Home /News /uttar-pradesh /

yogi government and samajwadi party fight seen in up assembly akhilesh yadav leader of opposition nodelsp

UP: योगी सरकार के सामने नेता प्रतिपक्ष बनकर खड़े होंगे अखिलेश, विधानसभा सचिवालय ने जारी की अधिसूचना

विधानसभा सचिवालय ने यादव को नेता प्रतिपक्ष के रूप में मान्‍यता प्रदान करते हुए अधिसूचना जारी कर दी.

विधानसभा सचिवालय ने यादव को नेता प्रतिपक्ष के रूप में मान्‍यता प्रदान करते हुए अधिसूचना जारी कर दी.

Akhilesh Yadav UP Leader of Opposition: उत्तर प्रदेश की विधानसभा 2022 में सत्ता और विपक्ष के बीच लगातार घमासान देखने को मिल सकता है. इस बार समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव खुद नेता विरोधी दल की भूमिका निभाएंगे. शनिवार को विधानसभा सचिवालय ने यादव को नेता प्रतिपक्ष के रूप में मान्‍यता प्रदान करते हुए अधिसूचना जारी कर दी.

अधिक पढ़ें ...

लखनऊ. उत्तर प्रदेश की विधानसभा 2022 (UP Assembly Election Result 2022) में सत्ता और विपक्ष के बीच लगातार घमासान देखने को मिल सकता है. इस बार समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) खुद नेता विरोधी दल की भूमिका निभाएंगे. शनिवार को विधानसभा सचिवालय ने यादव को नेता प्रतिपक्ष के रूप में मान्‍यता प्रदान करते हुए अधिसूचना जारी कर दी.

शनिवार को ही समाजवादी पार्टी के मुख्यालय में अखिलेश यादव को समाजवादी पार्टी विधानमंडल दल का नेता चुना गया. इसके कुछ ही घंटों बाद विधानसभा के प्रमुख सचिव प्रदीप कुमार दुबे ने यहां जारी एक बयान में कहा कि विधानसभा सदस्य एवं सपा विधानमंडल दल के नेता अखिलेश यादव को 26 मार्च से उत्तर प्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष के रूप में अभिज्ञात किया गया है.

उल्लेखनीय है कि 18वीं विधानसभा के निर्वाचन की प्रक्रिया सात चरणों में पूरी हुई और 10 मार्च को इसका परिणाम आया. सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी ने राज्य विधानसभा की 403 सीटों में सहयोगी दलों समेत कुल 273 सीटें प्राप्त की, जबकि समाजवादी पार्टी ने अपने सहयोगियों के साथ 125 सीटों पर जीत दर्ज की.

UP: मुनादी होते ही तख्ती लटकाकर थाने पहुंचा अपराधी, बोला- ‘मैं सरेंडर कर रहा हूं, गोली मत मारो’

अखिलेश यादव मैनपुरी जिले की करहल विधानसभा सीट से केंद्रीय मंत्री प्रोफेसर एसपी सिंह बघेल को हराकर निर्वाचित हुए हैं. करहल से विधानसभा सदस्य निर्वाचित होने के बाद अखिलेश यादव ने गत दिनों संसद सदस्यता से इस्तीफा दे दिया था. यादव आजमगढ़ संसदीय क्षेत्र से 2019 में निर्वाचित हुए थे. विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष के रूप में यादव राज्य के मुद्दों को प्राथमिकता से उठाएंगे. राजनीतिक विश्लेषकों का कहना है कि चुनाव के दौरान भाजपा के शीर्ष नेताओं के निशाने पर रहे अखिलेश यादव विधानसभा में राज्य के मुद्दों को लेकर सरकार की घेराबंदी करेंगे.

उल्लेखनीय है कि पिछली (17वीं) विधानसभा में भी समाजवादी पार्टी मुख्य विपक्षी दल के रूप में थी और बलिया जिले की बांसडीह सीट से निर्वाचित राम गोविंद चौधरी नेता विरोधी दल थे, लेकिन इस बार चौधरी चुनाव में पराजित हो गये.

Tags: Akhilesh yadav, Lucknow news, Samajwadi party, UP news, Yogi adityanath

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर