दलितों और पिछड़ों को कोटे में से कोटा देने की तैयारी में योगी सरकार, ये रहा प्लान

News18Hindi
Updated: August 18, 2019, 12:32 PM IST
दलितों और पिछड़ों को कोटे में से कोटा देने की तैयारी में योगी सरकार, ये रहा प्लान
दलितों और पिछड़ों को कोटे में से कोटा देने की तैयारी योगी सरकार.

योगी आदित्‍यनाथ की सरकार ने अब कोटे में कोटा देने की तैयारी कर रही है. इसकी योजना भी तैयार कर ली गई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 18, 2019, 12:32 PM IST
  • Share this:
उत्तर प्रदेश में योगी सरकार दलितों और पिछड़ों के आरक्षण में बंटवारे को जल्द ही मंजूरी देने जा रही है. सामाजिक न्याय समिति की सिफारिशों को लागू करने के लिए शासन स्तर पर सहमति बन गई है. जल्द ही कैबिनेट में इसे रखा जाएगा. समाज कल्याण विभाग मसौदा बना रहा है. इससे अनुसूचित जाति-जनजाति और अन्य पिछड़ा वर्ग की उन जातियों को आरक्षण का पूरा लाभ मिल सकेगा, जो अब तक आरक्षण के फायदे से वंचित रही हैं.

ये रहा प्लान

जानकारी के मुताबिक, अनुसूचित जाति/जनजाति को मिलने वाले आरक्षण को दो हिस्‍सों (10 और 11 फीसदी) में बांटने की तैयारी है. वहीं, OBC आरक्षण को 7, 11 और 9 के ती भागों में बांटा जा सकता है, जबकि अति दलित और अति पिछड़ा वर्ग को अब कोटे में भी कोटा मिल सकता है. बता दें कि योगी सरकार ने पिछले साल सामाजिक न्याय समिति गठित की थी. पिछले साल दिसंबर में ही न्याय समिति ने रिपोर्ट पेश की थी.

राजनाथ सिंह ने गठित की थी समिति
राजनाथ सिंह ने गठित की थी समिति.


इससे पहले राजनाथ सिंह के मुख्‍यमंत्रित्‍व काल में आरक्षण को लेकर एक समिति गठित की गई थी.

इससे पहले राजनाथ सिंह के मुख्यमंत्रित्व काल में वर्ष 2001 में तत्कालीन मंत्री हुकुम सिंह की अध्यक्षता में सामाजिक न्याय समिति गठित की गई थी. इसने अपनी सिफारिशों में दलितों के आरक्षण को दो श्रेणियों में बांटकर नये सिरे से आरक्षण का निर्धारण की जरूरत जताई थी. अब इसे ही लागू करने की तैयारी है.

इन राज्यों में है कोटे में कोटा
Loading...

कर्नाटक, आन्ध्र प्रदेश, हरियाणा, बिहार, पश्चिम बंगाल, महाराष्ट्र और तमिलनाडु में कोटे में कोटा देने की व्यवस्था लागू है.

ओबीसी का वर्गीकरण
पहली श्रेणी- कुर्मी, यादव, चौरसिया
दूसरी- कुशवाहा, शाक्य, लोध, शाहू, तेली, गुज्जर, माली आदि
तीसरी- राजभर, मल्लाह, बिंद, घोसी आदि

अनुसूचित जाति का वर्गीकरण
अनुसूची ‘अ’-चमार-धूसिया-जाटव
अनुसूची ‘ब’-वाल्मीकि, धानुक, खटिक, धोबी सहित 65 जातियां.

(रिपोर्ट: अजीत प्रताप सिंह)

ये भी पढ़ें:

आज़म खान की बढ़ी मुश्किलें, रिज़ॉर्ट की दीवार तोड़ने के बाद अब RDA ने थमाया नोटिस

सोनभद्र जमीन विवाद से जुड़ी अहम फाइलें गायब, FIR दर्ज करने की तैयारी

बरेली: पहले पत्नी का गला रेतकर उतारा मौत के घाट और फिर...

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 18, 2019, 11:59 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...