निराश्रितों की मदद के लिए CM योगी ने खोला खजाना, राशन के साथ 1000 रुपये भी देगी सरकार
Lucknow News in Hindi

निराश्रितों की मदद के लिए CM योगी ने खोला खजाना, राशन के साथ 1000 रुपये भी देगी सरकार
निराश्रितों की मदद के लिए योगी सरकार ने खोला खजाना (file photo)

बता दें कि सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) के निर्देश पर 1 जून यानी आज से प्रदेश में एक बार फिर 18 करोड़ लोगों के लिए नि:शुल्क खाद्यान्न वितरण शुरू किया गया है.

  • Share this:
लखनऊ. कोरोना संक्रमण (coronavirus) से लड़ रही योगी सरकार (Yogi Government) श्रमिकों और कामगारों (Migrant Workers) को रोजगार देने के बाद अब ग्रामीणों के साथ शहरों में भी बिना राशन कार्ड वाले निराश्रितों की मदद के लिए आगे आई है. यूपी सरकार बिना राशन कार्ड वाले लोगों को राशन के साथ ही आर्थिक मदद भी देगी. सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने सोमवार को टीम-11 के साथ समीक्षा बैठक के दौरान युद्धस्तर पर निराश्रितों को पर्याप्त राशन देने के लिए तत्काल उनके राशन कार्ड बनाने के आदेश दिए. ग्रामीण इलाकों में ग्राम प्रधान निधि से उन्हें 1000 रुपये भी दिए जाएंगे.

ऐसे ही शहरों में बिना राशन कार्ड वालों की मदद की जिम्मेदारी नगर निकाय की होगी. वहीं निराश्रितों को तत्काल राशन और 1000 रुपये की मदद के साथ ही कहीं पर भी निराश्रित की मृत्यु होने पर अंतिम संस्कार के लिए ग्राम प्रधान निधि या नगर निकाय निधि से तत्काल 5000 रुपये उपलब्ध कराया जाएगा. बता दें कि सीएम योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर एक जून यानि आज से प्रदेश में एक बार फिर 18 करोड़ लोगों के लिए नि:शुल्क खाद्यान्न वितरण शुरू किया गया है. युद्धस्तर पर निराश्रितों को पर्याप्त राशन देने और तत्काल उनके राशन कार्ड बनाने के आदेश दिए गए हैं.

निराश्रित का बीमार पड़ने पर ऐसे होगा इलाज
उत्तर प्रदेश में कोई निराश्रित आयुष्मान भारत योजना या मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना में रजिस्टर्ड नहीं है और उसके पास आयुष्मान कार्ड नहीं है, तो उसके बीमार पड़ते ही ग्राम प्रधान निधि या नगर निकाय निधि से तत्काल 2000 रुपये की राशि उपलब्ध कराई जाएगी. कोरोना वायरस के संक्रमण या फिर बीमारी से अगर किसी निराश्रित की मृत्यु हो जाती है तो सरकार ने उसके अंतिम संस्कार के लिए भी व्यवस्था कराई है. वहीं दूसरे शहरों से लौटे या यहां फंसे प्रवासी मजदूरों परिवारों को फ्री-राशन मिलेगा. आत्मनिर्भर भारत योजना के तहत चिह्नित परिवारों को जारी अस्थाई राशन कार्ड पर तीन किलो गेहूं व दो किलो चावल और एक किलो चना नि:शुल्क दिया जाएगा.



(इनपुट- अनामिका सिंह)



ये भी पढ़ें:

अलीगढ़ में दिनदहाड़े कैश वैन से 22.70 लाख की लूट, फायरिंग के दौरान लोग 4 घायल
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading