• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • Unlock 1.0: ठेला-खोमचा लगाने वालों को रोजगार देने की तैयारी में योगी सरकार, जल्द लागू होगी व्यवस्था

Unlock 1.0: ठेला-खोमचा लगाने वालों को रोजगार देने की तैयारी में योगी सरकार, जल्द लागू होगी व्यवस्था

स्ट्रीट वेंडरों को रोजगार देने की तैयारी में योगी सरकार (फ़ाइल फोटो)

स्ट्रीट वेंडरों को रोजगार देने की तैयारी में योगी सरकार (फ़ाइल फोटो)

उन्होंने कहा कि लोगों को रोजगार दिलाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) का जो आर्थिक पैकेज है उसका ज्यादा से ज्यादा लाभ लेने के लिए गंभीरता से कार्य करना होगा.

  • Share this:
    लखनऊ. कोरोना महामारी (Coronavirus Pandemic) से जंग में सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) के काम की तारीफ़ न सिर्फ देश भर में हो रही है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि उत्तर प्रदेश में कोविड 19 के संक्रमण के प्रसार पर प्रभावी नियंत्रण है. उन्होंने कहा कि समाज के गरीब और कमजोर वर्गों को राहत पहुंचाने के लिए प्रदेश सरकार द्वारा किए गए प्रबंधों के बेहतर नतीजे मिल रहे हैं. अपर मुख्य सचिव गृह एवं सूचना अवनीश कुमार अवस्थी ने मंगलवार को बताया कि मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी स्ट्रीट वेंडरों (Street vendors)को रोजगार देने के सम्बन्ध में एक योजना जल्द ही प्रदेश में लागू होगी.

    उन्होंने कहा कि लोगों को रोजगार दिलाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का जो आर्थिक पैकेज है उसका ज्यादा से ज्यादा लाभ लेने के लिए गंभीरता से कार्य करना होगा. उन्होंने कहा कि सरकार पटरी दुकानदारों को ऋण देने के साथ-साथ डिजिटल पेमेंट करने के लिए भी प्रोत्साहित करेगी. जिससे सभी लोगों में बचत करने की एक भावना बढ़ेगी. कारपेन्टर आदि सभी श्रेणी के लोगों को ऋण दिलाने के सम्बन्ध में कार्ययोजना बनाकर इसे लागू करने के भी मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए हैं.

    अपर मुख्य सचिव गृह ने बताया कि मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में संक्रमण की स्थिति कम होने की वजह से यह राज्य के लिए एक अच्छा अवसर है. उन्होंने कहा कि प्रदेश में विभिन्न विभागों में श्रमिकों के लिए रोजगार के अवसर सृजित करने, स्ट्रीट वेंडरों को कार्य उपलब्ध कराने और MSME व बड़े उद्योगों में रोजगार सुलभ कराने के लिए वृहद कार्यक्रम तैयार किया जाए. उन्होंने कहा कि कृषि व संबंधित क्षेत्रों, MSME सेक्टर और बड़े उद्योगों में प्रदान किए जा सकने वाले रोजगार के संबंध में सर्वे कराया जाए.

    इस सर्वेक्षण में यह भी पता लगाया जाए कि लगातार 6 माह और अधिक समय तक कितने लोगों को रोजगार प्रदान किया जा सकता है. उन्होंने कहा कि एक ऐसा सॉफ्टवेयर विकसित किया जाए, जिसके माध्यम से यह जानकारी मिल सके कि कितने व्यक्तियों को रोजगार उपलब्ध हुआ और अभी और कितने लोगों को रोजगार दिया जा सकता है.

    यूपी में कोरोना के 4365 एक्टिव केस, 301 की मौत

    प्रमुख सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि प्रदेश के 75 जनपदों 4365 कोरोना के मामले एक्टिव हैं. उन्होंने बताया कि अब तक 6669 मरीज पूरी तरह से उपचारित हो चुके हैं. वहीं अब तक 301 संक्रमित मरीजों की मौत हो चुकी है.

    ये भी पढे़ं:

    UP: ढाई महीने बाद आज से खुल गया लखनऊ का चिड़ियाघर, इन शर्तों के साथ मिलेगी एंट्री

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज