• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • कानपुर एनकाउंटर के बाद एक्शन में योगी सरकार, बदमाशों की 11 करोड़ की अवैध संपत्ति जब्त

कानपुर एनकाउंटर के बाद एक्शन में योगी सरकार, बदमाशों की 11 करोड़ की अवैध संपत्ति जब्त

हिस्ट्रीशीटर बदमाशों (History sheeter criminals) के पास से पुलिस ने गाड़ियां, बस और प्लॉट जब्त लिए हैं. पुलिस की कार्रवाई से बदमाशों में हड़कंप मच गया है.

हिस्ट्रीशीटर बदमाशों (History sheeter criminals) के पास से पुलिस ने गाड़ियां, बस और प्लॉट जब्त लिए हैं. पुलिस की कार्रवाई से बदमाशों में हड़कंप मच गया है.

हिस्ट्रीशीटर बदमाशों (History sheeter criminals) के पास से पुलिस ने गाड़ियां, बस और प्लॉट जब्त लिए हैं. पुलिस की कार्रवाई से बदमाशों में हड़कंप मच गया है.

  • Share this:

    लखनऊ. कानपुर (Kanpur) के विकरू गांव में एक सीओ समेत आठ पुलिसकर्मियों की हत्या के बाद योगी सरकार (Yogi Government) एक्शन में आ गई है. घटना के बाद यूपी पुलिस ने अलग-अलग जिलों में अपराधियों पर कार्रवाई करते हुए बीते दो दिनों में 11 करोड़ से अधिक की संपत्ती जब्त की है. वहीं जेल में रहकर काला कारोबार चलाने वाले कुख्यात गैंगस्टर अनिल दुजाना, सुंदर भाटी, मुख्तार अंसारी गैंग और इनके गुर्गों की संपत्तियों पर 2 दिन में ताबड़तोड़ छापेमारी की गई है. पुलिस ने छापेमारी में करोड़ों की कार, ट्रक, कोठी और जमीनें जब्त की हैं. अबतक पुलिस 11 करोड़ 35 लाख की संपत्ति जब्त कर चुकी है.

    कानपुर की घटना के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ के कड़े तेवर देखते हुए पूरे यूपी में माफियाओं के खिलाफ प्रशासन एक्शन ले रहा है. सुंदर भाटी, अनिल दुजाना गैंग और मुख्तार अंसारी गैंग से जुड़े कुख्यात बदमाशों की संपत्ति की कुर्की हुई है. हिस्ट्रीशीटर बदमाशों के पास से पुलिस ने गाड़ियां, बस और प्लॉट जब्त लिए हैं. पुलिस की कार्रवाई से बदमाशों में हड़कंप मच गया है. वहीं बदमाशों की अवैध संपत्ति पुलिस लगातार जब्त कर रही है.

    कानपुर शूटआउट: विकास दुबे का भांजा बोला- मैं करूंगा कंस मामा का वध

    उधर, सीओ समेत आठ पुलिसकर्मियों की हत्या कर फरार चल रहे मुख्य आरोपी विकास दुबे (Vikas Dubey) पर अब इनाम की राशि बढ़ाकर ढाई लाख रुपए कर दी गई है. बता दें इस बड़े हत्याकांड को अंजाम देकर फरार चल रहे विकास दुबे की गिरफ्तारी पुलिस के लिए किसी चुनौती से कम नहीं है. 40 थानों की फोर्स, एक अहजर से अधिक दरोगा, क्राइम ब्रांच और एसटीऍफ़ की टीम उसकी चप्पे-चप्पे पर तलाश कर रही है. बावजूद उसके 72 घंटे से ज्यादा का वक्त गुजरने के बाद भी विकास दुबे और उसके गुर्गे पुलिस की गिरफ्त से दूर हैं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज