Covid-19: यूपी के ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा बोले- गुनाह करने वाले तबलीगी जमात के लोगों को मिलेगी कठोर सजा
Lucknow News in Hindi

Covid-19: यूपी के ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा बोले- गुनाह करने वाले तबलीगी जमात के लोगों को मिलेगी कठोर सजा
तबलीगी जमात के लोग को मिलेगी कठोर सजा (file photo)

उर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने कहा कि ‘कोरोना एक महावारी है, इसे रोकने के लिये पूरा मुल्क आज एक साथ है. लेकिन तबलीगी जमात के लोग गुनाह पर गुनाह कर रहे है.

  • Share this:
लखनऊ. देश में तेजी से फैल रहे कोरोना वायरस (COVID-19) के संक्रमण के लिए यूपी के ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने तबलीगी जमात (Tablighi Jamat) को जिम्मेदार ठहराया है. ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने कहा कि लॉकडाउन के दौरान तबलीगी जमात द्वारा सरेआम उल्लघंन किये जाने से उत्तर प्रदेश समेत पूरे देश में कोरोना वायरस के संक्रमित मरीजों की संख्या में एक बड़ा इजाफा हुआ है. उन्होंने कहा कि 3 अप्रैल को सिर्फ यूपी में ही एक दिन में कोरोना संक्रिमत 53 मरीज मिलने के चलते जहां कोरोना संक्रमित मरीजों का आंकडा 174 तक पहुंच गया है. जबकि 2 अप्रैल तक यूपी में सिर्फ 121 कोरोना संक्रमित मरीज थे.

योगी सरकार के प्रवक्ता श्रीकांत शर्मा ने देश में कोरोना वायरस फैलाने के गुनाह के लिये तबलीगी जमात के खिलाफ कड़ी कार्रवाई भी किये जाने का दावा किया है. उर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने कहा कि ‘कोरोना एक महावारी है, इसे रोकने के लिये पूरा मुल्क आज एक साथ है. वहीं प्रधानमंत्री के आह्वान पर पूरा देश लॉकडाउन का पालन कर रहा है. लेकिन तबलीगी जमात के लोग गुनाह पर गुनाह कर रहे है. देश में कोरोना वायरस फैलाने का काम कर रहे है. तबलीगी जमात के लोगों ने पहला गुनाह जानकारी के बाद निजामुद्दीन में इकठ्ठा होकर किया. और फिर बिमारी के बावजूद भागकर देश के अलग-अलग शहरों में जाकर छुप गये.

शर्मा ने कहा कि जब कोरोना संक्रमित पाये गय़े तो इलाज के दौरान डाक्टरों और नर्सो पर थूकने के साथ ही साथ उनसे दुर्व्यवहार किया. उससे भी बड़ा गुनाह पकड़े जाने पर धर्म की चादर ओढ इस मुद्दे को हिंदु-मुसलमान बनाने की कोशिश करके किया. तबलीगी जमात के इस गुनाह को माफ नहीं किया जा सकता. जमात के लोगों के इस गुनाह के लिये निश्चित रूप से उनके खिलाफ कानून के तहत कठोर कार्रवाई की जायेगी.



इससे पहले गाजियाबाद में तबलीगी जमात के लोगों द्वारा सरकारी अस्पताल में अभद्रता किए जाने के मामले में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सख्त रुख अपना लिया है. मामले में सरकार ने एनएसए (NSA) की कार्रवाई करने की तैयारी शुरू कर दी है, वहीं फैसला लिया गया है कि प्रदेश में जहां भी तबलीगी जमात के लोगों को कोरेंटाइन या आइसोलेशन में रखा गया है, वहां न तो महिला स्वास्थ्यकर्मी की ड्यूटी लगेगी, न ही किसी महिला पुलिसकर्मी की तैनाती होगी.



ये भी पढे़ं:

Covid-19: जौनपुर में बेटे ने पुलिस बुलाकर पिता को भेजवाया क्वारंटाइन सेंटर
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading