रहे हैं. उन्होंने सुप्रीम कोर्ट में बाबरी मस्जिद की जमीन पर शिया वक्फ बोर्ड का दावा भी ठोका था. हालांकि सुप्रीम कोर्ट ने उनकी अर्जी को खारिज कर दिया था.

ये भी पढ़ें:

कानपुर: 50 घंटे बाद सड़क से हटीं प्रदर्शनकारी महिलाएंBudget सत्र से पहले UP विधानसभा परिसर में धरने पर बैठे सपा विधायक

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 13, 2020, 1:37 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर