पाक के इशारे पर, आतंकियों के दबाव में किया गया कर्नाटक में महागठबंधन

भाजपा के पूर्व सांसद ने दिया विवादित बयान, आतंकियों और पाकिस्तान के इशारे पर काम करेगा गठबंधन

News18 Uttar Pradesh
Updated: May 24, 2018, 11:10 PM IST
News18 Uttar Pradesh
Updated: May 24, 2018, 11:10 PM IST
हमीरपुर-महोबा के पूर्व सांसद और बीजेपी नेता गंगाचरण राजपूत ने कर्नाटक में विपक्षी दलों के गठबंधन करने पर विवाद पैदा करने वाला बयान दिया है. उन्होंने कहा कि कर्नाटक में महागठबंधन पाकिस्तान और आतंकवाद के इशारे पर किया गया है और यह गठबंधन आतंकियों और पाकिस्तान के इशारे पर काम करेगा. पूर्व सांसद ने महागठबंधन में शामिल सभी दलों के एकजुट होने से देश में अस्थिरता बढ़ने का भी अंदेशा जताया है.

कर्नाटक में महागठबंधन के मुख्यमंत्री के शपथ-ग्रहण के बाद राजनीतिक सरगर्मी तेज होने लगी है. महागठबंधन अमित शाह और नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली भाजपा को आगामी लोकसभा चुनाव 2019 में चुनौती देने की तैयारी कर रहा है. यह गठबंधन पीएम मोदी को 2019 में सबसे बड़ी पार्टी के रूप में आम चुनाव जीतने से रोकने के लिए और कर्नाटक में भाजपा को सत्ता से दूर रखने के लिए किया गया है. पूर्व सांसद ने संवाददाताओं से वार्ता करते हुए कहा की पाकिस्तान और आतंकवादियों के इशारे पर महागठबंधन को बल मिला है.

गंगाचरण राजपूत ने कहा कि कर्नाटक में कुमारस्वामी के शपथ ग्रहण समारोह में विपक्षी एकता का प्रदर्शन किया गया. समारोह में जो चेहरे सामने आये वो चेहरे जातिवाद के थे, परिवारवाद के थे और भ्रष्टाचार के थे. भारतीय जनता पार्टी का कहना है कि जो गठबंधन कर्नाटक में किया गया है वह परिवारवाद का, जातिवाद का और भ्रष्टाचार का महागठबंधन है. उन्होंने कहा कि इस गठबंधन से देश में अस्थिरता आएगी, परिवारवाद बढ़ेगा, जातिवाद बढ़ेगा और भ्रष्टाचार बढ़ेगा. यह गठबंधन पाकिस्तान के इशारे पर और आतंकियों के दबाव में किया गया है और यह गठबंधन पाकिस्तान और आतंकियों के इशारे पर काम करेगा. देश की प्रगति को रोकेगा, देश के विकास को रोकेगा.

बुंदेलखंड में पर्यटन को बढ़ावा देने का खाका तैयार

राजपूत ने बताया कि बुंदेलखंड में बेरोजगारों को रोजगार मुहैया कराने को लेकर बीजेपी सरकार तमाम प्रयास कर रही है. बन्देलखण्ड का कश्मीर कहे जाने वाले चरखारी नगर में पर्यटन को बढ़ावा देने का सरकार ने खाका तैयार कर लिया है. टूरिज्म के जरिए युवाओं को रोजगार देने का प्रयास किया जा रहा है.

चरखारी में टूटे-फूटे पड़े ओल्ड पैलेस को जीवंत कर बुंदेलखण्ड के अजेय महाराज छत्रसाल के अंगवस्त्र, कवच सहित तमाम राजाओं की ऐतिहासिक सामग्री को संग्रहालय में रखा जाएगा. इससे विश्व पर्यटक स्थल खजुराहो आने वाले हजारों सैलानियों के बुंदेलखण्ड के चरखारी में पहुंचने से युवाओं को रोजगार मिलेगा.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर