योगी सरकार के कोविड प्रबंधन का कायल हुआ WHO, ग्रामीण इलाकों में अभियान की सराहना

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने यूपी में कोरोना प्रबंधन को लेकर सरकार के प्रयासों की सराहना की है. (File Photo)

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने यूपी में कोरोना प्रबंधन को लेकर सरकार के प्रयासों की सराहना की है. (File Photo)

Lucknow News: विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने अपनी रिपोर्ट में बताया है कि यूपी के ग्रामीण इलाकों में किस तरह योगी सरकार ने सामुदायिक केंद्रों, पंचायत भवनों और स्‍कूलों में कोरोना मरीजों की जांच और इलाज की सुविधा दे रही है.

  • Share this:

लखनऊ. योगी सरकार (Yogi Government) के कोविड प्रबंधन (COVID-19 Management) पर एक बार फिर विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन (WHO) ने मुहर लगा दी है. ग्रामीण इलाकों में राज्‍य सरकार के कोरोना के माइक्रो मैनेजमेंट का डब्‍ल्‍यूएचओ भी कायल‍ है. विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन ने अपनी वेबसाइट पर यूपी सरकार के कोविड प्रबंधन की खुलकर तारीफ की है. डब्‍ल्‍यूएचओ ने यूपी के ग्रामीण इलाकों में कोरोना को रोकने के लिए चलाए जा रहे महा अभियान की चर्चा करते हुए अपनी रिपोर्ट में बताया है कि राज्‍य सरकार ने किस तरह से 75 जिलों के 97941 गांवों में घर-घर संपर्क कर कोरोना की जांच करने के साथ आइसोलेशन और मेडिकल किट की सुविधा उपलब्‍ध कराई.

विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन ने योगी सरकार के कोविड मैनेजमेंट को धरातल पर परखने के लिए यूपी के ग्रामीण इलाकों में 10 हजार घरों का दौरा किया. डब्‍ल्‍यूएचओ की टीम ने खुद गांवों में कोविड मैनेजमेंट का हाल जाना. कोरोना मरीजों से उनको मिल रही चिकित्‍सीय सुविधाओं के बारे में पूछताछ की. इतना ही नहीं विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन के विशेषज्ञों ने फील्‍ड में काम कर रही 2 हजार सरकारी टीमों के काम काज की गहन समीक्षा भी की है.

डब्‍ल्‍यूएचओ ने अपनी रिपोर्ट में बताया है कि यूपी के ग्रामीण इलाकों में किस तरह योगी सरकार ने सामुदायिक केंद्रों, पंचायत भवनों और स्‍कूलों में कोरोना मरीजों की जांच और इलाज की सुविधा दे रही है. जिले के हर ब्‍लाक में कोविड जांच के लिए राज्‍य सरकार की ओर से दो मोबाइल वैन तैनात की गई है. कोरोना के खिलाफ महाअभियान के लिए स्‍वास्‍थ्‍य विभाग की 141610 टीमें दिन रात काम कर रही हैं. कोविड मैनेजमेंट की इस पूरे अभियान पर नजर रखने के लिए योगी सरकार ने 21242 पर्यवेक्षकों की तैनाती की है.

Youtube Video

ग्रामीण इलाकों में कोविड समेत अन्‍य संक्रामक बीमारियों की रोकथाम के लिए योगी सरकार ने बड़े स्‍तर पर स्‍वच्‍छता अभियान चला रखा है. 60 हजार से अधिक निगरानी समितियों के 4 लाख सदस्‍य गांवों में घर घर पहुंच कर न सिर्फ कोविड के प्रति लोगों को जागरूक कर रहे हैं बल्कि साफ, सफाई और स्‍वास्‍थ्‍य सुविधाओं से भी जोड़ रहे हैं. राज्‍य में इस तरह का अभियान चलाने वाला यूपी देश का पहला राज्‍य है.

गौरतलब है कि कोरोना की पहली लहर के दौरान भी योगी सरकार के शानदार कोविड मैनेजमेंट की डब्‍ल्‍यूएचओ समेत देश और दुनिया में जमकर तारीफ हुई थी.

11 मई (मंगलवार) तक चलाए गए स्वच्छता अभियान का ब्यौरा




  • कुल ग्राम पंचायतों की संख्या – 58194

  • कुल राजस्व ग्रामों की संख्या – 97509

  • सफाई अभियानों में मंगलवार को उपस्थित सफाई कर्मियों की संख्या - 80474

  • राजस्व ग्रामों की संख्या जहां मंगलवार को सफाई हुई – 59759

  • राजस्व ग्रामों की संख्या जहां मंगलवार को सैनीटाइजेशन किया गया – 24149

  • राजस्व ग्रामों की संख्या जहां मंगलवार को फोगिंग किया गया - 11890

  • कुल आयोजित सफाई अभियानों की (राजस्व ग्राम वार) क्रमिक संख्या – 1767616


निगरानी समितियों द्वारा कोविड प्रबंधन के लिए मंगलवार तक किए गए कार्य


  • कुल गठित निगरानी समितियों की संख्या – 60569

  • कुल कन्टेन्मेंट जोन की संख्या – 25577

  • आइसोलेट किए गए व्यक्तियों की संख्या – 171985

  • वितरित मेडिकल किट की संख्या – 183231

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज