थाने पहुंच कर पत्‍नी ने की शिकायत- करवाचौथ पर पति नहीं दिला रहे मैचिंग की साड़ी और लिपस्टिक

महिला की इस अजीबोगरीब शिकायत को सुनने के बाद वहां पर तैनात महिला पुलिसकर्मी सकते में आ गई. (सांकेतिक फोटो)
महिला की इस अजीबोगरीब शिकायत को सुनने के बाद वहां पर तैनात महिला पुलिसकर्मी सकते में आ गई. (सांकेतिक फोटो)

महिला का कहना है कि जब घर में सरोई गैस खत्म हो जाती है, तो उनके पति (Husband) समय पर सिलेंडर भी लाकर नहीं देते हैं.

  • Share this:
चन्दौली. योगी आदित्यनाथ की सरकार ने प्रदेश में महिला उत्पीड़न के बढ़ते मामलों की त्वरित सुनवाई और समाधान के लिए सभी थानों में महिला हेल्प डेस्क (Women Help Desk) स्थापित किया है. मिशन शक्ति के तहत स्थापित किए गए इस महिला हेल्प डेस्क की शुरुआत हुए अभी कुछ दिन ही हुए हैं. लेकिन, महिलाएं रोजाना अपनी समस्याओं को लेकर यहां पर पहुंच रही हैं और शिकायत दर्ज करा रही हैं. इनमें ज्यादातर मामले घरेलू हिंसा से संबंधित सामने आ रहे हैं. चंदौली के सदर कोतवाली में एक अनोखा मामला सामने आया है. यहां महिला हेल्प डेस्क पर शिकायतकर्ता महिला ने पति पर आरोप लगाया कि करवाचौथ पर उन्‍हें मैचिंग की साड़ी, लिपस्टिक, चूड़ी (Matching Saree, Lipstick And Bangle) और मेकअप का सामान खरीद कर नहीं दे रहे हैं. ऐसे में उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाए.

साथ ही महिला ने शिकायत करते हुए कहा है उनके पति आए दिन उन्‍हें प्रताड़ित करते रहते हैं. वह कोई भी काम समय पर नहीं करते हैं. महिला की मानें तो जब घर में रसोई गैस खत्म हो जाती है, तो पति समय पर सिलेंडर लाकर नहीं देते हैं. वे उपले और लकड़ी पर खाना बनाने के लिए कहते हैं. महिला ने वहां मौजूद पुलिसकर्मियों को बताया कि पति की इन हरकतों से वह तंग आ गई हैं और चाहती हैं कि पुलिस इस मामले में उचित कार्रवाई करे.

महिला पुलिसकर्मी सकते में आ गईं
महिला की इस अजीबोगरीब शिकायत को सुनने के बाद वहां पर तैनात महिला पुलिसकर्मी सकते में आ गईं. हालांकि, बाद में महिला हेल्प डेस्क पर तैनात महिला पुलिसकर्मियों ने उन्‍हें समझाया और उनकी काउंसलिंग की. साथ ही उनके पति को भी फोन पर समझाया. इसके बाद महिला वापस अपने घर चली गई. इस बाबत चन्दौली के प्रभारी निरीक्षक अशोक कुमार मिश्रा ने बताया कि एक महिला अपने पति की शिकायत लेकर आई थी. उनका कहना था कि उनका पति उन्‍हें मैचिंग की साड़ी, लिपिस्टिक और चूड़ी नहीं दिलवाता है. जिस पर महिला हेल्प डेस्क कर्मियों ने उसे समझा-बुझाकर घर वापस भेज दिया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज