योगी सरकार ने शिया वक्फ बोर्ड में प्रशासक नियुक्ति का फैसला लिया वापस, 20 अप्रैल को चुनाव

योगी सरकार पंचायत चुनाव की अधिसूचना से पहले बड़े फैसले लेने की तैयारी में है.  (File Photo)

योगी सरकार पंचायत चुनाव की अधिसूचना से पहले बड़े फैसले लेने की तैयारी में है. (File Photo)

Lucknow News: शिया वक्फ बोर्ड में प्रशासक की नियुक्ति के फैसले पर हाईकोर्ट ने पूछा था कि किस प्रावधान के तहत प्रशासक की नियुक्ति की गई है? साथ ही हाईकोर्ट ने आदेश दिया था कि जल्द से जल्द शिया वक्फ बोर्ड के चुनाव कराए जाएं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 25, 2021, 11:00 AM IST
  • Share this:
लखनऊ. शिया वक्फ बोर्ड (Shia Waqf Board) में प्रशासक (Administrator) की नियुक्ति के फैसले पर हाईकोर्ट (High Court) द्वारा सवाल खड़े करने और जल्द से जल्द चुनाव कराने के निर्देश के बाद योगी सरकार (Yogi Government) ने यूटर्न लिया है. सरकार ने शिया वक्फ बोर्ड में प्रशासक नियुक्ति के फैसले को वापस ले लिया है. साथ ही शिया वक्फ बोर्ड के चुनाव की अधिसूचना जारी कर दी है. 20 अप्रैल को शिया वक्फ बोर्ड में चुनाव होगा.

बता दें इससे पहले सरकार ने प्रमुख सचिव बीएल मीणा को बोर्ड के प्रशासक के तौर पर नियुक्त किया था. लेकिन अब उन्हें हटा दिया गया है.

किस प्रावधान के तहत की गई नियुक्ति: हाईकोर्ट

बता दें पिछले दिनों प्रशासक नियुक्ति के खिलाफ और चुनाव कराने का मामला हाईकोर्ट में पहुंचा था. हाईकोर्ट ने सरकार से पूछा कि किस प्रावधान के तहत प्रशासक की नियुक्ति की गई है? साथ ही हाईकोर्ट ने आदेश दिया कि जल्द से जल्द शिया वक्फ बोर्ड के चुनाव कराए जाएं. वक्फ़ और अल्पसंख्यक कल्याण विभाग के विशेष सचिव स्तर के अधिकारी 25 मार्च को कोर्ट को कार्यवाही से अवगत कराएं. बता दें शिया वक्फ़ बोर्ड में प्रशासक की नियुक्ति के खिलाफ हाईकोर्ट लखनऊ बेंच में याचिका दाख़िल हुई थी.
बीएल मीणा को सौंपी गई थी कमान

दरअसल शिया वक्फ बोर्ड के पूर्व चेयरमैन वसीम रिजवी का कार्यकाल समाप्त होने के बाद से अध्यक्ष पद पर चुनाव होना था लेकिन ये अभी तक कराया नहीं जा सका है. इस बीच पिछले दिनों योगी सरकार ने शिया वक्फ बोर्ड को लेकर बड़ा फैसला ले लिया. सरकार ने उत्तर प्रदेश शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड में प्रशासक नियुक्त कर दिया. सरकार के फैसले के अनुसार प्रमुख सचिव, अल्पसंख्यक कल्याण बीएल मीणा को शिया बोर्ड की कमान सौंपी गई थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज