योगी सरकार में मंत्री मोहसिन रजा बोले- साजिश के तहत फैलाया जा रहा लव जिहाद

 साजिश के तहत फैलाया जा रहा लव जिहाद
साजिश के तहत फैलाया जा रहा लव जिहाद

मोहसिन रजा (Mohsin Raja) ने आगे कहा, 'काफी साल पहले की बात है सिमी (SIMI) और हाल ही में पीएफआई (PFI) का नाम भी इस तरह के मामले में आ चुका है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 19, 2020, 2:23 PM IST
  • Share this:
लखनऊ. उत्तर प्रदेश की योगी सरकार में अल्पसंख्यक कल्याण राज्य मंत्री मोहसिन रजा (Mohsin Raza) ने लव जिहाद को लेकर शनिवार को बड़ा बयान दिया. उन्होंने कहा कि लव जिहाद (Love Jihad) एक साजिश है जिसके तहत भोली-भाली लड़कियों को शिकार बनाया जा रहा है. मोहसिन रजा ने उत्तर प्रदेश में बीते कुछ दिनों में लव जिहाद की घटनाएं बढ़ी है. वहीं ज्यादातर हिंदू लड़कियों को मोहरा बनाया जा रहा है. मोहसिन रजा का आरोप है कि एक साजिश के तहत इस तरह की घटनाओं को बढ़ावा दिया जा रहा है. इसे रोकने के लिए अगर जरूरत पड़ी तो सरकार कानून लेकर आएगी.

लव जिहाद और धर्मांतरण की शिकायतों पर योगी सरकार के मंत्री मोहसिन रजा ने कहा कि सिमी और पीएफआई जैसे संगठन इसके पीछे हैं. उन्होंने विडियो जारी कर कहा, 'लव जिहाद और धर्मांतरण की काफी शिकायतें आ रही हैं. यह एक साजिश के तहत किया जा रहा काम है. भोली-भाली लड़कियों को प्रेम जाल में फंसाकर उनके साथ शादी करना, फिर उनका धर्मांतरण किया जा रहा है. उनसे कहा जा रहा है कि पहले आप कलमा पढ़िए मुसलमान हो जाइए, फिर क्रिश्चन हो जाइए, पहले आप धर्म परिवर्तन करिए, इके पीछ बहुत बड़ी साजिश है.'

ये भी पढे़ं- UP: गौशाला खोलने के नाम पर लाखों रुपये का फर्जीवाड़ा, ऐसे ऐंठते थे मोटी रकम



मोहसिन रजा ने आगे कहा, 'काफी साल पहले की बात है सिमी और हाल ही में पीएफआई का नाम भी इस तरह के मामले में आ चुका है. इनमें जो लोग जुड़े हैं बहुत शातिर किस्म के लोग हैं जो आतंकी संगठनों से जुड़े हुए हैं. इनको हमारे देश में तुष्टिकरण की राजनीति के तहत राजनीतिक पार्टियों का समर्थन मिल गया। इस साजिश का खुलासा होना चाहिए. मोहसिन रजा ने कहा, 'इस तरह के मामलों को लेकर हमारी सुरक्षा एजेंसियां सतर्क है.
अकेले कानपुर में 11 मामलों में जांच जारी

बता दें कि बीते दिनों उत्तर प्रदेश के अलग-अलग हिस्सों से कथित लव जिहाद के कई मामले सामने आए थे. अकेले कानपुर में 11 ऐसे मामलों में जांच चल रही है, जिसमें धोखे से धर्मांतरण के आरोप लगाए गए हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज