Home /News /uttar-pradesh /

yogi government prison minister clashed in the passing out ceremony of the deputy jailer upns

डिप्टी जेलरों की पासिंग आउट सेरेमनी में कारागार विभाग के मंत्रियों में हुई नोकझोंक, जानें पूरा माजरा

एसजेटीआई के 113वें सत्रांत समारोह में धर्मवीर प्रजापति मुख्य अतिथि और सुरेश राही को विशिष्ट अतिथि थे.

एसजेटीआई के 113वें सत्रांत समारोह में धर्मवीर प्रजापति मुख्य अतिथि और सुरेश राही को विशिष्ट अतिथि थे.

इस मौके पर जब मंत्री धर्मवीर प्रजापति से पूछा गया तो उनका कहना था उनको जो लिखा हुआ भाषण मिला था उसको पढ़ दिया, शायद गलती से उस भाषण में राज्य मंत्री सुरेश राही का नाम छूट गया था, जिसका भूल सुधार उन्होंने भाषण के बाद किया था. मंत्री धर्मवीर प्रजापति ने बताया कि सुरेश राही जी ने लंच इसलिए नहीं किया था क्योंकि वह दिन में खाना नहीं खाते हैं.

अधिक पढ़ें ...

लखनऊ. राजधानी लखनऊ में डिप्टी जेलरों की पासिंग आउट सेरेमनी में उस समय अजीबोगरीब स्थिति बन गई, जब कारागार राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डॉ. धर्मवीर प्रजापति और राज्यमंत्री सुरेश राही के बीच नोकझोंक का मामला सामने आया. शुक्रवार को कारागार विभाग की ओर से लखनऊ के संपूर्णानंद कारागार प्रशिक्षण संस्थान में 16 डिप्टी जेलर जो अपनी ट्रेनिंग पूरी कर चुके थे उनके सत्रांत कार्यक्रम का आयोजन हुआ था. कार्यक्रम के मुख्य अतिथि कारागार मंत्री स्वतंत्र प्रभार धर्मवीर प्रजापति थे. जिन्हें कारागार विभाग में बड़े मंत्री जी कहा जाता है तो विशिष्ट अतिथि कारागार राज्यमंत्री सुरेश राही थे जिन्हें कारागार विभाग में छोटे मंत्री जी कहा जाता है.

बड़े मंत्री धर्मवीर प्रजापति तय समय से कुछ देर पहले कार्यक्रम में पहुंच गए, गार्ड ऑफ ऑनर लिया और मंच पर पहुंचे. मंच पर से दिए गए अपने भाषण में मंत्री धर्मवीर प्रजापति ने कारागार विभाग की उपलब्धियों का बखान किया. कारागार विभाग के महानिदेशक समेत तमाम अधिकारियों का नाम अपने भाषण में लिया यहां तक कि कम महत्वपूर्ण समझे जाने वाले फाइनेंस कंट्रोलर के पद पर विराजमान चंद्र भूषण का भी नाम अपने भाषण में लिया. लेकिन अपने ही विभाग के राज्यमंत्री सुरेश राही जो मंच पर उनके बगल में थे उनका नाम नहीं लिया.

राज्य मंत्री सुरेश राही ने नहीं खाया खाना
मंत्री जी अपना भाषण खत्म कर कुर्सी पर बैठने ही वाले थे किसी ने उनको उनकी गलती याद दिलाई, मंत्री धर्मवीर प्रजापति अपनी गलती दुरूस्त करने के लिए डायस की तरफ दोबारा जाने लगे लेकिन राज्य मंत्री सुरेश राही ने उन्हें ऐसा न करने को कहा. कार्यक्रम के बाद लंच की व्यवस्था थी, दोनों मंत्री लंच के लिए पहुंचे लेकिन राज्य मंत्री सुरेश राही ने खाना नहीं खाया. बताया जाता है कि काफी मान मनोव्वल के बाद सुरेश राही ने मिठाई जरूर खाई लेकिन खाना नहीं खाया. चर्चा यह भी है कि इन दिनों कारागार विभाग में दोनों मंत्रियों के बीच शक्ति प्रदर्शन की चर्चा होती रहती है.

दोनों मंत्रियों ने दी सफाई
इस मौके पर जब मंत्री धर्मवीर प्रजापति से पूछा गया तो उनका कहना था उनको जो लिखा हुआ भाषण मिला था उसको पढ़ दिया, शायद गलती से उस भाषण में राज्य मंत्री सुरेश राही का नाम छूट गया था, जिसका भूल सुधार उन्होंने भाषण के बाद किया था. मंत्री धर्मवीर प्रजापति ने बताया कि सुरेश राही जी ने लंच इसलिए नहीं किया था क्योंकि वह दिन में खाना नहीं खाते हैं. वहीं राज्य मंत्री सुरेश राही ने कहा कि उन्होंने मंत्री धर्मवीर प्रजापति के भाषण पर बहुत ध्यान नहीं दिया और उन्हें याद भी नहीं कि मंत्री जी ने संबोधन में उनके नाम का जिक्र किया था या नहीं हालांकि सुरेश राही ने ये जरूर कहा कि वह दोपहर में भोजन नहीं करते हैं.

Tags: Akhilesh yadav, Bjp government, CM Yogi, Jail story, Lucknow news, Samajwadi Party समाजवादी पार्टी, UP news, Yogi government

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर