महोबा में शॉर्ट सर्किट से लगी भीषण आग, कई दुकानें जलीं, लगभग 1 करोड़ की संपत्ति के नुकसान का अनुमान

आग से 11 दुकान एवं अन्य सामान जलकर खाक हो गये (फाइल फोटो)
आग से 11 दुकान एवं अन्य सामान जलकर खाक हो गये (फाइल फोटो)

आग (Fire) इतनी भयावह थी कि 10 घंटे बाद इस पर काबू पाया जा सका. दमकल की 3 गाड़ियां इस पर काबू पाई.

  • Share this:
महोबा. यूपी के महोबा में दुकानों में भीषण आग (Fire) लग जाने से लगभग एक करोड़ की संपत्ति जलकर खाक हो गयी. इस अग्निकांड में 11 छोटी- बड़ी दुकानें, कार और भूसा गोदाम पूरी तरह जलकर खाक हो गये. आग इतनी भीषण थी कि करीब 4 घंटों की कड़ी मशक्कत के बाद फायर ब्रिगेड (Fire Brigade) की कई गाड़ियों के द्वारा इस आग पर काबू पाया गया. प्रशासन ने अलगली की जांच का आदेश दिया है.

महोबा शहर में गुरुवार देर रात शार्ट सर्किट और पटाखे की चिंगारी से भीषण आग लग गई. आग इतनी भयावह थी कि 10 घंटे बाद इस पर काबू पाया जा सका. जेसीबी मशीन के द्वारा आग में खाक हो चुकी गुमटियों को भूसे के ढेर को इधर से उधर किया गया. एसपी अरुण कुमार श्रीवास्तव और सदर एसडीएम राजेश यादव ने मौके पर पहुंचकर पीड़ित दुकानदारों को हर संभव मदद का आश्वासन दिया.

आग के कारण शहर के कोतवाली इलाके के गांधीनगर क्षेत्र में आग से करीब 11 दुकानें जलकर खाक हो गईं. इन दुकानों में फर्नीचर की दुकान, कम्प्यूटर फोटो कॉपी, सब्जी, बड़ा भूसा गोदाम शामिल थे. आग लगने के कारणों का पता नहीं चल पाया है. लेकिन आशंका है कि शॉर्ट सर्किट से आग लगी.



स्थानीय निवासी ने बताया कि वे लोग घर में सोए हुए थे. तभी अचानक घर के बाहर शोर हुआ जब घर से निकल कर देखा तो सामने भीषण आग लगी हुई थी. आग में टायर फर्नीचर भूसे सहित आधा दर्जन से अधिक कच्ची पक्की दुकानें चल गईं. दुकानदारों के मुताबिक करीब एक करोड़ के नुकसान का  अनुमान लगाया गया है.
एसपी अरुण कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि जिलाधिकारी के निर्देश पर जिला प्रशासन की टीम नुकसान के आकलन में जुटी हुई है. जिसके बाद पीड़ितों को मुआवजा दिलाया जाएगा. आग शॉर्ट सर्किट से लगने की आशंका जताई जा रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज