यूपी में किसानों की कर्जमाफी 17 अगस्त से, सीएम योगी लखनऊ से करेंगे पहले चरण की शुरुआत

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

स्वतंत्रता दिवस के बाद उत्तर प्रदेश की योगी सरकार किसानों की कर्जमाफी के अपने वादे को पूरा करने की शुरुआत करने जा रही है.

  • Share this:
स्वतंत्रता दिवस के बाद उत्तर प्रदेश की योगी सरकार किसानों की कर्जमाफी के अपने वादे को पूरा करने की शुरुआत करने जा रही है.



सरकार बनने के बाद सीएम योगी ने पहली कैबिनेट बैठक में कर्जमाफी का ऐलान किया था. इस कर्ज माफी में उत्तर प्रदेश के लघु एवं सीमांत करीब 86 लाख किसानों की कर्ज माफी की जानी है.



जानकारी के अनुसार इस अभियान की तैयारी कर ली गई है. पहले चरण में करीब 22 से 23 लीाख किसानों को इस कर्जमाफी का लाभ दिया जाएगा. 17 अगस्त से ये पहला चरण शुरू होगा. इस दौरान लखनऊ में एक कार्यक्रम आयोजित कर खुद सीएम योगी करीब 5100 किसानों को कर्जमाफी की सौगात देंगे.





हाल ही में यूपी की योगी सरकार ने अपने सालाना तीन लाख 84 हजार करोड़ रुपये के बजट में किसानों की कर्जमाफी का खास ख्याल रखा है. इसके लिए 36 हजार करोड़ रुपये की राशि रखी गई है.
उधर उत्तर प्रदेश के कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने पिछले दिनों बताया था कि किसानों की कर्जमाफी की फसल ऋण मोचन योजना का लाभ सही लाभार्थी तक पहुंचाने के लिए जिन किसानों के आधार कार्ड बने हुए हैं, उनमें से 50 प्रतिशत को लिंक करने का कार्य पूरा हो गया है.



कृषि मंत्री ने बताया कि योजना का लाभ सही लाभार्थी तक पहुंचाने तथा योजना में किसी भी प्रकार की गड़बड़ी को रोकने के लिए ही इस प्रक्रिया को किया जा रहा है. जिन किसानों के आधार कार्ड नहीं बने हुए हैं, उनके भी आधार बनवाने का प्रयास किया जा रहा है.



योजना का लाभ किसान तक पहुंचाने की कार्रवाई तेजी के साथ पूरी की जा रही है. इस क्रम में मैपिंग की कार्रवाई लगभग 90 प्रतिशत तक पूरी की जा चुकी है. अब इसका वेरिफिकेशन कराया जा रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज