Lucknow news

लखनऊ

अपना जिला चुनें

यूपी में 4 साल में रोजगार की बहार, योगी सरकार ने जारी किए आंकड़े, जानें कौन सा विभाग टॉप पर रहा

यूपी में 4 साल में रोजगार की बहार, योगी सरकार ने जारी किए आंकड़े, जानें कौन सा विभाग टॉप पर रहा

यूपी सरकार ने पिछले चार साल में नौकरी देने के आंकड़े जारी किए हैं.

योगी सरकार (Yogi Government) ने अपने पिछले चार साल में उत्‍तर प्रदेश के लोगों को नौकरी देने के विभागावार आंकड़े जारी किए हैं. जबकि अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) और कांग्रेस ने इन आंकड़ों को एक सिरे से खारिज कर दिया है.

SHARE THIS:
लखनऊ. उत्तर प्रदेश की योगी सरकार (Yogi Government) के 4 साल का कार्यकाल 19 मार्च को पूरा होने जा रहा है. ऐसे में जहां एक तरफ अलग-अलग मोर्चों पर सरकार अपनी पीठ थपथपाती दिखायी दे रही है, तो वहीं विपक्ष सरकार के कामकाज के आकलन के जरिए 2022 के चुनाव की गोटियां सेट करने में जुटा है. वैसे तो विपक्ष सरकार को लगभग हर मोर्चे पर विफल बता रहा है, लेकिन रोजगार (Employment) के मुद्दे पर सरकार की घेराबंदी मुख्य विपक्षी दल समाजवादी पार्टी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष अलिलेश यादव (Akhilesh Yadav) के अलावा कांग्रेस की तरफ से प्रियंका गांधी भी करती नजर आ चुकी हैं.

ऐसे में बड़ा सवाल ये अपने लोक संकल्प पत्र के वादे में बीजेपी की तरफ से जितने रोजगार का सपना दिखाया था वो सरकार के 4 साल पूरे होने पर कितना परवान चढ़ पाया है. जवाब के तौर पर सरकार ने भी आंकड़ों का खर्रा तैयार कर लिया है जिसके तहत विभागावार रोजगार के आंकड़े गिनाए जा रहे हैं. आप भी देखिए –

यूपी में विभागवार भर्ती
पुलिस विभाग -137253
बेसिक शिक्षा–121000
राष्‍ट्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मिशन-28622
यूपी लोक सेवा आयोग–27168
उत्‍तर प्रदेश अधीनस्‍थ चयन बोर्ड-19917
चिकित्‍सा स्‍वास्‍थ्‍य एवं परिवार कल्‍याण-8556
माध्‍यमिक शिक्षा विभाग–14436
यूपीपीसीएल–6446
उच्‍च शिक्षा–4988
चिकित्‍सा शिक्षा विभाग– 1112
सहकारिता विभाग–726
नगर विकास–700
सिंचाई एवं जल संसाधन-3309
वित्‍त विभाग–614
तकनीकी शिक्षा–365
कृषि-2059
आयुष-1065
कुल - 390194



इसके अलावा योगी सरकार ने विभिन्‍न विभागों में 86000 पदों पर पर भर्ती की प्रक्रिया जारी होने की बात कही है. इसके बावजूद विपक्ष योगी सरकार पर लगातार निशाना साध रहा है.

सरकार ने सेट किया 2022 का एजेंडा
आंकड़े जारी करने के साथ ही सरकार ने मिशन रोजगार के तहत 2022 के चुनाव का एजेंडा भी सेट कर लिया है. यूपी सरकार के मंत्री मोहसिन रजा का कहना है कि पिछली सरकारों में सारी भर्तियां भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ जाती थीं, लेकिन अब योगी सरकार में हर भर्ती की प्रक्रिया पारदर्शी है और हर नौजवान को उसकी दक्षता के अनुरूप रोजगार भी दिया जा रहा है. वहीं विपक्ष सरकार के इन आंकड़ों को एक सिरे से खारिज कर रहा है. विपक्ष का ये कहना है कि सरकार ने रोजगार के नाम पर नौजवानो को सिर्फ छला है. उनके सपनों को कुचला है. विपक्ष के आरोप प्रत्यारोप के बीच उत्तर प्रदेश की राजनीति गरम इसलिए भी है क्‍योंकि एक तरफ सरकार 4 साल का कार्यकाल पूरे होने का जश्‍न मना रही है, तो वहीं फिक्र 2022 के चुनाव की भी है जिसमें सिर्फ विपक्ष ही नहीं बल्कि जनता भी अलग अलग मुद्दों पर सरकार से काम काज का हिसाब लेगी.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

Sarkari Naukri: यूपी और उतराखंड के इन बंपर भर्तियों की लास्ट डेट नजदीक, 10वीं पास करें अप्लाई

Sarkari Naukri: यूपी और उतराखंड के इन बंपर भर्तियों की लास्ट डेट नजदीक, 10वीं पास करें अप्लाई

India Post GDS Recruitment 2021: उम्मीदवारों को ध्यान देना चाहिए कि भर्ती के लिए आवेदन की अंतिम तिथि नजदीक है. इसलिए उन्हें जल्द से जल्द भारतीय डाक की वेबसाइट पर जाकर आवेदन कर लेना चाहिए.

  • News18Hindi
  • LAST UPDATED : September 16, 2021, 17:03 IST
SHARE THIS:

नई दिल्ली. India Post GDS Recruitment 2021: उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में भारतीय डाक विभाग द्वारा आयोजित ग्रामीण डाक सेवक के पदों पर भर्ती जारी है. गौरतलब है कि इन प्रदेशों में ग्रामीण डाक सेवक के 4845 पदों पर भर्तियां निकाली गई हैं. जिनके लिए हाईस्कूल पास युवा भी आवेदन कर सकते हैं. खास बात यह है कि भर्ती के लिए किसी प्रकार की परीक्षा नहीं ली जाएगी. उम्मीदवारों का चयन केवल 10वीं की मेरिट लिस्ट के आधार पर किया जाएगा.

बता दें कि भारतीय डाक विभाग आवेदन प्रक्रिया संपन्न होने के बाद मेरिट लिस्ट जारी कर देगा. उम्मीदवारों को ध्यान देना चाहिए कि भर्ती के लिए आवेदन की अंतिम तिथि नजदीक है. इसलिए उन्हें जल्द से जल्द भारतीय डाक की वेबसाइट पर जाकर आवेदन कर लेना चाहिए.

India Post GDS Recruitment 2021: वैकेंसी डिटेल
भर्ती के लिए जारी आधिकारिक अधिसूचना के अनुसार उत्तर प्रदेश में 4264 और उत्तराखंड में 581 ग्रामीण डाक सेवक के पदों पर भर्ती निकाली गई है. अधिक जानकारी के लिए उम्मीदवार भारतीय डाक की वेबसाइट पर विजिट कर सकते हैं.

India Post GDS Recruitment 2021: महत्वपूर्ण तारीखें
आवेदन प्रक्रिया की शुरूआत- 23 अगस्त 2021
आवेदन करने की अंतिम तिथि- 22 सितंबर 2021
आवेदन फीस भरने की अंतिम तिथि- 22 सितंबर 2021
मेरिट लिस्ट जारी होने की तिथि- फिलहाल घोषित नहीं हुई है

ये भी पढ़ें-
Sarkari Naukri: इन सरकारी विभागों में निकली हैं बंपर नौकरियां,यहां देखिए डिटेल
Railway Jobs : उत्तर रेलवे में 10वीं पास के लिए 3000 से अधिक नौकरियां

AAP यूपी में लाई दिल्‍ली का फॉर्मूला, सिसोदिया का बड़ा ऐलान- हमारी सरकार बनी तो 300 यूनिट बिजली फ्री

AAP यूपी में लाई दिल्‍ली का फॉर्मूला, सिसोदिया का बड़ा ऐलान- हमारी सरकार बनी तो 300 यूनिट बिजली फ्री

Uttar Pradesh Assembly Election: उत्तर प्रदेश चुनाव से छह महीने पहले आम आदमी पार्टी ने बड़ा ऐलान किया कि उप्र में सरकार आते ही लोग अपने भारी भरकम बिजली बिल फाड़कर फेंक दें क्योंकि सबके बकाया बिजली बिल माफ कर दिए जाएंगे.

  • News18Hindi
  • LAST UPDATED : September 16, 2021, 16:45 IST
SHARE THIS:

लखनऊ. दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने गुरुवार को बड़ा ऐलान करते हुए उत्तर प्रदेश की चुनावी राजनीति में एक खलबली मचा दी. लखनऊ पहुंचे सिसोदिया ने ऐलान करते हुए कहा कि उप्र की जनता अगर आम आदमी पार्टी को वोट देती है, तो आप की सरकार बनने के 24 घंटों के भीतर घरेलू बिजली फ्री कर दी जाएगी, जिस तरह दिल्ली में केजरीवाल सरकार ने यह कीर्तिमान रचकर दिखाया है. घरेलू उपयोग के लिए 300 यूनिट तक की बिजली मुफ्त देने का ऐलान करते हुए सिसौदिया ने कहा कि यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार के कार्यकाल में लोग महंगे बिजली बिलों से परेशान हैं और खासकर किसान दुखी हैं, जिन्हें महंगी बिजली मिल रही है. सिसोदिया ने कहा कि ‘आपका वोट इस समस्या को सुलझा सकता है. अगर आप हमें वोट देंगे तो इस समस्या से निजात मिलेगी.’

सिसोदिया ने यह भी कहा कि अगर आम आदमी पार्टी सत्ता में आती है तो राज्य के हर किसान को खेती के लिए बिजली का कोई शुल्क नहीं देना होगा. बड़ा ऐलान करते हुए उन्होंने कहा, ‘चाहे जितनी भी बिजली की ज़रूरत हो, किसानों का बिजली बिल ज़ीरो आएगा.’ सिसोदिया ने कहा कि उप्र में 5 से 10 हज़ार कमाने वाले लोगों के यहां बिजली बिल लाखों रुपये के आ रहे हैं और लोग सुसाइड तक कर रहे हैं. ऐसे सैकड़ों लोग हैं, जो इस तरह से त्रस्त हैं.

सिसोदिया ने एक वीडियो जारी करते हुए अपना पूरा बयान दिया और उप्र के कई मामलों का हवाला देते हुए बताया कि किस तरह लोग बिजली बिलों के चक्कर में आत्महत्या कर रहे हैं. उन्होंने यह भी कहा कि दिल्ली में सिर्फ बिजली बिलों की ही नहीं बल्कि पावर कट की समस्या भी सुलझी है. केजरीवाल सरकार का यही कारनामा आप उप्र में भी करके दिखाएगी.

UPSSSC PET 2021: जानें कितना रह सकता है कट-ऑफ, रिजल्ट को लेकर ये है लेटेस्ट अपडेट  

UPSSSC PET 2021: जानें कितना रह सकता है कट-ऑफ, रिजल्ट को लेकर ये है लेटेस्ट अपडेट  

UPSSSC PET Result 2021: उम्मीदवारों के मन में इस बात को लेकर चिंता बढ़ रही है कि कितने नंबर लाने पर वे परीक्षा पास कर लेंगें. यानी की इस परीक्षा का कट ऑफ स्कोर क्या रहने वाला है. इसे लेकर महत्वपूर्ण जानकारी नीचे साझा की जा रही है.

  • News18Hindi
  • LAST UPDATED : September 16, 2021, 16:37 IST
SHARE THIS:

नई दिल्ली. UPSSSC PET Result, Cut Off 2021: उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग द्वारा 24 अगस्त 2021 को प्रारंभिक पात्रता परीक्षा (UPSSSC PET 2021) का आयोजन किया गया था. परीक्षा में शामिल होने वाले उम्मीदवारों को अब इसके रिजल्ट का बेसब्री से इंतजार है. गौरतलब है कि UPSSSC द्वारा आगे निकाली जाने वाली ग्रुप-C पदों पर भर्तियों के लिए UPSSSC PET 2021 में उतीर्ण होना अनिवार्य है. ऐसे में यह परीक्षा और भी महत्वपूर्ण हो जाती है.

चूंकि आयोग ने भविष्य की भर्तियों के लिए PET में पास होना अनिवार्य कर दिया है. ऐसे में उम्मीदवारों के मन में इस बात को लेकर चिंता बढ़ रही है कि कितने नंबर लाने पर वे परीक्षा पास कर लेंगें. यानी की इस परीक्षा का कट ऑफ स्कोर क्या रहने वाला है. इसे लेकर महत्वपूर्ण जानकारी नीचे साझा की जा रही है.

UPSSSC PET Result, Cut Off 2021: कितना रह सकता है कट-ऑफ
बता दें कि फिलहाल आयोग ने इस बात को लेकर कोई जानकारी नहीं दी है कि कितना नंबर लाने पर उम्मीदवारों को परीक्षा में सफल माना जाएगा. लेकिन एक्सपर्ट्स और कई मीडिया रिपोर्ट्स द्वारा परीक्षा में उपस्थित होने वाले उम्मीदवारों की संख्या के आधार पर ये अनुमान लगाया जा रहा है कि UPSSSC PET 2021 का कट ऑफ 70 अंकों के आस-पास रह सकता है. उम्मीदवारों को सलाह दी जाती है कि वे रिजल्ट और कट ऑफ सम्बन्धी अपडेट के लिए आयोग की आधिकारिक वेबसाइट पर विजिट करते रहें.

ये भी पढ़ें-
Sarkari Naukri: इन सरकारी विभागों में निकली हैं बंपर नौकरियां,यहां देखिए डिटेल
Railway Jobs : उत्तर रेलवे में 10वीं पास के लिए 3000 से अधिक नौकरियां

PM Modi Birthday: PM मोदी के जन्मदिन 17 सितंबर को खास बनाने के लिए UP, बिहार सहित इन राज्यों ने ये लक्ष्य निर्धारित किया

PM Modi Birthday: PM मोदी के जन्मदिन 17 सितंबर को खास बनाने के लिए UP, बिहार सहित इन राज्यों ने ये लक्ष्य निर्धारित किया

PM Modi Birthday: पीएम मोदी के जन्मदिन (PM Modi's Birthday) को खास बनाने के लिए कई राज्यों ने खास तैयारी की है. उत्तर प्रदेश, बिहार, मध्य प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, हरियाणा और उत्तराखंड सहित कई गैरबीजेपी शासित राज्यों में भी पीएम मोदी का जन्मदिन खास तरह से मनाया जाएगा. इस बार पीएम मोदी के जन्मदिन पर देश के तकरीबन सभी राज्यों ने कोरोना वैक्सीनेनशन के लिए पहले की तुलना में ज्यादा लक्ष्य निर्धारित किया है.

SHARE THIS:

नई दिल्ली. पीएम मोदी के जन्मदिन (PM Modi’s Birthday) को खास बनाने के लिए कई राज्यों ने खास तैयारी की है. उत्तर प्रदेश, बिहार, मध्य प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, हरियाणा और उत्तराखंड सहित कई गैरबीजेपी शासित राज्यों में भी पीएम मोदी का जन्मदिन खास तरह से मनाया जाएगा. इस बार पीएम मोदी के जन्मदिन पर देश के तकरीबन सभी राज्यों ने कोरोना वैक्सीनेनशन के लिए पहले की तुलना में ज्यादा लक्ष्य निर्धारित किया है. इसके लिए राज्य सरकारें स्वास्थ्य विभाग को अलर्ट कर दिया है. स्वास्थ्य विभाग ने भी इसे चैलेंज के तौर पर ले कर काम शुरू कर दिया है. बता दें कि पीएम मोदी का जन्मदिन 17 सितंबर को है. इस दिन को ऐतिहासिक बनाने के लिए राज्य सरकारों ने रिकॉर्ड कोविड वैक्सीनेशन का लक्ष्य तय निर्धारित किया है. माना जा रहा है कि पीएम मोदी के जन्मदिन के मौके पर देश देश में टीकाकरण का एक नया रिकॉर्ड बनाएगा, जो पिछले सारे रिकॉर्ड को तोड़ देगा.

अगर बिहार की बात करें तो पीएम मोदी के जन्मदिन को खास बनाने के लिए नीतीश सरकार ने स्वास्थ्य विभाग को एक दिन में यानी 17 सितंबर को 30 लाख से अधिक लोगों को वैक्सीन देने का लक्ष्य निर्धारित किया है. वहीं, उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने भी 50 लाख से ज्यादा लोगों को एक दिन में वैक्सीनेशन का लक्ष्य निर्धारित किया है. इसी तरह मध्य प्रदेश, गोवा, उत्तराखंड, हरियाणा, असम, गुजरात और कर्नाटक सहित कई बीजेपी शासित राज्यों ने अपने यहां कोविड वैक्सीनेशन का लक्ष्य पहले की तुलना में ज्यादा तय कर रखा है.

Narendra Modi Birthday, pm modi bithday celebrations, 17th september, bihar, uttar pradesh, haryana, himachal pradesh, पीएम नरेंद्र मोदी जन्मदिन, नरेंद्र मोदी का जन्मदिन कब होता है, कोविड वैक्सीनेशन, बिहार, उत्तर प्रदेश, योगी सरकार, नीतीश सरकार, हरियाणा सरकार, इन राज्यों में ऐसे मनाया जाएगा पीएम मोदी का जन्मदिन, कोविड वैक्सीनेशन, कोरोना टीकाकरण अभियान,

पीएम मोदी के जन्मदिन यानी 17 सितंबर को बिहार में 30 लाख से अधिक लोगों को वैक्सीन देने का लक्ष्य. 

बिहार और यूपी ने ये लक्ष्य निर्धारित किया
बिहार में 17 सितंबर को राज्य के 15 हजार टीकाकरण केंद्रों पर तकरीबन 50 हजार स्वास्थ्यकर्मी इस महाअभियान को सफल बनाने के लिए सुबह से शाम तक लगे रहेंगे. बिहार के स्वास्थ्य मंत्री ने इसके लिए जिलों के सभी सिविल सर्जनों और मेडिकल कॉलेज अस्पतालों के प्राचार्यों को विशेषतौर पर निर्देश जारी किया है. दो दिन पहले ही राज्य के सीएम नीतीश कुमार ने इसको लेकर चर्चा की थी.

स्वास्थ्यकर्मियों को पीएम मोदी के जन्मदिन पर मिलेगा खास तोहफा
बिहार के स्वास्थ्य विभाग की सूत्रों की मानें तो इस दिन कोरोना टीकाकरण अभियान में शामिल होने वाले सभी टीकाकर्मियों, पहचानकर्ताओं और वाहन चालकों को विशेष भत्ता दिया जाएगा. टीकाकर्मियों और पहचानकर्ताओं को 150-150 रुपये अतिरिक्त और वाहन चालकों को 100 रुपये अधिक भोजन के मद में भुगतान किया जाएगा. राज्य के सभी जिलाधिकारियों के इसके लिए विशेष निर्देश जारी किए गए हैं.

Narendra Modi Birthday, pm modi bithday celebrations, 17th september, bihar, uttar pradesh, haryana, himachal pradesh, पीएम नरेंद्र मोदी जन्मदिन, नरेंद्र मोदी का जन्मदिन कब होता है, कोविड वैक्सीनेशन, बिहार, उत्तर प्रदेश, योगी सरकार, नीतीश सरकार, हरियाणा सरकार, इन राज्यों में ऐसे मनाया जाएगा पीएम मोदी का जन्मदिन, कोविड वैक्सीनेशन, कोरोना टीकाकरण अभियान,

भारत में बीते 16 जनवरी से कोविड टीकाकरण अभियान की शुरुआत हुई थी.  (फाइल फोटो: Shutterstock)

देश में हर रोज तकरीबन 86 लाख लोगों का हो रहा है वैक्सीनेशन
गौरतलब है कि भारत में बीते 16 जनवरी से कोविड टीकाकरण अभियान की शुरुआत हुई थी. सरकार की तरफ से सोमवार को जारी किए गए आंकड़े बताते हैं कि प्रतिदिन औसतन सबसे ज्यादा टीके लगाने के मामले में भारत तेजी से आगे बढ़ रहा है. भारत में हर दिन हो रहे औसतन टीकाकरण की संख्या 18 बड़े देशों से भी ज्यादा है. केंद्र सरकार के आंकड़े बताते हैं कि देश में प्रतिदिन 85.4 लाख डोज लगाए जा रहे हैं. वहीं, अमेरिका, ब्रिटेन, इटली समेत कई देश इस मामले में काफी पीछे चल रहे हैं.

ये भी पढ़ें: न किरायेदार ने छोड़ा, न मालिक ने बेचा मकान, जानें 6 गज में बनी दिल्ली की सबसे छोटी इमारत का अब क्या है हाल

बता दें कोविड वैक्सीनेश में यूपी नंबर वन में पहुंच चुका है. यूपी में अभी तक 9 करोड़ से ज्यादा लोगों को कोरोना वैक्सीनेशन का टीका लग चुका है, जो अपने आप में एक रिकॉर्ड है. पीएम मोदी के जन्मदिन पर योगी सरकार ने विशेष तैयारी की है. देश में कोरोना टीकाकरण का आंकड़ा अब 76 करोड़ के आंकड़े को पार कर गया है. अब तक 58 करोड़ से ज्यादा लोगों को पहले डोज लगाए जा चुके हैं. वहीं, दूसरे डोज की संख्या 19 करोड़ पार कर चुकी है. टीकाकरण के मामले में उत्तर प्रदेश शीर्ष पर है. इसके बाद महाराष्ट्र में टीकाकरण की संख्या 7 करोड़ पहुंची है.

UP: 1992 बैच के 12 पीपीएस अफसर बने IPS, देखिए पूरी लिस्ट

UP: 1992 बैच के 12 पीपीएस अफसर बने IPS, देखिए पूरी लिस्ट

UP News: नई दिल्ली में हुई डीपीसी के दौरान उत्तर प्रदेश के 1992 बैच के 12 पीपीएस अफसरों को आईपीएस में प्रमोशन मिल गया है.

  • News18Hindi
  • LAST UPDATED : September 16, 2021, 15:42 IST
SHARE THIS:

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के पुलिस महकमे में तैनात 1992 बैच के 12 पीपीएस अफसरों (12 PPS Officers) की आईपीएस (IPS) संवर्ग में पदोन्नति की डीपीसी आज दिल्ली में संपन्न गई है. संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) की बैठक में शामिल होने के लिए प्रदेश सरकार के मुख्य सचिव राजेंद्र तिवारी, अपर मुख्य सचिव गृह, अवनीश अवस्थी, अपर पुलिस महानिदेशक कार्मिक सहित आला अफसर दिल्ली में मौजूद रहे. डीपीसी के दौरान 1992 बैच के पीपीएस अफसरों को आईपीएस में प्रमोशन मिल गया है.

इन अफसरों में राजेश द्विवेदी, राजेश कुमार श्रीवास्तव, जय प्रकाश सिंह, दिनेश त्रिपाठी, त्रिभुवन सिंह के नाम शामिल हैं. इनके अलावा शशिकांत, रामसेवक गौतम, अजीत कुमार सिन्हा, अवधेश सिंह, पंकज कुमार पांडे, श्रवण कुमार सिंह और सदानंद सिंह यादव पीपीएस से आईपीएस प्रमोट हो गए हैं.

IPS प्रमोट होने वाले अफसर

राजेश द्विवेदी

राजेश कुमार श्रीवास्तव

जय प्रकाश सिंह

दिनेश त्रिपाठी

त्रिभुवन सिंह

शशिकांत

रामसेवक गौतम

अजीत कुमार सिन्हा

अवधेश सिंह

पंकज कुमार पांडे

श्रवण कुमार सिंह

सदानंद सिंह यादव

इनपुट: अनामिका सिंह

लखनऊ: भारी बारिश को देखते हुए जिला प्रशासन ने जारी की एडवाइजरी, हेल्पलाइन नंबर

लखनऊ: भारी बारिश को देखते हुए जिला प्रशासन ने जारी की एडवाइजरी, हेल्पलाइन नंबर

Lucknow News: जिला प्रशासन के अनुसार किसी भी तरह की समस्या के होने पर 6389300137/138/139 पर मदद के लिए फ़ोन करें. राजधानी लखनऊ निवासी इमरजेंसी की अवस्था में 0522-4523000 पर फोन करें.

  • News18Hindi
  • LAST UPDATED : September 16, 2021, 14:58 IST
SHARE THIS:

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के कई जिलों में लगातार भारी बारिश (Heavy Rainfall) ने जन-जीवन बुरी तरह अस्त-व्यस्त कर दिया है. कई जगह मकान गिरने, पेड़ गिरने आदि से जानमाल का भी नुकसान हुआ है. इस बीच लखनऊ (Lucknow) में जारी भारी बारिश को देखते हुए जिला प्रशासन ने एडवाइजरी की है. साथ ही हेल्पलाइन नंबर भी जारी किए हैं.

एडवाइजरी में जिला प्रशासन ने कहा है कि राजधानीवासी बेवजह घरों से निकलने से बचें. बहुत ज्यादा जरूरी होने पर ही घरों से बाहर निकलें. भीड़भाड़ वाले इलाके और ट्रैफिक जाम से लोग बचे. इसके अलावा खुले सीवर, बिजली के तार, खंभों से बचकर रहें.

जिला प्रशासन के अनुसार किसी भी तरह की समस्या के होने पर 6389300137/138/139 पर मदद के लिए फ़ोन करें. राजधानी लखनऊ निवासी इमरजेंसी की अवस्था में 0522-4523000 पर फोन करें.

बता दें लखनऊ में लगातार तेज हवाओं के साथ बारिश के चलते कई इलाकों में पेड़ गिरने और जगह जगह जलभराव से यातायात में दिक्कतें आ रही हैं. लखनऊ में बुधवार की सुबह से गुरुवार की सुबह तक 107 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई है. मौसम विभाग का अनुमान है कि अगले 24 घंटे तक यह सिलसिला जारी रह सकता है.

लखनऊ जिला प्रशासन की एडवाइजरी

advisory, Lucknow rainfall

लखनऊ जिला प्रशासन की एडवाइजरी

स्थिति ये है कि कई मुख्य मार्ग पेड़ गिरने से बंद हो गए हैं. कपूरथला और निरालानगर में पेड़ गिरने से सड़कें बंद हो गई हैं. गोमतीनगर और सरोजनीनगर सहित कई कालोनियों में बारिश का पानी भर गया है, जिससे लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है.

कई जिलों में तेज बारिश का सिलसिला जारी

प्रदेश के चार ऐसे जिले हैं जहां पिछले 24 घण्टों में 100 मिलीमीटर से ज्यादा बारिश हो चुकी है. लखनऊ में बुधवार से अभी तक 107 मिलीमीटर, रायबरेली में 186 मिमी, सुल्तानपुर में 118 मिमी और अयोध्या में 104 मिमी बारिश हो चुकी है. रायबरेली में तो स्कूलों में छुट्टी कर दी गयी है. इसके अलावा पिछले 24 घण्टों में गोरखपुर में 96.6 मिमी, वाराणसी में 88 मिमी, बाराबंकी में 94 मिमी और बहराइच में 30 मिमी बारिश दर्ज की गयी है.

UP JEECUP Counselling 2021: यूपी जेईई पॉलिटेक्निक काउंसलिंग की पहली सीट अलॉटमेंट लिस्ट आज, ऐसे करें चेक

UP JEECUP Counselling 2021: यूपी जेईई पॉलिटेक्निक काउंसलिंग की पहली सीट अलॉटमेंट लिस्ट आज, ऐसे करें चेक

UP JEECUP Counselling 2021: आज पहली सीट अलॉटमेंट लिस्ट में शॉर्टलिस्ट किए गए स्टूडेंट्स को 17 सितंबर से 19 सितंबर के बीच जिला सहायता केंद्रों पर फ्रीज, फ्लोट विकल्प चयन और दस्तावेजों को सत्यापित कराना होगा. दूसरे राउंड के लिए सीट अलॉटमेंट लिस्ट 20 सितंबर को जारी की जाएगी.

  • News18Hindi
  • LAST UPDATED : September 16, 2021, 14:20 IST
SHARE THIS:

नई दिल्ली. UP JEECUP Counselling 2021: उत्तर प्रदेश, संयुक्त प्रवेश परीक्षा परिषद (UP JEECUP) आज यानी 16 सितंबर को जेईई (पॉलिटेक्निक) काउंसलिंग की पहली सीट अलॉटमेंट लिस्ट जारी करेगा. बता दें कि 14 सितंबर से ग्रेजुएट पॉलिटेक्निक कार्यक्रमों में एडमिशन के लिए पहले दौर की काउंसलिंग शुरू हुई थी. वहीं आज पहली सीट अलॉटमेंट लिस्ट में शॉर्टलिस्ट किए गए स्टूडेंट्स को 17 सितंबर से 19 सितंबर के बीच जिला सहायता केंद्रों पर फ्रीज, फ्लोट विकल्प चयन और दस्तावेजों को सत्यापित कराना होगा.

बता दें कि पहले राउंड की काउंसलिंग प्रक्रिया पूरी होने के बाद दूसरे राउंड के लिए सीट अलॉटमेंट लिस्ट 20 सितंबर को जारी की जाएगी. इसी प्रकारी दूसरे राउंड की काउंसलिंग प्रक्रिया पूरी होने का बाद 23 सितंबर को तीसरे राउंड के लिए सीट अलॉलमेंट लिस्ट जारी की जाएगी.

ये भी पढ़ें-
UPSC CMS 2021: परीक्षा का शेड्यूल जारी, जानें कब होगा एग्‍जाम
Sarkari Naukri: युवाओं के लिए सरकारी नौकरी का मौका, 10वीं पास से लेकर ग्रेजुएट तक करें अप्लाई

13 सितंबर को जारी हुए थे रिजल्ट
उत्तर प्रदेश संयुक्त पॉलिटेक्निक प्रवेश परीक्षा 2021 का आजोनन 31 अगस्त से 4 सितंबर के बीच किया गया था. इसका रिजल्ट 13 सितंबर को जारी किया गया था. परीक्षा में 187640 छात्र शामिल हुए थे. जिसमें से 174770 छात्र पास हुए हैं. मतलब रिजल्ट 93.11 फीसदी रहा है. यूपी पॉलिटेक्निक प्रवेश परीक्षा कुल 241810 सीटों के लिए हुई थी. जिसमें सिर्फ 187640 छात्र ही परीक्षा में शामिल हुए थे. ऐसे में 54170 सीटें रिक्त रहना तय है. UPJEECUP 2021 के लिए उत्तर कुंजी 7 सितंबर को जारी की गई थी.

UP JEECUP First Counselling 2021: ऐसे चेक करें काउंसलिंग की पहली सीट अलॉटमेंट लिस्ट

  • सबसे पहले यूपीजेईई की वेबसाइट jeecup.nic.in पर विजिट करें.
  • यहां होमपेज पर दिए गए लिंक ”Online Registration and Choice Filling 2021 for Round 1” पर क्लिक करें.
  • इसके बाद अब UPJEE रोल नंबर, जन्म तिथि और सुरक्षा पिन दर्ज करके सबमिट करें.
  • यहां सीट अलॉटमेंट की पहली लिस्ट स्क्रीन पर आ जाएगी.
  • अब इस लिस्ट को डाउनलोड करके भविष्य के लिए प्रिंट कर लें.

UP Weather Update: जानिए क्यों हो रही है ऐसी तूफानी बारिश? लखनऊ सहित कई जिलाें में टूटे रिकॉर्ड

UP Weather Update: जानिए क्यों हो रही है ऐसी तूफानी बारिश? लखनऊ सहित कई जिलाें में टूटे रिकॉर्ड

Lucknow News: लखनऊ स्थित मौसम विभाग के निदेशक जेपी गुप्ता ने बताया कि बारिश की ये रफ्तार आज गुरुवार को पूरे दिन जारी रहेगी. कई जिलों में तो इस मॉनसूनी सीजन की सबसे ज्यादा बारिश रिकार्ड की गयी है.

SHARE THIS:

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में पश्चिमी यूपी (Western UP) के कुछ जिलों को छोड़ दें तो पूरे सूबे में बारिश (Rainfall) का सिलसिला कमोबेश कल बुधवार से ही चल रहा है. बारिश का ज्यादा जोर लखनऊ (Lucknow) और इसके आसपास के जिलों में देखने को मिल रहा है. लखनऊ में तो बीती रात 12 बजे से ही बरसात थमी नहीं है. और तो और इसमें लगातार बढ़ोतरी ही देखने को मिल रही है. तेज हवाओं के साथ हो रही बारिश के कारण शहर में जगह जगह पेड़ भी गिर गये हैं.

प्रदेश के चार ऐसे जिले हैं जहां पिछले 24 घण्टों में 100 मिलीमीटर से ज्यादा बारिश हो चुकी है. लखनऊ में बुधवार से अभी तक 107 मिलीमीटर, रायबरेली में 186 मिमी, सुल्तानपुर में 118 मिमी और अयोध्या में 104 मिमी बारिश हो चुकी है. रायबरेली में तो स्कूलों में छुट्टी कर दी गयी है. इसके अलावा पिछले 24 घण्टों में गोरखपुर में 96.6 मिमी, वाराणसी में 88 मिमी, बाराबंकी में 94 मिमी और बहराइच में 30 मिमी बारिश दर्ज की गयी है.

लखनऊ स्थित मौसम विभाग के निदेशक जेपी गुप्ता ने बताया कि बारिश की ये रफ्तार आज गुरुवार को पूरे दिन जारी रहेगी. रात से या शुक्रवार की सुबह से इसकी तीव्रता थोड़ी कम हो सकती है. हालांकि इस पूरे हफ्ते छिटपुट बारिश जारी रहेगी. कई जिलों में तो इस मॉनसूनी सीजन की सबसे ज्यादा बारिश रिकार्ड की गयी है.

क्यों हो रही है ऐसी तूफानी बारिश?

निदेशक जेपी गुप्ता ने बताया कि मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में एक कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ है. इसकी वजह से बंगाल की खाड़ी से आने वाली हवायें उस ओर बढ़ रही हैं. मॉनसूनी सीजन में हवा में नमी भरपूर हो रही है. बंगाल की खाड़ी से चलकर मध्यप्रदेश की ओर बढ़ने वाली नम हवाओं के कारण मध्य यूपी में जोरदार बारिश हो रही है. संभावना ये है कि कल शुक्रवार तक इसमें काफी कमी आ जायेगी. तेज हवायें भी थम जायेंगी.

लखनऊ में भारी बारिश से कई मुख्य रास्ते बंद, गोमतीनगर सहित तमाम इलाकों में भरा पानी

वैसे तो पश्चिमी यूपी के जिलों में भी हल्की बदली छायी हुई है लेकिन, ज्यादा बारिश की फिलहाल संभावना नहीं जताी गयी है. राजस्थान, हरियाणा और उत्तराखण्ड की सीमा से लगने वाले यूपी के जिलों में फिलहाल बारिश का ज्यादा जोर देखने को नहीं मिल रहा है.

बीती रात से अभी तक 7 की मौत

तेज हवाओं के साथ हो रही बारिश से जान- माल को भी काफी नुकसान पहुंचा है. न्यूज़ 18 को मिली जानकारी के मुताबिक बीती रात से अभी तक कुल 7 लोगों की मौत हो चुकी है. सभी लोगों की मौत कच्ची दीवार गिरने की चपेट में आने से हुई है.

हथिया नक्षत्र से पहले ही लखनऊ समेत कई इलाकों में जोरदार बारिश, ऑरेंज अलर्ट भी जारी

मिली जानकारी के अनुसार जौनपुर में 4, सीतापुर में 1, अयोध्या  में 1 और रायबरेली  में भी 1 की मौत हुई है. बारिश का सिलसिला ऐसे ही चलता रहा तो कई हादसों की आशंका बनी हुई है.

UP News: भारी बारिश की वजह से जगह-जगह हादसे, अब तक पांच बच्चों समेत 16 की मौत

UP News: भारी बारिश की वजह से जगह-जगह हादसे, अब तक पांच बच्चों समेत 16 की मौत

Heavy Rain in UP: अब तक मिली जानकारी के मुताबिक जौनपुर और फतेहपुर में मकान की छत और दीवार गिरने से चार-चार लोगों की मौत हुई है. बाराबंकी में दो, अमेठी में दो, कौशांबी, सीतापुर, अयोध्या और रायबरेली में एक-एक लोगों की मौत की सूचना हैं.

  • News18Hindi
  • LAST UPDATED : September 16, 2021, 13:33 IST
SHARE THIS:

लखनऊ. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के ज्यादातर इलाकों में पिछले 24 घंटों से हो रही  मूसलाधार बारिश (Incessant Rain) ने आम जनजीवन अस्त-व्यस्त कर दिया है. अलग-अलग जगहों पर मकान ढहने और दीवार गिरने की वजह से अब तक 16 लोगों की जान जा चुकी हैं, जबकि कई घायल हैं, जिनका इलाज चल रहा है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने बारिश की वजह से हुए जानमाल के नुकसान पर शोक प्रकट करते हुए अधिकारियों को पीड़ितों की आर्थिक मदद और उपचार की सुविधा मुहैया करवाने के निर्देश दिए हैं.

अब तक मिली जानकारी के मुताबिक जौनपुर और फतेहपुर में मकान की छत और दीवार गिरने से चार-चार लोगों की मौत हुई है. बाराबंकी में दो, अमेठी में दो, कौशांबी, सीतापुर, अयोध्या और रायबरेली में एक-एक लोगों की मौत की सूचना हैं. जौनपुर के सुजानगंज क्षेत्र के सरायखानी गांव में कच्चे मकान की छत गिरने से एक ही परिवार के तीन लोगों की मौत हो गई जबकि दो अन्य घायल हैं. भरत लाल जायसवाल (40), उनकी पत्नी गुलाबा देवी (36) और 9 साल की बच्ची साक्षी की मौत हो गई.

फतेहपुर में तीन हादसों में चार की मौत
फतेहपुर में पिछले 48 घंटों से लगातार हो रही बारिश लोगों पर आफत बनकर टूटी है. जिले के तीन अलग-अलग जगहों पर ढही कच्ची दीवार व छत के मलबे में दबकर तीन बच्ची समेत चार की मौत हो गई. दंपति समेत तीन लोग गंभीर घायल हुए हैं, जिन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है. सुल्तानपुर घोष के दरियापुर गांव में 13 साल की गुड़िया व 3 साल की मुस्कान की मौत हुई. कल्यानपुर के महरहा गांव में 2 साल की कोमल की मौत हो गई और दंपति गंभीर रूप से घायल हो गए. ललौली थाना क्षेत्र के जजरहा गांव में 26 साल के राकेश की मौत हो गई. पुलिस ने शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है. राजस्व अधिकारी घाटना स्थल पर पहुंच हर संभव मदद का आश्वासन दिया है.

बाराबंकी में पिता-पुत्र की मौत
बाराबंकी में भी पिछले 12 घंटे से हो रही मूसलाधार बारिश ने दो लोगों की जान ले ली. रामसनेहीघाट थाना क्षेत्र के बसैगापुर गांव में कच्ची दीवार गिरने से पिता-पुत्र की मौके पर ही मौत हो गई.  ग्रामीणों ने मलबे को खोदकर पिता और पुत्र का शव निकाला. पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए भेजा. कच्चे मकान के मलबे में दबने से तिलोई में एक बच्ची की मौत तो गौरीगंज में अधेड़ की मौत हो गई.

इन जिलों में भी गयी जान
अयोध्या में भी लगातार हो रही बारिश से जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है. थाना पूराकलंदर के दोस्तपुर गांव में घर की कच्ची दीवार गिरने से वृद्ध महिला की मौत हो गई. वृद्ध महिला की समधन व उसका पोता घायल हो गए. सभी को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया.  कौशांबी में भी लगातार हो रही बारिश के कारण एक मकान गिर गया जिसके मलबे में दब कर पत्नी की मौत गई जबकि पति का इलाज़ चल रहा है. घटना चायल तहसील के बिरनेर गांव की है. उधर सीतापुर के महमूदाबाद कोतवाली इलाके के नवाबपुर में तेज हवाओं व बारिश के चलते दीवार गिरने से मलबे में दबकर भाई की मौत हो गई जबकि तीन बहनें गम्भीर रूप से घायल हैं.

UP technical education service exam 2021: 1370 पदों पर होनी है भर्ती, आवेदन प्रक्र‍िया शुरू, जल्‍दी करें

UP technical education service exam 2021: 1370 पदों पर होनी है भर्ती, आवेदन प्रक्र‍िया शुरू, जल्‍दी करें

UP technical education service exam 2021: आयोग की आधिकारिक वेबसाइट uppsc.up.nic.in पर जाकर आवेदन करें.

  • News18Hindi
  • LAST UPDATED : September 16, 2021, 13:19 IST
SHARE THIS:

UP technical education service exam 2021: उत्‍तर प्रदेश टेक्‍नीकल एजुकेशन (टीचिंग) सर्व‍िस परीक्षा 2021 (UP technical education service exam 2021) के लिये आवेदन की प्रक्र‍िया शुरू हो गई है. जो भी उम्‍मीदवार इस परीक्षा के लिये उपस्‍थ‍ित होना चाहते हैं, वह आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर अप्‍लाई कर सकते हैं. बता दें कि इस परीक्षा के जरिये उत्‍तर प्रदेश में 1370 लेक्‍चरर, प्र‍िंसिपल, लाइब्रेरियन, वर्कशॉप सुपरीटेंडेंट, इंजीनियर, टेक्‍नीकल और नॉन टेक्‍नीकल पदों पर भर्ती होगी.

इस परीक्षा में जो उम्‍मीदवार शामिल होना चाहते हैं, वह आयोग की आधिकारिक वेबसाइट uppsc.up.nic.in पर जाकर एप्‍ल‍िकेशन फॉर्म भर सकते हैं और जमा कर सकते हैं.  अपना आवेदन फॉर्म जमा करने की आखिरी तारीख 15 अक्‍टूबर है.

डायरेक्‍ट लिंक 

परीक्षा की तारीख और एग्‍जामिनेशन सेंटर फिलहाल तय नहीं है. आयोग द्वारा तारीख और वेन्‍यू तय किए जाने के बाद, आधिकारिक वेबसाइट पर इसकी सूचना दी जाएगी और साथ ही उम्‍मीदवारों को भी ई-एडमिशन सर्ट‍िफिकेट के जरिये इसकी जानकारी दी जाएगी.

कैसे होगा सेलेक्‍शन :
लिखित परीक्षा और इंटरव्‍यू में उम्‍मीदवार का प्रदर्शन जैसा होगा, उसके आधार पर ही उसका चयन निर्भर करेगा.

यह भी पढ़ें:
RRB NTPC Result 2021: किसी भी वक्‍त जारी हो सकता है परिणाम, रजिस्‍ट्रेशन नंबर के साथ रहें तैयार
Teachers Job: जानिये कैसे बन सकते हैं टीचर, भारत में हैं ये 6 तरीके

Load More News

More from Other District

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज