जेल में सजायाफ्ता कैदी की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत, शरीर पर मिले चोट के निशान!

वहीं इस पुरे मामले को लेकर एसपी कुंवर अनुपम सिंह ने बताया कि कारागार से कैदी की मौत की सूचना आई. जिस पर शव का पंचनामा भर पोस्टमार्टम कराया जा रहा है.

News18 Uttar Pradesh
Updated: September 5, 2018, 11:35 PM IST
News18 Uttar Pradesh
Updated: September 5, 2018, 11:35 PM IST
उत्तर प्रदेश में महोबा का जिला उपकारागार अपनी कारगुजारियों के चलते हमेशा सुर्खियों में बना रहता है. एक बार फिर कैदी की मौत होने से जिला उपकारागार सुर्खियों में है. हत्या मामले में आजीवन कारावास की सजा काट रहे कैदी की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई. मृतक के शरीर पर चोट के निशान बने हुए हैं. मृतक के परिजनों ने हंगामा काटते हुए कानपुर-सागर राष्ट्रीय राजमार्ग पर जाम लगा दिया. जाम से हाईवे के दोनों ओर गाड़ियों की लंबी कतारें लग गईं.

मृतक के बेटे का आरोप है कि जेल के अंदर मेरे पिता की हत्या की गई है. मृतक का परिवार कैदी के शव का पोस्टमार्टम जिले के तीन वरिष्ठ डॉक्टरों की देखरेख में और पोस्टमार्टम की वीडियोग्राफी कराने की मांग कर रहा है. वहीं पूरे मामले में प्रशासन ने मामले में जांच और कार्रवाई का आश्वासन दिया है.

मामला महोबा शहर कोतवाली के दिसरापुर ग्राम का है. जहां रहने वाला मृतक 55 वर्षीय भूप सिंह हत्या के मामले में महोबा उपकारागार में आजीवन कैद की सजा काट रहा था. मृतक के पुत्र करन सिंह का आरोप है कि वो अपने पिता से मंगलवार को मिलने गया था, तब उन्हें किसी भी तरह की बीमारी नहीं थी. न ही उन्होंने किसी बीमारी आदि की बात उसे बताई. कल मिलाई के दौरान उसके पिता पूरी तरह से ठीक थे.

मृतक के बेटे ने बताया कि बुधवार की सुबह 8 बजे जेल से फोन आया कि आपके पिता की मृत्यु की हो गई है. फोन पर यह भी बताया गया कि आपके पिता का शव जिला अस्पताल के मोर्चरी हाउस में रखा हुआ है. इस पर कुछ शक हुआ. वहां जाकर देखा तो उनके शरीर पर चोट के निशान थे. जिससे लगता है कि उनकी जेल में हत्या कर दी गई है. बेटे ने कहा कि हम लोगों की मांग है कि पिता के शव का पोस्टमार्टम तीन डॉक्टरों का पैनल बनाकर करवाया जाए. इसके साथ ही पोस्टमार्टम की वीडियोग्राफी कराई जाए.

मृतक के परिजनों का कहना है कि भूप सिंह के शरीर पर चोट के निशान किसी अनहोनी की तरफ इशारा कर रहे है. मृतक के शरीर पर चोट और पिटाई के निशान बने हुए है.

वहीं इस पुरे मामले को लेकर एसपी कुंवर अनुपम सिंह ने बताया कि कारागार से कैदी की मौत की सूचना आई. जिस पर शव का पंचनामा भर पोस्टमार्टम कराया जा रहा है. परिजनों ने जेलर पर आरोप लगाए है, उनकी तहरीर के आधार पर जांच की जाएगी. जांच में अगर कोई दोषी पाया जाएगा तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. (रिपोर्ट- मनोज ओझा)
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर