महोबा: महिला सशक्तिकरण को बल देने के लिए शुरू हुआ कबड्डी टूनामेंट

तीन दिवसीय अंतरराज्जीय महिला कबड्डी टूर्नामेंट की शुरुआत बनारस और मुजफ्फरनगर के बीच हुए रोमांचक मैच से हुई जिसमे मुजफ्फरनगर की महिला टीम ने बनारस को 12 अंकों के अन्तर से हराया.

Manoj Ojha | ETV UP/Uttarakhand
Updated: January 29, 2018, 10:53 AM IST
Manoj Ojha | ETV UP/Uttarakhand
Updated: January 29, 2018, 10:53 AM IST
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा वर्ष 2018 में पहली मन की बात में महिला सशक्तिकरण को बल देने के उद्देश्य से प्रेरित होकर महोबा जनपद के मंगरौल ग्राम प्रधान ने गांव से ही महिला सशक्तिकरण को जोर देना शुरू कर दिया है.

गांव की पंचायत से महिला कबड्डी टूर्नामेंट की शुरुआत की गई है. इतना ही नहीं प्रधान ने प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र वाराणसी से महिला कबड्डी टीम का मुकाबला मुजफ्फरनगर नगर की टीम से करा जोरदार आगाज किया है. इस अंतरराज्यीय कबड्डी टूर्नामेंट का शुभारम्भ हमीरपुर महोबा से भाजपा सांसद पुष्पेंद्र सिंह चन्देल ने किया.

तीन दिवसीय अंतरराज्जीय महिला कबड्डी टूर्नामेंट की शुरुआत बनारस और मुजफ्फरनगर के बीच हुए रोमांचक मैच से हुई जिसमे मुजफ्फरनगर की महिला टीम ने बनारस को 12 अंकों के अन्तर से हराया.

देश के प्रधानमंत्री द्वारा मन की बात में महिला सशक्तिकरण को जोर दिया गया जिससे प्रभावित होकर बुन्देलखंड के महोबा जनपद के ग्राम मंगरौल के प्रधान ने ग्रामीण अंचलों की किशोरियों को आत्मबल जगाने के लिए कब्बडी खेल का आगाज किया है.

ये वही राष्टीय खेल है जिसमें महिला सशक्तिकरण की न केवल झलक देखने को मिलती है बल्कि इससे महिलाओं में आत्मनिर्भरता भी आती है. इस कबड्डी प्रतियोगिता का आयोजन करा रहे ग्राम प्रधान अर्जुन सिंह राजपूत बताते है कि आज भी ग्रामीणों अंचलों में महिलाएं शर्म और परदे में रहती हैं.

लेकिन अब जब गांव में शहरी क्षेत्र से कबड्डी खलने आई महिलाओं को देखकर इनकी अंदर भी कुछ कर गुजरने का जज्बा पैदा होने लगा है. ये देन पीएम मोदी कि है जिनकी मन की बात सुनकर मैंने ऐसे कार्यक्रम कराने का मन बनाया है

महिला कब्बडी का शुभारम्भ करने पहुंचे महोबा हमीरपुर सांसद पुष्पेंद्र सिंह चंदेल ने बताया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और सूबे के मुखिया योगी आदित्य नाथ भी गांव में छिपी नई प्रतिभाओं को आगे ले जाने को लेकर प्रयास कर रहे हैं.

गांव गांव में खेल के मैदान देने के लिए मौजूदा सरकार विचार कर रही है. आज पीएम के संसदीय क्षेत्र बनारस और मुजफ्फरनगर की महिला टीम के बीच बेहद रोमांचक मुकाबला देखने को मिला है. तो वहीं गांव में प्रतिभा के धनी लड़कियों को इन खिलाड़ियों से कुछ सीख कर कुछ कर गुजरने की ललक जाग उठी है.

टूर्नामेंट में प्रतिभागी बनी निशु ने बताया कि गांव मे छुपी प्रतिभाओं को निखारने के लिये यह टूर्नामेंट मील का पत्थर साबित होगा. गांव की होनहार लड़कियां प्रदेश और देश मे अपना नाम रोशन कर सकेंगी. आज हमने भी एक रोमांचक मैच खेला है जिसमें बनारस की टीम को 23-15 से हराकर जीत हासिल की है.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर