लाइव टीवी

जानिए आखिर घोषणा के 48 घंटे बाद भी यूपी कांग्रेस अध्यक्ष की कुर्सी क्यों है खाली

MANISH KUMAR | News18 Uttar Pradesh
Updated: October 9, 2019, 5:07 PM IST
जानिए आखिर घोषणा के 48 घंटे बाद भी यूपी कांग्रेस अध्यक्ष की कुर्सी क्यों है खाली
उत्तर प्रदेश कांग्रेस के नए अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने अब तक पद ज्वाइन नहीं करने का कारण बताया है.

48 घंटे का समय बीत चुका है लेकिन, सभी की जुबान पर एक ही सवाल है. आखिर अभी तक प्रदेश अध्यक्ष बने अजय कुमार लल्लू ने चार्ज क्यों नहीं लिया? इसका जवाब खुद अजय कुमार लल्लू ने दिया है...

  • Share this:
लखनऊ. सवाल तो लाख टके का है. यूपी कांग्रेस कमेटी में कार्यकर्ताओं की भीड़ है लेकिन उन्हें अभी तक अपने अगुआ का दर्शनलाभ नहीं मिल पाया है. कांग्रेसियों का कई महीनों का इंतजार खत्म हुआ और नई कांग्रेस कमेटी का गठन 7 अक्टूबर की शाम को कर दिया गया. तब से लेकर ये खबर लिखे जाने तक 48 घंटे का समय बीत चुका है लेकिन, सभी की जुबान पर एक ही सवाल है. आखिर अभी तक प्रदेश अध्यक्ष (State President) बने अजय कुमार लल्लू (Ajay Kumar Lallu) ने चार्ज क्यों नहीं लिया? लल्लू प्रदेश अध्यक्ष बनाये जायेंगे इसकी चर्चा तो लम्बे समय से थी लेकिन घोषणा के बाद भी कुर्सी संभालने में इतनी देरी क्यों? ये किसी की समझ में नहीं आ रहा है. इसका जवाब खुद अजय कुमार लल्लू ने दिया है...

त्यौहार पर क्षेत्र में रहने की इच्छा ने किया ये विलंब

कुशीनगर के तमकुही राज से विधायक अजय कुमार लल्लू 11 अक्टूबर को लखनऊ आकर कांग्रेस अध्यक्ष का चार्ज संभालेंगे. घोषणा के बाद से ही वे अपनी विधानसभा में हैं. न्यूज़18 से बातचीत में लल्लू ने बताया कि तमकुही राज उनकी कर्मस्थली है. घोषणा के दिन नवमी थी और उसके अगले दिन दशहरा. ऐसे में त्यौहार के समय अपने विधानसभा क्षेत्र में रहना चाहते थे. इस दौरान छुट्टियां भी थीं. लिहाजा वे लखनऊ आकर आनन-फानन में चार्ज लेने के बजाय तमकुही राज में अपने लोगों के साथ रहना चाहते थे. अजय कुमार लल्लू ने बताया कि वे 11 को लखनऊ आयेंगे और उसी दिन प्रदेश अध्यक्ष का चार्ज लेंगे.
चार्ज न लेने के पीछे कयास ये लगाये जा रहे थे कि प्रियंका गांधी की उपस्थिति में अजय कुमार लल्लू चार्ज लेंगे. हालांकि कुछ कांग्रेसी सूत्रों ने बताया कि प्रियंका गांधी का संभावित यूपी दौरा 14 अक्टूबर से है और वे शायद ही लखनऊ आयें लेकिन, अजय कुमार 11 अक्टूबर को ही चार्ज लेंगे. ऐसे में इस कयास में कोई दम दिखाई नहीं देता है.

दो प्रशासन प्रभारी की नियुक्ति के पीछे है ये राज...

इस पूरे मसले से जुड़ी बड़ी बात ये है कि घोषणा के तुरंत बाद अजय कुमार लल्लू ने प्रदेश अध्यक्ष के तौर पर काम करना शुरू कर दिया है. इसकी नज़ीर है एक चिट्ठी. मीडिया में इसके आने के बाद खासी चर्चा भी हो रही है. प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू की ओर से दो प्रशासन प्रभारी नियुक्त किये गये हैं. बकायदा प्रदेश अध्यक्ष के लेटर पैड और प्रदेश अध्यक्ष के दस्तखत से अजय कुमार लल्लू ने अनूप कुमार गुप्ता और सिद्धार्थ प्रिय श्रीवास्तव को प्रशासन प्रभारी नियुक्त किया है. लोग पूछ रहे हैं कि प्रदेश अध्यक्ष का चार्ज लिये बिना लल्लू ने दो लोगों की नियुक्ति कैसे कर दी?

स्वागत की धुआंधार तैयारी
Loading...

चर्चा इस बात की भी है कि अजय कुमार लल्लू के लखनऊ चार्ज लेने आते समय कांग्रेसी गर्मजोशी से उनका स्वागत करेंगे. इसी स्वागत की तैयारियों को देखने के लिए जल्दी-जल्दी दो प्रशासन प्रभारियों की नियुक्ति की गयी है. प्लान ये है कि अजय कुमार लल्लू का कुशीनगर से लेकर लखनऊ तक कई जगहों पर स्वागत समारोह आयोजित किये जायेंगे. प्रशासन प्रभारियों की ये जिम्मेदारी होती है कि वे इस तरह के कार्यक्रमों को सही तरीके से मैनेज करवायें. साथ ही दफ्तर के खर्चे बर्चे को भी देखते रहें.

संगठन में पहली बार युवाओं  के साथ वरिष्ठों से तालमेल की कोशिश

बता दें कि 7 अक्टूबर को यूपी कांग्रेस कमेटी की घोषणा की गयी थी. इसमें 41 लोगों को उपाध्यक्ष, महासचिव और सचिव बनाया गया है. साथ ही 18 नामचीन कांग्रेसी नेताओं की एक सलाहकार परिषद भी बनायी गई है, जो प्रियंका गांधी को सलाह देगी. इसके अलावा 8 वरिष्ठ कांग्रेसी नेताओं को रणनीति और प्लानिंग करने वाले ग्रुप में रखा गया है.

बीजेपी की आंधी में भी लल्लू का परचम रहा बुलंद

बता दें कि अजय कुमार लल्लू कुशीनगर की तमकुही राज विधानसभा से लगातार दूसरी बार विधायक बने हैं. 2012 में उन्होंने भाजपा को 8 हजार वोटों से हराया था. उस इलाके में उनकी लोकप्रियता का अंदाजा इस बात से भी लगाया जा सकता है कि 2017 की भाजपा की आंधी में लल्लू ने न सिर्फ अपनी सीट बचायी बल्कि उनकी जीत का अंतर 2012 के मुकाबले 2017 में 10 हजार बढ़ भी गया.

ये भी पढ़े:

UP उपचुनाव: ताकत के बावजूद इन 5 सीटों पर BJP को लगाना पड़ रहा है ज्यादा जोर

झांसी एनकाउंटर पर बीजेपी बोली- अपराधियों के साथ हैं अखिलेश यादव

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 9, 2019, 5:07 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...