महोबा: कर्ज में डूबे किसान ने मिट्टी का तेल डालकर किया आत्मदाह

महोबा के कैमाहा गांव में शनिवार रात कर्ज से परेशान एक किसान ने अपने ऊपर मिट्टी का तेल डालकर आत्मदाह कर लिया.

News18Hindi
Updated: October 22, 2017, 3:53 PM IST
महोबा: कर्ज में डूबे किसान ने मिट्टी का तेल डालकर किया आत्मदाह
प्रतीकात्मक फोटो
News18Hindi
Updated: October 22, 2017, 3:53 PM IST
महोबा के कैमाहा गांव में शनिवार रात कर्ज से परेशान एक किसान ने अपने ऊपर मिट्टी का तेल डालकर आत्मदाह कर लिया. बताया जा रहा है कि मृतक किसान ने लोन लेकर ट्रैक्टर लिया था, जिसको एक वर्ष पहले बैंक ने खिंचवा लिया था.

मामला कोतवाली इलाके के कैमाहा गांव की है. जहां 42 साल के मिजाजी अहिरवार ने घर पर कमरे का दरवाजा अंदर से बंद करके अपने ऊपर मिट्टी का तेल डाल कर आग लगी ली. उस समय उसकी पत्नी सुनीता जानवरों को चारा डालने गई थी.

पत्नी जब वापस आई तो अंदर आग की लपटें देख चिल्लाई और मदद के लिए गुहार लगाई. शोर सुन कर और लोग आ गए. लोगों ने दरवाजा तोड़ कर मिजाजी को बाहर निकाला लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी.

बताया जा रहा है कि मृतक किसान के पास 3.5 बीघा जमीन है. पत्नी सुनीता ने बताया कि 2005 में ट्रैक्टर लिया था लेकिन उसका कर्ज न चुका पाने के कारण एक वर्ष पहले स्टेट बैंक जैतपुर शाखा ने उसे खिंचवा लिया था. जिसका 6 लाख रुपये का कर्जा था.

इलाहाबाद यूपी ग्रामीण बैंक श्रीनगर से बकरी के लिए 60 हजार का कर्ज लिया था. इधर कई वर्षो से सूखा की वजह से फसल सही नहीं हो पाने से कर्ज नहीं चुक पाया था.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...