लाइव टीवी

महोबा: सरकारी हैंडपंप से दूषित पानी पीने से 100 से ज्यादा बीमार, मचा हड़कंप, डीएम ने गठित की जांच टीम

News18 Uttar Pradesh
Updated: February 6, 2020, 10:36 AM IST
महोबा: सरकारी हैंडपंप से दूषित पानी पीने से 100 से ज्यादा बीमार, मचा हड़कंप, डीएम ने गठित की जांच टीम
बीमार ग्रामीणों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

महोबा (Mahoba) डीएम अवधेश कुमार तिवारी ने मामले को गंभीरता से लेते हुए मामले में जांच के आदेश दिए हैं. साथ ही बीमार ग्रामीणों का हाल जानने के लिए डीएम खुद जिला अस्पताल जा पहुंचे.

  • Share this:
महोबा. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के महोबा (Mahoba) जिले में सरकारी हैडपम्प का पानी जहर बन गया है. हैडपम्प का पानी पीने से पलका गांव के दर्जनों बच्चों सहित करीब 100 से ज्यादा ग्रामीण बीमार हो गए हैं. ग्रामीणों की हालत लगातार बिगड़ने से गांव में अफरा-तफरी का माहौल बना हुआ है. 5 से अधिक एम्बुलेंसों से 60 से ज्यादा ग्रामीणों को जिला अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया है. घटना को गंभीरता से लेते हुए डीएम ने स्वास्थ विभाग और जल निगम की टीम गठित कर जांच के आदेश दिए है.

सदर तहसील के पलका गांव में लगे सरकारी हैंडपंप गांववालों की प्यास बुझाने की जगह उनकी जान के दुश्मन बन गए हैं. दोनों हैंडपंपों से निकलने वाले पानी से गांव के हर घर से बच्चे, बूढ़े और जवान बीमार होकर जिला अस्पताल पहुंच रहे हैं. ग्रामीणों की बिगड़ती स्थिति को देख स्वास्थ विभाग की टीमों ने गांव में अपना डेरा डाल लिया है. अब गांव में ही बीमार लोगों के बेहतर इलाज का दावा किया जा रहा है.

डीएम ने की 35 लोगों के जिला अस्पताल में भर्ती होने की पुष्टि
महोबा डीएम अवधेश कुमार तिवारी ने मामले को गंभीरता से लेते हुए मामले में जांच के आदेश दिए हैं. साथ ही बीमार ग्रामीणों का हाल जानने के लिए डीएम खुद जिला अस्पताल जा पहुंचे. डीएम ने करीब 35 लोगों के जिला अस्पताल पहुंचने की पुष्टि की है.

बच्चों और बुजुर्गों की सबसे ज्यादा हालत खराब
उधर सरकारी एम्बुलेंस से जिला अस्पताल की दहलीज पर उतर रहे ग्रामीणों के जुबां से एक ही आवाज निकल रही है कि डॉक्टर साहब हमें बचा लीजिए. बीमार ग्रामीणों को देख सीएमएस ने तमाम चिकित्सकों के साथ मिलकर आनन-फानन में इलाज शुरू कर दिया. ग्रामीण बीमारों में सबसे बुरी हालत मासूम बच्चों और बुजुर्ग महिलाओ की है, जो दूषित पानी से बीमारी का दंश झेल रहे हैं.

हैंडपंप के दूषित पानी से लोग हो रहे बीमार: ग्राम प्रधानग्राम प्रधान बृजलाल की मानें तो हैडपम्प के दूषित जल से ही गांव में लोग बीमारी का शिकार हुए हैं. गांव में सरकारी एम्बुलेंस के द्वारा बीमार लोगों को इलाज के लिए जिला अस्पताल भेज जा रहा है. संक्रामक बीमारी से बचाव को लिए दवा का छिड़काव किया जा रहा है.

ये भी पढ़ें:

मोहन भागवत को राम मंदिर ट्रस्ट का परम अध्यक्ष बनाने की उठी मांग, अनशन

हरदोई: शादी टूटने के बाद प्रेमी के घर पहुंची युवती ने खुद को लगाई आग, मौत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए महोबा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 6, 2020, 10:36 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर