जब एक साथ उठी देवर-भाभी की अर्थी तो पूरा गांव हो गया गमगीन

मामला महोबा के चरखारी कोतवाली क्षेत्र का है. कहा जा रहा है कि नरेडी गांव निवासी चंचल अपनी भाभी दीपा का झांसी स्थित अस्पताल में इलाज कराकर मोटरसाइकिल से वापस गांव लौट रहा था.

News18 Uttar Pradesh
Updated: July 9, 2019, 4:06 PM IST
जब एक साथ उठी देवर-भाभी की अर्थी तो पूरा गांव हो गया गमगीन
भयानक सड़क हादसा (प्रतीकात्मक फोटो)
News18 Uttar Pradesh
Updated: July 9, 2019, 4:06 PM IST
उत्तर प्रदेश के महोबा में एक भीषण सड़क हादसा हुआ है. इस भीषण हादसे में देवर-भाभी की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई. घटना के बाद ट्रक चालक मौके से फरार हो गया. सड़क हादसे में दोनों की मौत की खबर फैलते ही आसपास के इलाके में सनसनी फैल गई. सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. साथ ही मामले की जांच शुरू कर दी गई है.

देवर अस्पताल में इलाज कराकर मोटरसाइकिल से वापस लौट रहा था 

जानकारी के मुताबिक, मामला महोबा के चरखारी कोतवाली क्षेत्र का है. कहा जा रहा है कि नरेडी गांव निवासी चंचल अपनी भाभी दीपा का झांसी स्थित अस्पताल में इलाज कराकर मोटरसाइकिल से वापस गांव लौट रहा था. तभी शहर कोतवाली क्षेत्र स्थित राष्ट्रीय राजमार्ग 86 पान अनुसंधान केन्द्र के पास विपरीत दिशा से आ रहे ट्रक ने सामने से जोरदार टक्कर मार दी. टक्कर इतनी तेज थी कि मोटरसाइकिल के परखच्चे उड़ गए.

देवर चंचल और भाभी दीपा की मौके पर ही दर्दनाक मौत 

इस घटना से देवर चंचल और भाभी दीपा की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई है. मृतक 20 वर्षीय चंचल अपनी भाभी को रात में करीब 9 बजे ट्रेन द्वारा झांसी से वापस महोबा लेकर पहुंचा था. वह महोबा से मोटरसाइकिल से भाभी के गांव बिलरही थाना श्रीनगर छोड़ने जा रहा था. देवर-भाभी की मौके पर हुई मौत से परिजनों में कोहराम मच गया है. सूचना के बाद मौके पर पहुंची स्थानीय पुलिस और डायल 100 ने शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया.

ये भी पढ़ें- 

एक्‍सप्रेसवे हादसा: झपकी नहीं यह है एक्सीडेंट की बड़ी वजह
Loading...

हरदोई पुलिस का कारनामा: हिन्दू युवक को कब्रिस्तान में दफनाया
First published: July 9, 2019, 4:00 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...