UP के 25 हजार होमगार्ड्स पर लटक रही छंटनी की तलवार! ये रही वजह

News18 Uttar Pradesh
Updated: September 9, 2019, 12:00 PM IST
UP के 25 हजार होमगार्ड्स पर लटक रही छंटनी की तलवार! ये रही वजह
योगी सरकार 25 हजार होमगार्डों की तैनाती समाप्त करने पर विचार कर रही है. (फाइल फोटो)

होमगार्ड्स (Home Guards) के वेतन और एरियर पर होने वाले अतिरिक्त खर्च से बचने के लिए योगी सरकार (Yogi Aditya Nath Government) करीब 25 हजार जवानों की सेवाएं समाप्त कर सकती है.

  • Share this:
लखनऊ. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) की योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) सरकार 25 हजार होमगार्डों (Home Guards) की तैनाती ख़त्म करने पर विचार कर रही है. दरअसल, सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) के आदेश पर अमल करते हुए सरकार ने होमगार्ड्स को यूपी पुलिस के सिपाही के बराबर दैनिक भत्ता देने पर सहमत हो गई है. लेकिन, होमगार्ड्स के वेतन और एरियर पर होने वाले अतिरिक्त खर्च के भार को ख़त्म करने के लिए करीब 25 हजार होमगार्ड्स की सेवाएं समाप्त की जा सकती हैं.

बता दें कि 30 जुलाई को सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद 28 अगस्त को तत्कालीन मुख्य सचिव डॉ अनूप चंद्र पांडेय की अध्यक्षता में एक उच्चस्तरीय बैठक हुई थी. सूत्रों के मुताबिक इस बैठक में सुप्रीम कोर्ट के आदेश को लागू करने पर सहमती बनी थी. साथ ही यह भी फैसला लिया गया कि वेतन और एरियर का भुगतान गृह विभाग के बजट से किया जाएगा. लेकिन, इससे पड़ने वाले अतिरिक्त वित्तीय बोझ को कम करने के लिए 25 हजार होमगार्ड्स की तैनाती खत्म करने पर भी फैसला हुआ. अगर इस प्रस्ताव पर मुहर लगती है तो यह होमगार्ड्स के जवानों के लिए तगड़ा झटका होगा.

हटाने पर 1.68 करोड़ रुपए बचाने का अनुमान

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद अब होमगार्ड्स को 500 के बजाय 672 रुपए दैनिक भत्ता मिलेगा. यानी प्रति होमगार्ड रोजाना 172 रुपए खर्च बढ़ेगा. मौजूदा समय में प्रदेश में 92 हजार होमगार्ड्स हैं, जिनमें से करीब 87 हजार ड्यूटी कर रहे हैं. अगर 172 रुपए रोजाना खर्च बढ़ता है तो 87 हजार होमगार्ड्स के लिए प्रतिदिन 1 करोड़ 49 लाख 64 हजार अतिरिक्त खर्च का बोझ सरकार को उठाना पड़ेगा. इसके अलावा सरकार को 6 दिसंबर 2016 से एरियर भी देना है. लिहाजा, इस अतिरिक्त खर्च से बचने का रास्ता होमगार्ड्स की तैनाती ख़त्म कर निकालने की तैयारी है. इस तरह सरकार रोजाना 1.68 करोड़ रुपए की बचत कर सकेगी.

(रिपोर्ट: ऋषभमणि त्रिपाठी)

ये भी पढ़ें:

स्वामी चिन्मयानंद मामले की SIT जांच शुरू, टीम ने पुलिस अफसरों से जुटाए सबूत
Loading...

राजू पाल हत्याकांड: माफिया अतीक के फरार भाई अशरफ पर इनाम बढ़ाने की तैयारी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 9, 2019, 10:51 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...