मछलीशहर लोकसभा क्षेत्र: SP-BSP लड़ रही है खोई साख पाने की जंग, BJP ने लगाया है अचूक दांव

News18Hindi
Updated: May 8, 2019, 3:12 PM IST
मछलीशहर लोकसभा क्षेत्र: SP-BSP लड़ रही है खोई साख पाने की जंग, BJP ने लगाया है अचूक दांव
बीजेपी पहले लगातार दो बार 1996 और 1998 में यहां कब्जा जमा चुकी हैं. लेकिन 1998 के बाद बीजेपी को यहां जीत नसीब नहीं हुई थी.

बीजेपी पहले लगातार दो बार 1996 और 1998 में यहां कब्जा जमा चुकी हैं. लेकिन 1998 के बाद बीजेपी को यहां जीत नसीब नहीं हुई थी.

  • Share this:
उत्तर प्रदेश के जौनपुर जिले के ये आरक्षित लोकसभा सीट उत्तर प्रदेश की उन सीटों में शामिल है, जिन्हें समाजवादी पार्टी (SP) और बहुजन समाज पार्टी (BSP) का गठबंधन भारतीय जनता पार्टी (BJP) से छीनना चाहता ही. इस सीट पर 2014 से पहले 15 सालों तक बारी-बारी से एसपी और बीएसपी ने राज किया. लेकिन 2014 आम चुनावों की मोदी लहर में बीजेपी ने यहां वापसी कर ली.

बीजेपी पहले लगातार दो बार 1996 और 1998 में यहां कब्जा जमा चुकी हैं. लेकिन 1998 के बाद बीजेपी को यहां जीत नसीब नहीं हुई थी. पर अब जब बीजेपी ने 2014 में यहां दोबारा वापसी कर ली तो वह फिर से चुनाव जीतने के फिराक में रहेगी. जबकि सपा और बसपा किसी हाल में अपनी खोई साख वापस पाने की जंग लड़ेंगे.

मछलीशहर लोकसभा चुनाव 2019 के प्रत्याशी
मछलीशहर में बीजेपी ने इस बार पिछले साल के बसपा प्रत्याशी को ही अपना टिकट दिया है. उन्होंने कुछ समय पहले ही बीजेपी ज्वाइन की थी. 2019 के आम चुनाव में वीपी सरोज दूसरे नंबर रहे थे. ऐसे में बीजेपी विरोधी खेमे के नेता को ही अपना बनाकर गठबंधन की मुश्किलें बढ़ा दी हैं. गठबंधन ने इस बार टी राम को अपना उम्मीदवार बनाया है. जबकि यहां जन अधिकार पार्टी भी मैदान में है. इसके अउम्मीदवार अमरनाथ पासवान दोनों ही पा‌र्टियों के वोट काटने की क्षमता रखते हैं. यहां लोकसभा चुनाव 2019 के छठे चरण में अगामी 12 मई को वोट डाले जाएंगे.

मछलीशहर लोकसभा चुनाव 2014 के परिणाम
बीजेपी ने अपने उम्मीदवार को एक रणनीति के तहत हटाया है. क्योंकि विरोधी खेमे के नेता को अपनी पाली में लाने की यही कीमत चुकानी पड़ी हो, ऐसा हो सकता है. लेकिन पिछले आम चुनाव के रिकॉर्ड पर नजर डालें तो बीजेपी के राम चरित्र निषाद 438210, दूसरे नंबर पर बसपा के वीपी सरोज 266055 वोट, सपा के तूफानी को 191387 वोट और कांग्रेस को तूफानी निषाद को 36275 वोट मिले थे. ऐसे में अगर पहले और दूसरे नंबर के बीच अंतर को देखें तो यह दो लाख से ज्यादा का था.

मछलीशहर लोकसभा क्षेत्र का समीकरण
Loading...

साल 2011 में जनगणना के आंकड़ों पर नजर डालें मछलीशहर तहसील की कुल जनसंख्या 7,36,209 थी. इनमें 3,75,252 महिलाएं और 7,36,209 पुरुष थे. हालांकि मछलीशहर संसदीय क्षेत्र की कुल आबादी का 22.7% यानी 166,766 लोग अनुसूचित जाति से ताल्लुक रखते हैं. हालांकि बात हिन्दी व मुस्लिम आबादी में फर्क ढूंढ़ें तो 90.61 हिंदू और 8.9% मुस्लिम आबादी है. मछलीशहर लोकसभा सीट के अंतरगत पांच विधानसभा क्षेत्र मछलीशहर, मरियाहू, जाफराबाद, केराकत और पिंडरा आते हैं.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए इलाहाबाद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 8, 2019, 3:12 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...