होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /बारिश से पूरा सूबा है हलकान, पर लोग यहां आज भी हैं पानी की किल्लत से परेशान

बारिश से पूरा सूबा है हलकान, पर लोग यहां आज भी हैं पानी की किल्लत से परेशान

    भारी बारिश के चलते एक ओर जहां पूरा सूबा बाढ़ की चपेट में है, लेकिन बुन्देखण्ड के महोबा जिले के वाशिंदे पीने के पानी की किल्लत से आज भी हलकान हैं. बात हो रही है जिले के बजरिया पुरवा गांव की है, जहां जल विभाग की लापरवाही के चलते पिछले एक माह से लोगों के घरों में पीने का पानी नहीं पहुंचा है और लोगों को सूदूर चलकर पानी का इंतजाम करना पड़ रहा है.

    यह भी पढ़ें-बुंदेलखंड : सूखे से जूझ रहे किसानों को अब 'राम' नाम का सहारा!

    रिपोर्ट के मुताबिक बजरिया पुरवा गांव में पिछले एक माह से पीने के पानी की सप्लाई बाधित है, लेकिन गांववालों की तकलीफों को सुनने वाला कोई नहीं है. उस पर तुर्रा यह कि जल विभाग का एक कर्मचारी अवैध रूप से पानी की तस्करी कर रहा है. बताया जाता है एक ऑडियो/वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें उसे एक हजार रूपए में पीने का पानी का टैंकर बेचने की बात कहते हुए सुना जा सकता है.

    यह भी पढ़ें-महोबाः ओलावृष्टि से बर्बाद फसल के मुआवजे के लिए किसानों ने जाम किया हाइवे

    पूरे मामले पर जिलाधिकारी सहदेव ने कहा है कि वायरल आडियो और वीडियो को मंगा लिया गया है और जांच के बाद आरोपी कर्मचारी के खिलाफ कार्यवाही होगी. बताया जाता है एक हजार रुपए में पीने के पानी का टैंकर बेचने की बात कबूलने वाला कर्मचारी एक पम्प आपरेटर हैं, जिसका नाम सिद्दीकी बताया जा रहा है.

    जिलाधिकारी ने बताया कि फिलहाल महोबा में पानी के लिए उर्मिल बांध में पर्याप्त पानी है और पानी को फिल्टर करने के लिए उपयोग होने वाली सामग्री भी उपलब्ध करा दी गई है.

    (रिपोर्ट- मनोज ओझा, महोबा)

    Tags: Bundelkhand news, Water Crisis

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें