UP के बदले मौसम ने बढ़ाया COVID-19 संक्रमण का खतरा, साफ़-सफाई का रखें ध्यान...
Lucknow News in Hindi

UP के बदले मौसम ने बढ़ाया COVID-19 संक्रमण का खतरा, साफ़-सफाई का रखें ध्यान...
बदले मौसम ने बढ़ाया कोरोना वायरस के संक्रमण का खतरा (प्रतीकात्मक तस्वीर)

बदले मौसम से बढ़ी नमी और तापमान में आई गिरावट के चलते मौसम कोराना वायरस (Coronavirus) के अनुकूल बन गया है लेकिन इससे डरने की जरुरत नहीं है. लोगों को प्रिकॉसन बरतने की सलाह दी गई है जिसके लिए केंद्र व राज्य सरकार ने पहले ही एडवाइजरी (Corona Virus Prevention Advisory) जारी की है...

  • Share this:
लखनऊ. पिछले कुछ दिनों से उत्तर प्रदेश में मौसम (Weather) में अचानक बदलाव आने की वजह मौसम विज्ञानी (Meteorologist) अफगानिस्तान-ईरान के बीच पश्चिमी विक्षोभ (Western disturbance) की सक्रियता और राजस्थान-गुजरात के बीच बने साइक्लोनिक सर्कुलेशन (Cyclonic Circulation) को बता रहे हैं. उत्तर प्रदेश समेत देश के विभिन्न इलाकों के मौसम में आये बदलाव से हड़कंप मच गया है. मौसम परिवर्तन के दौरान यूपी में तेज हवाओं के साथ बारिश और ओले पड़ने से फसलों को हुए भारी नुकसान पहुंचा है. लाखों किसानों की फसलें चौपट हो गई हैं.

वहीं मौजूदा मौसम में आये बदलाव से बढ़ी नमी और तापमान में गिरावट से इन दिनों देश-दुनिया में काल बने कोरोना वायरस (Corona-virus) के लिये भी मौसम खासा अनुकूल बन गया है. जिसके चलते हवा में नमी के साथ कोरोना वायरस का खतरा भी बढ़ सकता है. डॉक्टरों का कहना है इससे डरने की जरुरत नहीं है. लोगों को प्रिकॉसन बरतने की सलाह दी गई है जिसके लिए स्वास्थ्य विभाग और केंद्र व राज्य सरकार ने पहले ही एडवाइजरी जारी की है.

kgmu, dr.ved prakash
किंग जार्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी के पल्मोनरी एवं क्रिटिकल केयर मेडिसिन विभाग के विभागाध्यक्ष डा. वेद प्रकाश




News 18 से बात करते हुए राजधानी लखनऊ के किंग जार्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी के पल्मोनरी एवं क्रिटिकल केयर मेडिसिन विभाग के विभागाध्यक्ष डा. वेद प्रकाश बताते हैं कि बीते दिनों तापमान में हुई बढ़ोत्तरी के चलते कोरोनावायरस के जल्द ही निष्क्रिय हो जाने की उम्मीद जताई जा रही थी लेकिन इस बीच मौसम में आये बदलाव से नमी और ठंड के बढ़ने से मौसम कोरोना वायरस के अनुकूल हो गया है. क्योंकि मौसम विभाग ने अभी अगले तीन दिनों तक ऐसा ही मौसम रहने की संभावना जताई है. इसलिये फिलहाल गर्मी न बढ़ने तक कोरोना वायरस के संक्रमण का खतरा कम होने में थोड़ा समय लग सकता है. लेकिन साथ ही उन्होंने कहा कि लोगों को इससे डरने की किसी को कोई जरूरत नहीं है. क्योंकि करोना वायरस से साफ-सफाई का विशेष ख्याल रखते हुए, मांस-मछली के साथ सर्दी, जुकाम, बुखार से पीड़ित लोगों से दूरी बनाकर आसानी से बचा जा सकता है.



हालांकि सीएम योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) के निर्देश पर पहले ही यूपी में कोरोना वायरस की रोकथाम के लिये हाई-अलर्ट जारी किया जा चुका है. कोरोना वायरस की रोकथाम के लिये न सिर्फ स्वास्थ्य विभाग द्वारा एयरपोर्ट से लेकर होटल तक में बाहर से आने वाले हर एक यात्रियों और सैलानियों की स्कैनिंग और मॉनिटरिंग की जा रही है. अगर किसी में कोरोना वायरस का लक्षण मिलता है तो उसे तुरंत आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराकर कोरोना वायरस की पुष्टि के लिये जांच कराई जा रही है और जांच रिपोर्ट में कोराना वायरस की पुष्टि होते ही उसे प्रदेश या प्रदेश के बाहर के अस्पतालों में भर्ती कराकर अच्छे से अच्छा इलाज भी मुहैया कराया जा रहा है. प्रदेश सरकार द्वारा कोराना वायरस से बचने के लिये साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखने के लिये व्यापक स्तर पर प्रचार-प्रसार भी कराया जा रहा है.

ये भी पढ़ें- UP में बेमौसम बारिश से किसान बेहाल, इन फसलों को हुआ सबसे अधिक नुकसान



 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading