महोबा: छेड़छाड़ से परेशान किशोरी ने मनचले को सिखाया सबक

कभी घर के बाहर तो कभी आते जाते लड़की के साथ मनचला अश्लील इशारे करता था.लेकिन महिला पहलवानों की कुस्ती देखकर उससे अंदर जागे आत्मबल ने उसे झकझोर दिया और फिर उसने शोहदे को सबक सिखाने की ठानी.

Manoj Ojha | ETV UP/Uttarakhand
Updated: January 31, 2018, 12:40 PM IST
Manoj Ojha | ETV UP/Uttarakhand
Updated: January 31, 2018, 12:40 PM IST
महोबा में 6 माह से शोहदे की छेड़छाड़ से परेशान किशोरी ने महिला दंगल से प्रेरित होकर मनचले की हाथों ओर चप्पलों से पिटाई कर दी. सरेशाम सड़क पर किशोरी से छेड़छाड़ को लेकर एकत्र भीड़ ने भी शोहदे की पिटाई कर जमकर सबक सिखाया.

हैरत की बात है कि करीब 30 मिनट की मारपीट के बाद भी महोबा पुलिस मौके पर पहुंचने में नाकाम साबित हुई. फिलहाल पुलिस ने आरोपी को हिरासत में लेकर कार्यवाही शुरू कर दी है.

महोबा शहर कोतवाली के रोडवेज बस स्टॉप के सामने स्थित बड़े हनुमान जी मंदिर का है जहां शहर की एक लड़की अपने परिवार के साथ महिला दंगल देखकर मंदिर पहुंची थी. महिला पहलवानों की कुश्ती से प्रभावित होकर किशोरी के अंदर आत्मनिर्भर बनने की ललक जाग उठी. किशोरी पिछले 6 माह से एक शोहदे की छींटाकशी और छेड़छाड़ का शिकार बन रही थी.

कभी घर के बाहर तो कभी आते जाते लड़की के साथ मनचला अश्लील इशारे करता था.लेकिन महिला पहलवानों की कुस्ती देखकर उससे अंदर जागे आत्मबल ने उसे झकझोर दिया और फिर उसने शोहदे को सबक सिखाने की ठानी.

किशोरी अपनी मां के साथ शाम के वक्त मंदिर दर्शन के लिए पहुंची तो और वहां शोहदे की हरकत खुद उसी के लिए काल बन गई. किशोरी ने उसकी चप्पलों से जमकर पिटाई की तो वहीं मां ने भी बेटी का साथ देते हुए मनचले को जमकर पीटा. देखते ही देखते मंदिर के बाहर लोगों का हुजूम इकठ्ठा हो गया. जो भी निकला मनचले की इस करतूत पर उसे मार लगाता गया.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर