Home /News /uttar-pradesh /

यूपी में शुरू हो सकती है शराब की होम डिलीवरी, तैयारी कर रही योगी सरकार

यूपी में शुरू हो सकती है शराब की होम डिलीवरी, तैयारी कर रही योगी सरकार

इस राज्य में सस्ती हुई शराब, सरकार ने Special COVID फीस 50% से घटाकर 15% की

इस राज्य में सस्ती हुई शराब, सरकार ने Special COVID फीस 50% से घटाकर 15% की

इलाहाबाद हाईकोर्ट (Allahabad High Court) में शराब की होम डिलीवरी को लेकर एक याचिका दायर की गई है. ऐसे में योगी सरकार कोर्ट के आदेश से पहले ही इस दिशा में कदम उठाने की कवायद में है.

    लखनऊ. लॉकडाउन के तीसरे चरण में (Lockdown 3.0) में शराब (Liquor) की बिक्री शुरू करने की अनुमति दे दी गई है. अब योगी सरकार शराब की होम डिलीवरी की सुविधा देने पर विचार कर रही है. दरअसल, शराब की बिक्री शुरू करने का मामला इलाहाबाद हाईकोर्ट में विचाराधीन है और इस मामले में सरकार को 12 मई तक नोटिस का जवाब भी देना है. फैसले से पहले ही सरकार अब मदिरा के शौकीनों के घर तक शराब की डिलीवरी करने पर विचार कर रही है.

    आबकारी मंत्री रामनरेश अग्निहोत्री ने न्यूज18 से बातचीत में बताया कि सरकार दूसरे राज्यों में शुरू की गई इस व्यवस्था का अध्ययन कर रही है. अगर वहां यह सफल होता है तो यूपी में भी होम डिलीवरी की व्यवस्था पर विचार किया जा सकता है. आबकारी मंत्री ने कहा कि जिन राज्यों में ऑनलाइन की बिक्री हुई है, उन राज्यों के परिक्षण के बाद ऑनलाइन बिक्री का विचार करेंगे. उन्होंने बताया कि शुरुआती दौर में सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन हुआ था, लेकिन अब नहीं हो रहा है. शराब की ओवर रेटिंग की शिकायत पर उन्होंने कहाकी सभी कमिश्नर को निर्देश दिए गए हैं. जहां ओवर रेटिंग की शिकायत मिले वहां कार्रवाई की जाए.

    होम डिलीवरी को लेकर दायर है जनहित याचिका
    गौरतलब है कि 4 मई को जैसे ही शराब की बिक्री शुरू हुई, तो खरीदारों का हुजूम दुकानों पर उमड़ पड़ा. इस दौरान कई जगह से सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन करने वाली तस्‍वीरें सामने आईं. ऐसे में कोरोना संक्रमण के खतरे को देखते हुए वरिष्ठ अधिवक्ता सुनील चौधरी ने हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस और रजिस्ट्रार जनरल को ऑनलाइन पात्र भेजकर शराब की दुकानों को खोलने के फैसले पर तुरंत रोक लगाने की मांग की. साथ ही अर्थव्यवस्था को ध्यान में रखते हुए कोर्ट से शराब की होम डिलीवरी कराने का निर्देश देने की अपील भी की गई. इस मामले में कोर्ट ने पत्र को जनहित याचिका के तौर पर स्वीकार करते हुए योगी सरकार से 12 मई तक जवाब तलब किया है. अब कोर्ट के निर्देश से पहले ही सरकार शराब की होम डिलीवरी पर विचार कर रही है.

    ये भी पढ़ें:

    लखनऊ: विमान से बाहर आते ही भावुक हो गया यात्री, धरती को पहले चुमा

    KGMU में सफल प्लाज्मा थेरेपी के बाद कोरोना पॉजिटिव डॉक्टर की हार्ट अटैक से मौत

    आपके शहर से (लखनऊ)

    Tags: Lucknow news, Yogi government

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर