UP: योगी सरकार के तीन मंत्रियों का इस्तीफा मंजूर, इनको मिला नया प्रभार

उत्तर प्रदेश के योगी सरकार में मंत्रियों के इस्तीफे से खाली हुए विभागों का बंटवारा हो गया है. 4 मंत्रियों को वर्तमान कार्यभार के साथ अतिरिक्त प्रभार आवंटित किए गए हैं.

News18 Uttar Pradesh
Updated: June 17, 2019, 6:27 PM IST
UP: योगी सरकार के तीन मंत्रियों का इस्तीफा मंजूर, इनको मिला नया प्रभार
राज्यपाल राम नाईक ने योगी सरकार के तीन मंत्रियों के इस्तीफों को स्वीकार कर लिया है. (फाइल फोटो)
News18 Uttar Pradesh
Updated: June 17, 2019, 6:27 PM IST
लोकसभा चुनाव में जीत दर्ज कर संसद पहुंचने वाले उत्तर प्रदेश के योगी सरकार में मंत्रियों के इस्तीफे काे राज्यपाल ने मंजूर कर लिया है. इसके साथ ही योगी सरकार ने इन मंत्रियों के विभागों का बंटवारा भी कर दिया है. 4 मंत्रियों को वर्तमान कार्यभार के साथ अतिरिक्त विभाग आवंटित किए गए हैं. इसके साथ ही राज्यपाल ने पशुधन, लघु सिंचाई एवं मत्स्य विभाग के मंत्री एसपी बघेल, महिला कल्याण-परिवार कल्याण-मातृ एवं शिशु कल्याण और पर्यटन विभाग की मंत्री प्रो रीता बहुगुणा जोशी और खादी एवं ग्रामोद्योग, रेशम उद्योग, वस्त्रोद्योग, सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम और निर्यात प्रोत्साहन विभाग के मंत्री सत्यदेव पचौरी के त्याग पत्रों को स्वीकार कर लिया है.

इन्हें मिला है नया प्रभार
राज्यपाल ने महिला कल्याण एवं पर्यटन विभाग मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को उनके वर्तमान कार्य-प्रभार के साथ आवंटित किया है. राज्यपाल ने मुख्यमंत्री के प्रस्ताव पर मंत्री लक्ष्मी नारायण चौधरी को पशुधन एवं मत्स्य विभाग, मंत्री धर्मपाल सिंह को लघु सिंचाई विभाग, मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह को परिवार कल्याण-मातृ एवं शिशु कल्याण विभाग, मंत्री सतीश महाना को खादी एवं ग्रामोद्योग, रेशम उद्योग, वस्त्रोद्योग, सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम और निर्यात प्रोत्साहन विभाग का कार्य-प्रभार उनके वर्तमान कार्य-प्रभार के साथ अतिरिक्त में आवंटित किया है.

अब संस्कृत में भी जारी होगा सीएम का प्रेस रिलीज

मंत्रियों के विभाग बंटवारे भी राज्य में आज हलचल भरा दिन रहा. इसी क्रम में मुख्यमंत्री का प्रेस रिलीज हिंदी के अलावा अब संस्कृत में भी जारी होगा. इस कड़ी में सोमवार को सीएम कार्यालय ने संस्कृत में प्रेस रिलीज जारी करके इसकी शुरुआत कर दी है. इससे पहले संस्कृत भारती की ओर से आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान सीएम योगी ने कहा कि संस्कृत भारत के डीएनए में बसी है. अब यह पुरोहित कार्य तक सीमित है. विज्ञान की सीमा जहां खत्म होती है, वहां से आगे का मार्ग संस्कृत प्रशस्त करता है. भारतीयकरण नहीं करने से विद्या कमजोर हुई है.

ये भी पढ़ें-

PM मोदी यूपी विधानसभा चुनाव से पहले करना चाहते हैं ये काम...
Loading...

आगरा के SSP का फरमान, सोशल मीडिया के इस्तेमाल पर लगाया बैन

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsAppअपडेट्स
First published: June 17, 2019, 5:58 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...