UP: कोरोना काल में काम कर रहे पुलिसकर्मियों को बड़ी राहत, योगी सरकार ने उठाया ये कदम

कोरोना काल में काम करने वाले पुलिसकर्मियों को बड़ी राहत (File photo)

कोरोना काल में काम करने वाले पुलिसकर्मियों को बड़ी राहत (File photo)

यूपी के कुछ जनपदों के पुलिस विभाग (UP Police Department) ने अपने संसाधनों से अधिक संख्या में बेडों की व्यवस्था की है.

  • Share this:

लखनऊ. कोरोना संक्रमण (Corona Infection) के खिलाफ जंग में बड़ी भूमिका निभाने वाली यूपी पुलिस, पीएसी के जवान और जीआरपी कर्मियों को बीमारी से बचाने के लिये योगी सरकार (Yogi Government) शुरुआत से बड़े प्रयास कर रही है. सरकार के निर्देश पर पुलिसकर्मियों और संक्रमित होने वाले पीएसी के जवानों को तत्काल इलाज की सुविधा दी जा रही है. प्रदेश के 66 जनपदों की पुलिस लाइनों में और पीएसी की कुल 34 वाहिनियों में कोविड केयर सेंटर की स्थापना की गई है.

सरकार के निर्देश पर फ्रंटलाइन पर काम करने वाले 'कर्मयोगियों' (पुलिसकर्मी और पीएसी जवान) के इलाज के लिये पुलिस लाइनों में कुल 2993 बेड के कोविड केयर सेंटर बनाए गये हैं, जिनमें से 299 ऑक्सीजन वाले बेड हैं. जबकि पीएसी वाहिनियों में जवानों को बेहतर इलाज की सुविधा देने के लिये कुल 628 बेड उपलब्ध कराए गये हैं. इनमें से 45 ऑक्सीजनयुक्त बेड हैं. कोविड केयर-सेंटर में कुल 589 पुलिसकर्मी भर्ती हुए जिनमें से 244 पुलिसकर्मी निगेटिव होकर डिस्चार्ज हो चुके हैं.

जबकि 322 पुलिसकर्मी वर्तमान में इलाज प्राप्त कर रहे हैं. जीआरपी की ओर से 107 बेडों और प्रशिक्षण निदेशालय द्वारा 236 बेडों का कोविड केयर सेंटर संचालित किया जा रहा है. सरकार के निर्देशों पर तत्काल दी जा रही इलाज की सुविधा से पुलिसकर्मी और पीएसी जवानों बीमारी को मात देकर स्वस्थ हो रहे हैं.

हमीरपुर, सिद्धार्थनगर, उन्नाव में बने आइसोलेशन वार्ड
सरकार के निर्देश पर यूपी पुलिस की ओर से बनाए गये कोविड केयर सेंटरों के लिये पुलिस लाइन में जगह नहीं मिलने पर उनको कमिश्नरेट पुलिस लाइनों या फिर स्टेडियमों में संचालित जा रहा है. हमीरपुर, सिद्धार्थनगर व उन्नाव में पुलिस लाइन्स के बैरकों को आइसोलेशन वार्ड के रूप में स्थापित किया गया है. वाराणसी ग्रामीण में पुलिस लाइन न होने के कारण कमिश्नरेट पुलिस लाइन में कोविड केयर सेंटर संचालित किया जा रहा है.

गोरखपुर, अलीगढ़ और हरदोई में 110 बेड के कोविड सेंटर

यूपी के कुछ जनपदों के पुलिस विभाग ने अपने संसाधनों से अधिक संख्या में बेडों की व्यवस्था की है. इनमें गोरखपुर में 200 बेड, अलीगढ़ में 120 बेड, हरदोई में 110 बेड, गाजियाबाद में 40 ऑक्सीजनयुक्त सहित 90 बेड बढ़ाए गये हैं. बहराइच में 60 बेड, मुजफ्फरनगर में 16 ऑक्सीजनयुक्त सहित 66 बेड, लखनऊ कमिश्नरेट में 20 ऑक्सीजन वाले बेड सहित 57 बेड हो गये हैं. मेरठ में सभी 30 ऑक्सीजनयुक्त बेड, गौतमबुद्धनगर कमिश्नरेट में 10 ऑक्सीजनयुक्त सहित 52 बेड, कानपुर कमिश्नरेट में सभी 16 ऑक्सीजनयुक्त बेड और वाराणसी कमिश्नरेट में 54 बेडों का कोविड केयर सेंटर संचालित किया जा रहा है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज