Home /News /uttar-pradesh /

उत्तर प्रदेश : योगी आदित्यनाथ का फैसला - राज्य में लगेंगे 125 ऑक्सीजन प्लांट, सीएसआर फंड होगा खर्च

उत्तर प्रदेश : योगी आदित्यनाथ का फैसला - राज्य में लगेंगे 125 ऑक्सीजन प्लांट, सीएसआर फंड होगा खर्च

सीएम योगी आदित्यनाथ की कोविड जांच रिपोर्ट निगेटिव आई है. (File Photo)

सीएम योगी आदित्यनाथ की कोविड जांच रिपोर्ट निगेटिव आई है. (File Photo)

सीएम योगी आदित्यनाथ ने आबकारी और चीनी उद्योग एवं गन्ना विकास विभाग को दिया निर्देश कि जिला स्तर पर कम से कम दो सीएचसी और एक जिला अस्पताल में ऑक्सीजन प्लांट लगवाएं.

    लखनऊ. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (cm Yogi adityanath) ने ऑक्सीजन (oxygen) की उपलब्धता बढ़ाने के लिए बड़ा फैसला किया है. उनके निर्देश पर प्रदेश के लगभग 50 अति प्रभावित जिलों और हर जिले में कम से कम दो कम्यूनिटी हेल्थ सेंटर (CHC) में ऑक्सीजन प्लांट (oxygen plants) लगाए जाएं. इस तरह योगी के निर्देश के मुताबिक, प्रदेश में करीब 125 ऑक्सीजन प्लांट लगाए जाएंगे. इसके लिए उन्होंने आबकारी और चीनी उद्योग एवं गन्ना विकास विभाग को निर्देशित किया है. इसे अमलीजामा पहनाने के लिए आबकारी और चीनी उद्योग एवं गन्ना विकास विभाग ने तत्काल कार्यवाही शुरू कर दी है.

    सीएसआर फंड से लगेंगे ऑक्सीजन प्लांट

    सीएम योगी प्रदेश में ऑक्सीजन की उपलब्धता बढ़ाने के सभी विकल्पों पर कार्य कर रहे हैं. सीएम योगी ने आबकारी विभाग और चीनी उद्योग एवं गन्ना विकास विभाग को निर्देशित किया है कि सभी आबकारी कंपनियों, सभी चीनी मिलों और उनके अधीन फर्टिलाइजर और पेस्टिसाइड बेचने वाली कंपनियों से कॉरपोरेट सोशल रिस्पॉन्सिबिलिटी (CSR) फंड के तहत ऑक्सीजन प्लांट लगाने के लिए तीव्र गति से प्रयास किया जाए. उन्होंने निर्देश दिए हैं कि सभी जिले के संबंधित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र और सभी जिला अस्पतालों में उचित क्षमता के ऑक्सीजन प्लांट्स तत्काल लगाए जाएं. इसके लिए आबकारी और चीनी उद्योग एवं गन्ना विकास विभाग प्रयास करें. साथ ही यथाशीघ्र डीएम और सीएमओ के परामर्श से जिले के ज्यादा आवश्यकता वाले सीएचसी चिह्नित करें और बड़े प्लांटों को जिला अस्पतालों में स्थापित कराएं.

    प्लांट के लिए सीएचसी और अस्पतालों की सूची मांगी

    प्रमुख सचिव आबकारी और चीनी उद्योग एवं गन्ना विकास विभाग संजय आर भूसरेड्डी ने बताया कि सीएम योगी के निर्देश के बाद तत्काल प्रभाव से कार्यवाही शुरू कर दी गई है. प्रदेश के सभी डीएम और सीएमओ से सबसे जरूरतमंद सीएचसी और अस्पताल की सूची मांग ली गई है. इसी के आधार पर कार्यवाही शुरू की गई है. हमारी कोशिश है कि जल्द से जल्द उन जिलों में ऑक्सीजन प्लांट की स्थापना कराएं, जहां जरूरत ज्यादा है.

    छोटे अस्पतालों में पोर्टेबल टाइप या ऑक्सीजन कंसंट्रेटर लगाएं : सीएम

    सीएम योगी ने निर्देश दिया है कि छोटे अस्पतालों में तात्कालिक जरूरतों को देखते हुए पोर्टेबल टाइप या ऑक्सीजन कंसंट्रेटर लगाए जाएं, ताकि लोगों को जल्द से जल्द इसका लाभ मिल सके. सीएचसी स्तर पर करीब 30 बेड होते हैं और यहां पर ऑक्सीजन प्लांट के लिए अनुमानित खर्च 40 लाख रुपये है. ऐसे ही जिले स्तर पर बड़े अस्पतालों के लिए बेडों की संख्या के अनुसार एक से दो करोड़ रुपये का खर्च आएगा.

    आपके शहर से (लखनऊ)

    Tags: CM Yogi Adityanath, Corona epidemic, Corona Oxygen Crisis, Oxygen Plant, Uttar pradesh news

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर