लाइव टीवी

सपा नेता जितेंद्र यादव हत्याकांड: पत्नी ने बीजेपी MLA पर लगाया हत्या की साजिश का आरोप

News18 Uttar Pradesh
Updated: December 10, 2019, 11:22 AM IST
सपा नेता जितेंद्र यादव हत्याकांड: पत्नी ने बीजेपी MLA पर लगाया हत्या की साजिश का आरोप
सपा नेता की हत्या के बाद रोती बिलखती पत्नी

सोमवार को फरेंदा थाना क्षेत्र के महुअवा चौराहे पर सपा नेता जितेंद्र यादव अज्ञात हमलावरों ने गोली मारी थी.

  • Share this:
महाराजगंज. सपा नेता जितेंद्र यादव हत्याकांड (Jitendra Yadav Murder Case) में मृतक की पत्नी ने फरेंदा से बीजेपी विधायक (BJP MLA) बजरंग बहादुर सिंह (Bajrang Bahadur Singh) के खिलाफ तहरीर दी है. मृतक की पत्नी ने अपने तहरीर में बीजेपी विधायक पर साजिश के तहत हत्या कराने का आरोप लगाया है. हालांकि थाने पर पुलिस (Police) के आला अधिकारी मौजूद हैं. मामले में अभी तक बीजेपी विधायक के खिलाफ कोई भी एफआईआर दर्ज नहीं हुई है. पुलिस ने एक दूसरी तहरीर पर नामजद व अज्ञात बदमाशों की खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है.

बता दें सोमवार को फरेंदा थाना क्षेत्र के महुअवा चौराहे पर सपा नेता जितेंद्र यादव अज्ञात हमलावरों ने गोली मारी थी. जितेंद्र यादव को चार गोली लगी थी और अस्पताल ले जाते वक्त उनकी मौत हो गई थी. इस हमले में जितेंद्र का एक साथी भी गंभीर रूप से घायल हुआ है, जिसका इलाज चल रहा है.

मामले में दो गिरफ्तार

मृतक जितेंद्र की पत्नी बबिता यादव ने अपने तहरीर में बीजेपी विधायक बजरंग बहादुर सिंह और नागेश्वर पासवान पर हत्या की साजिश का आरोप लगाया है. तहरीर में मृतका की पत्नी ने यह भी कहा है कि इससे पहले अक्टूबर में भी उनके पति पर जान से मारने की नियत से हमला करवाया गया था. हालांकि मृतक की पत्नी बबिता यादव की तहरीर पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया गया है. पुलिस ने व के ही नामजद रामवृक्ष पासवान, महावीर पासवान, दीनानाथ पासवान, रामकेश पासवान व दो अज्ञात के खिलाफ

आईपीसी की धारा 147, 148, 149, 307, 302 और के तहत मुकदमा दर्ज किया है. इसमें से रामवृक्ष पासवान और महावीर पासवान को पुलिस गिरफ्तार कर लिया है. एसपी रोहित सिंह सजवान ने बताया कि
विधायक के खिलाफ तहरीर नहीं मिली है. पत्नी की दी गई तहरीर के आधार पर ही मुकदमा दर्ज किया गया है. हालांकि न्यूज18 को प्राप्त हुई तहरीर में बीजेपी विधायक पर आरोप लगाए गए हैं.

सपा ने जाम लगाकर किया विरोधबता दें 7 अक्टूबर को भी सपा नेता व जिला पंचायत सदस्य के पुत्र जितेंद को बदमाशो ने 3 गोली मारी थी. लेकिन उस घटना में सपा नेता जितेंद इलाज के दौरान बच गया था. उस घटना में भी पुलिस कुछ नही कर पाई थी और अब सपा नेता की हत्या कर दी गई. सपा नेता की पत्नी ने स्थानीय बीजेपी विधायक और पुलिस पर सुरक्षा न देने और अपराधियों को शह देने का आरोप लगाकर सड़क जाम कर विरोध किया. इस दौरान जिले के समाजवादी नेता भी उनके साथ रहे.

सपा ने स्थानीय विधायक को ठहराया जिम्मेदार

करीब 3 बजे पुरंदरपुर थाना छेत्र के महुअवा चैराहे पर पहले से घात लगाकर बैठे अज्ञात बदमाशों ने सपा नेता व जिला पंचायत सदस्य के पुत्र को ताबड़तोड़ कई गोलियां मारकर फरार हो गए. इस घटना में सपा नेता की अस्पताल ले जाते समय मौत हो गई. इस हमले में उनका साथी गंभीर रूप से घायल है. सपा जिलाध्यक्ष राजेश यादव ने सपा नेता की हत्या पर सरकार और पुलिस को कटघरे में खड़ा किया और स्थानीय बीजेपी विधायक को भी जिम्मेदार ठहराया.

हिस्ट्रीशीटर और गैंगेस्टर का मुलजिम था मृतक

घटना के बारे में बताते हुए एसपी ने बताया कि गांव में ही सपा नेता की पुरानी रंजिश चलती है. मृतक जितेंद्र पुरंदरपुर थाने का हिस्ट्रीशीटर और गैंगेस्टर का भी मुलजिम है और पैरोल पर बाहर आया था.  7 अक्टूबर को इनके ऊपर गोली चलाने के मामले में तीनों नामजद आरोपियो को गिरफ्तार किया जा चुका है. इस घटना में जिसका भी नाम आएगा उनके विरुद्ध कड़ी कार्यवाई की जाएगी.

(इनपुट: आशीष कुमार शुक्ल)

ये भी पढ़ें:

'पैसा भरम डाल देता है रिश्तों में, बिजली बिल जमा करिए किस्तों में'

यूपी में अब देर रात सफर कर रही महिलाओं को घर तक छोड़ेगी पुलिस!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए महाराजगंज से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 10, 2019, 11:22 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर