राम मंदिर भूमि पूजन के बाद अयोध्या में उससे भी बड़ा आयोजन कराने की तैयारी में योगी सरकार
Ayodhya News in Hindi

राम मंदिर भूमि पूजन के बाद अयोध्या में उससे भी बड़ा आयोजन कराने की तैयारी में योगी सरकार
अयेध्या में यूपी सरकार बड़े आयोजन की तैयारी में है. (Photo- AP)

उत्तर प्रदेश का संस्कृति विभाग, पर्यटन और धर्मार्थ कार्य विभाग ने अयोध्या (Ayodhya) में बड़े स्तर पर रामलीला (Ramleela) के मंचन का प्लान तैयार किया है. देशी-विदेशी कलाकारों से सजी रामलीला के प्रस्ताव पर अंतिम मुहर सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) लगाएंगे.

  • Share this:
लखनऊ. उत्तर प्रदेश के अयोध्या (Ayodhya) में राम मंदिर (Ram Mandir) के भूमिपूजन के भव्य आयोजन के बाद यूपी सरकार UP Government वहां उससे भी बड़ा आयोजन कराने की तैयारी में है. यूपी सरकार का संस्कृति विभाग इस आयोजन को लेकर पूरी तैयारी के साथ प्रपोज़ल बना चुका है. सरकार की तरफ से आख़िरी सहमति के बाद इस पर अमली जामा पहनाया जाएगा.

विभाग की योजना है कि आने वाले अक्टूबर महीने में दशहरे के बाद भव्य रामलीला का आयोजन अयोध्या में किया जाए. इसे लेकर उत्तर प्रदेश का संस्कृति विभाग, पर्यटन और धर्मार्थ कार्य विभाग की तरफ़ से प्रस्ताव तैयार किया गया है. इस प्रस्ताव पर तमाम बैठकें और प्रेजेंटेशन हो चुका है. बस अब मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की मुहर का इंतजार है. योजना है कि पहली बार ऐतिहासिक रामलीला के मंचन के लिए फ़िल्मी सितारे आएंगे, यही नहीं इसमें देशी और विदेशी कलाकार भी शामिल होंगे. इस रामलीला के लिये मुख्य किरदारों का चयन भी किया गया है.

रवि किशन, मनोज तिवारी सहित तमाम कलाकार निभाएंगे किरदार



जानकारी के मुताबिक गोरखपुर से सांसद रवि किशन भरत की भूमिका में होंगे, मनोज तिवारी अंगद का किरदार निभाएँगे, बिंदु दारा सिंह हनुमान, मशहूर सीरियल चंद्रकांता मे किरदार निभा चुके शहबाज खान को रावण का रोल निभाने की उम्मीद जताई जा रही है.
आशुतोष राणा भी बन सकते हैं हिस्सा

इसके अलावा आशुतोष राणा समेत बॉलीवुड के कई मशहूर चरित्र अभिनेता रामलीला के मंचन में हिस्सा लेंगे. हालांकि राम और सीता के किरदार के लिए कलाकारों का चयन अभी बाक़ी है. इस आयोजन के दौरान टीवी पर पहले प्रसारित हो चुके रामायण धारावाहिक के कलाकारों को भी बुलाने का विचार है. बॉलीवुड कलाकारों की तरफ से बनाए गए इस प्रपोजल की अगुवाई कलाकार राजा बुंदेला कर रहे हैं. इस रामलीला के दौरान पूरी अयोध्या को एक बार फिर से दुल्हन की तरह सजाया जाएगा. शहर में कई जगह राम के जीवन से जुड़ी हुईं झाकियां और मंचन के कार्यक्रम किये जाएंगे. रामजन्मभूमि ट्रस्ट भी इन कार्यक्रमों मे सहयोग करेगा. मुख्य आयोजन के लिये यूपी सरकार विशेष बजट का प्रावधान कर सकती है.

प्रदेश भर में एलईडी स्क्रीन पर प्रसारण की योजना

जानकारी के अनुसार पूरी रामलीला का प्रसारण उत्तर प्रदेश सरकार पूरे प्रदेश में एलईडी के माध्यम से भी करवाएगी, जिससे इसकी भव्यता ज़्यादा से ज़्यादा लोगों को दिख सके. इस बारे मे संस्कृति विभाग संबंधित अधिकारियों और विभाग के मंत्री को पहले ही प्रेजेंटेशन दे चुका है. राम मंदिर के निर्माण के दौरान इस भव्य रामलीला आयोजन के सहारे सरकार भारतीय संस्कृति और इतिहास के प्रसार और प्रचार का काम करेगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज