नहीं थम रहा अवैध खनन का कारोबार

अवैध खनन का कारोबार.

Manoj Ojha | ETV UP/Uttarakhand
Updated: November 6, 2017, 6:26 PM IST
Manoj Ojha | ETV UP/Uttarakhand
Updated: November 6, 2017, 6:26 PM IST
यूपी के महोबा जिले में खनिज माफियाओं का काला कारोबार धड़ल्ले से चल रहे है. बेखौफ माफिया दिन-रात अवैध खनन के काले कारोबर को अंजाम दे रहे हैं. नदियों से जीसीबी मशीनों की मदद से कीमती बालू का ट्रकों पर ओवरलोडिंग जारी है. उसके बाद खेत से होते हुए ये ट्रक हाईवे से गुजरते हैं और पुलिस प्रशासन की मिलीभगत से काले कारोबार को अंजाद दिए जा रहे हैं.

कानूनी रूप से खनन पट्टा धारक के पास खनन करने के लिए प्रपत्र एमएम-11 में पास होना चाहिए. लेकिन यहां हालत ऐसे हैं कि, बिना एमएम-11 के भी काला कारोबार खुलेआम किया जा रहा है. वहीं कुछ लोगों को घन मीटर के आधार पर खनिज विभाग एमएम-11 उपलब्ध कराया गया था.

इससे पहले घाटों से बालू का परिवहन किया जा चुका है. पनवाड़ी के पास बिजरारी, नोगाव फदना ,इटौरा, पिपरी, महुआ, नकरा समेत आधा दर्जन घाटों पर बालू का परिवहन किया जा रहा है. इस काले कारोबार के कारण शासन का प्रतिदिन लाखों रुपए का घाट हो रहा है.

वहीं जिलाधिकारी से जब ईटीवी/ न्यूज18 की टीम ने बातचीत की तो उन्होंने मामले की जांच की बात कही है. देखना होगा की जिलाधिकारी की जांच के बाद नियमावली के तहत काला कारोबार बंद होगा?.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...