• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • पुनर्जन्म का दावाः मौत के 8 साल बाद घर लौटा चंद्रवीर, मम्मी-पापा को पहचाना तो सब रह गए हक्का-बक्का!

पुनर्जन्म का दावाः मौत के 8 साल बाद घर लौटा चंद्रवीर, मम्मी-पापा को पहचाना तो सब रह गए हक्का-बक्का!

मैनपुरी में पुनर्जन्म दावा: मौत के 8 साल बाद जिंदा घर लौटा चंद्रवीर

मैनपुरी में पुनर्जन्म दावा: मौत के 8 साल बाद जिंदा घर लौटा चंद्रवीर

Ajab-Gazab News: मैनपुरी जिले के ग्राम नगला सलेही के प्रमोद कुमार श्रीवास्तव के 13 साल के बेटे रोहित कुमार की 8 साल पहले मौत हो गई थी. बीते दिनों चंद्रवीर नाम का बालक गांव में आया और दावा किया कि वह उनका बेटा है.

  • Share this:

    मैनपुरी. उत्तर प्रदेश के मैनपुरी (Mainpuri) में पुनर्जन्म का हैरतअंगेज मामला सामने आया है. मैनपुरी में (8) वर्ष के बालक ने पुनर्जन्म की बातों को सबके सामने रख दिया. इतना ही नहीं उसने पुराने गांव में पूर्व जन्म के माता- पिता के सामने आते ही आशीर्वाद भी लिया. लड़के ने अपने पुनर्जन्म का दावा किया और घर-गांव के सभी सदस्यों की पहचान की. दरअसल, मैनपुरी जिले के ग्राम नगला सलेही के प्रमोद कुमार श्रीवास्तव के 13 साल के बेटे रोहित कुमार की आठ साल पहले मौत हो गई थी. गांव के पास से निकली कानपुर ब्रांच की नहर में नहाते वक्त रोहित की डूबने से मौत हो गई थी. प्रमोद कुमार के दो ही बच्चे थे. एक लड़का व एक लड़की जिसमें रोहित की मौत हो चुकी थी.

    चंद्रवीर को गांव वाले उसी स्कूल ले गये, जहां वो पहले पढ़ता था, वहां पर जब शिक्षकों ने उससे पूछा कि वो कौन से कक्षा में पढ़ता था तो उसने तुरंत बता दिया. चंद्रवीर की बताई गई पुनर्जन्म की बात क्षेत्र में फैल गयी, जो चर्चा का विषय बनी हुई है. बता दें कि नगला सलेही से करीब चार किलोमीटर दूर नगला अमर सिंह निवासी रामनरेश शंखवार अपने 8 वर्षीय पुत्र चंद्रवीर को लेकर प्रमोद कुमार के घर के बाहर पहुंचे. चंद्रवीर दौड़कर प्रमोद के घर में घुस गया. उस समय प्रमोद और उनकी पत्नी ऊषा घर में नहीं थे. कुछ देर में ही प्रमोद और ऊषा आ गए. चंद्रवीर ने मम्मी-पापा कहते हुए दोनों के पैर छुए. उसने जब बताया कि वह उनका रोहित है, तो दंपति हैरान रह गए.

    अखिलेश यादव ने रोडवेज की बस दिखा कसा तंज तो BJP बोली- डबल इंजन की सरकार से क्यों लगता है डर?

    जिस बेटे का अंतिम संस्कार उन्होंने 8 साल पहले खुद किया था, वह सामने कैसे हो सकता है. चंद्रवीर ने बताया कि यह उसका दूसरा जन्म है. चंद्रवीर की बात सुनकर दंपति की आंखों से आंसू आ गए. उसे सीने से लगा लिया. नगला सलेही निवासी प्रमोद कुमार श्रीवास्तव का 13 वर्षीय पुत्र रोहित चार मई 2013 को गांव के बच्चों के साथ नहर में नहाने गया था. तभी डूबने से उसकी मौत हो गई थी. पिछले जन्म के पिता रहे प्रमोद कुमार का परिवार अपने बेटे की मौत के गम को बड़ी मुश्किल से भूला था. अब दोबारा बेटे के लौट आने से उसके गम फिर से ताजा हो गया हैं. (रिपोर्ट- देवेंद्र चौहान)

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज