महोबाः ओलावृष्टि से बर्बाद फसल के मुआवजे के लिए किसानों ने जाम किया हाइवे

ओलावृष्टि से सबसे ज्यादा प्रभावित कुलपहाड़ तहसील के झांसी-मिर्जापुर हाइवे 339 पर सैकड़ों किसानों ने एकजुट होकर प्रदर्शन किया और घंटों तक हाइवे को बंद कर रखा

ETV UP/Uttarakhand
Updated: February 13, 2018, 10:41 PM IST
ETV UP/Uttarakhand
Updated: February 13, 2018, 10:41 PM IST
महोबा जिले में ओलावृष्टि से तबाह हुई फसलों के मुआवजे की मांग को लेकर मंगलवार को किसान सड़कों पर उतर आए और सड़क पर जमकर हंगामा किया. ओलावृष्टि से सबसे ज्यादा प्रभावित कुलपहाड़ तहसील के झांसी-मिर्जापुर हाइवे 339 पर सैकड़ों किसानों ने एकजुट होकर प्रदर्शन किया और घंटों तक हाइवे को बंद कर रखा.

सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने हाइवे को खुलवाने की कोशिश की तो किसानों ने एसपी पर पथराव करना शुरू कर दिया, जिससे बचाव के लिए पुलिस ने किसानों को तितर-बितर करने के लिए मौके पर  हवाई फायरिंग के अलावा हल्की लाठीचार्ज भी करना पड़ा.

रिपोर्ट के मुताबिक कुलपहाड़ कोतवाली के झांसी-मिर्जापुर हाइवे पर प्रदर्शन कर रहे किसानों से मिलने  पहुंची पुलिस पर किसानों ने अचानक से पथराव करना शुरू कर दिया. पुलिस टीम पर पथराव होते देख पुलिस अधीक्षक एन. कोलांचि भी आगबबूला हो गए और पुलिस टीम को जाम खुलवाने के निर्देश दिए.

पुलिस अधीक्षक का निर्देश पाकर पुलिस टीम ने प्रदर्शन कर रहे किसानों पर हल्का लाठीचार्ज किया. बताया जाता है करीब आधे घंटे तक हाइवे 339 पर चली पुलिस कार्रवाई में बड़ी मुश्किल से हालात पर काबू पाया जा सका. किसानों के पथराव से बचने के लिए एसपी भी लाठी लेकर सड़क पर उतर गए थे.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर