लाइव टीवी

महोबा: फर्जी दरोगा की 6 सदस्यीय पुलिस टीम गिरफ्तार, ट्रकों से करते थे लाखों की वसूली

News18 Uttar Pradesh
Updated: November 4, 2019, 5:21 PM IST
महोबा: फर्जी दरोगा की 6 सदस्यीय पुलिस टीम गिरफ्तार, ट्रकों से करते थे लाखों की वसूली
पुलिस के हत्थे चढ़ा फर्जी पुलिस गैंग

पुलिस की गिरफ्त में आया यह फर्जी गैंग नेशनल हाईवे में अपनी पुलिस लिखी स्कार्पियो गाड़ी के साथ ओवरलोड ट्रकों को बॉर्डर पार करने के नाम पर अवैध वसूली करते थे.

  • Share this:
महोबा. ज़िले में सक्रिय पुलिस (Police) की एक फर्जी गैंग का भंडाफोड़ हुआ है. यूपी पुलिस के दरोगा की खाकी वर्दी पहनकर एक फर्जी दरोगा (Police Imposter) 6 नकली पुलिस जवानों के बल पर सभी ओवरलोड ट्रकों से लाखों रुपयों की अवैध वसूली करता था. हाईवे पर ट्रकों से अवैध वसूली करने वाले दरोगा सहित उसके छह साथियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर उनके कब्जे से लखनऊ नंबर की पुलिस लिखी स्कार्पियो गाड़ी बरामद की है. फर्जी दरोगा की स्कार्पियों कार में हूटर, पुलिस पीए सिस्टम (पब्लिक एड्रेस सिस्टम) और पिस्टल भी बरामद किया गया है.

पुलिस की गिरफ्त में आया यह फर्जी गैंग नेशनल हाईवे में अपनी पुलिस लिखी स्कार्पियो गाड़ी के साथ ओवरलोड ट्रकों को बॉर्डर पार करने के नाम पर अवैध वसूली करते थे. यह लोग अपनी गाड़ी में आगे पुलिस की कैप रख कर रुआब झाड़ते थे. ट्रक ड्राइवर हूटर लगी और पुलिस लिखी गाड़ी में दरोगा की कैप देख कर इन्हें असली पुलिस मान कर मोटी रकम दे देते थे. इनके गिरफ्तार होने के बाद अपर पुलिस अधीक्षक वीरेंद्र सिंह ने भी माना कि यह गैंग पुलिस की टोपी और पुलिस लिखी गाड़ी का दुरुपयोग करते थे.

रात में करते थे वसूली

दरअसल, महोबा ज़िले के कबरई कस्बे में तकरीबन 500 स्टोन क्रशर है जिनसे पूरे प्रदेश में गिट्टी की सप्लाई होती है. इन्ही गिट्टी लदे ओवरलोड ट्रकों से अवैध वसूली करने के लिए विनय सिंह नाम के एक युवक ने अपना गैंग बना कर खुद फर्जी दरोगा बन गया था और ट्रकों से अवैध वसूली का खुला खेल खेला जा रहा था. लेकिन आख़िरकार कबरई थाने की पुलिस ने फर्जी दरोगा के गैंग का भांडा फोड़ कर दिया. कहा जा रहा है कि संभव है इस गैंग को किसी अधिकारी का संरक्षण भी प्राप्त रहा हो. अब कबरई थाने की पुलिस इस फर्जी दरोगा और उसके साथियों से पूछताछ कर रही है जिसके बाद कई और खुलासे की उम्मीद है.

इनकी हुई गिरफ्तारी

कबरई पुलिस की हिरासत में बैठे फर्जी दरोगा के साथ नकली पुलिस जवान कबरई विकास खंड के सुरहा गांव के रहने वाले है. इनकी माने तो यह अपने चाचा की पुलिस कैप, सरकारी पिस्टल और पुलिस का पीए सिस्टम (पब्लिक एड्रेस सिस्टम) लगाकर स्कार्पियों कार में सवार होकर देर रात सड़कों पर निकलते थे. कबरई विकास खंड के सुरहा ग्राम के निरंजन फर्जी दरोगा बनकर अपने 6 साथियों विनय सिंह, गिरीश शुक्ला, राजवेन्द्र सिंह, सतेंद्र सिंह, विजय सिंह संजय सिंह के साथ मिलकर हाईवे की सड़कों पर रौब ग़ालिब कर अवैध वसूली को अंजाम देते थे.

ये भी पढ़ें:
Loading...

अयोध्या फैसले से पहले महोबा के SP ने लगाई 'भौकाली पाठशाला'...

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए महोबा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 4, 2019, 5:21 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...