COVID-19: अब BJP राज्यसभा सांसद हरनाथ सिंह यादव ने भी 25 लाख वापस मांगे
Mainpuri News in Hindi

COVID-19: अब BJP राज्यसभा सांसद हरनाथ सिंह यादव ने भी 25 लाख वापस मांगे
भाजपा राज्यसभा सांसद हरनाथ यादव ने वेंटिलेटर खरीदने के लिए दी गई 25 लाख रुपये की सांसद निधि वापस मांगी (फ़ाइल तस्वीर)

भाजपा (BJP) से राज्यसभा सांसद हरनाथ सिंह यादव ने दो महीने पहले स्वास्थ्य विभाग को वेंटिलेटर (ventilator) खरीदने के लिए 25 लाख रुपए सांसद निधि से दिए थे.लेकिन अब राज्यसभा सांसद ने डीएम मैनपुरी को पत्र लिखकर वेंटिलेटर के लिए दी गई धनराशि का प्रस्ताव निरस्त करने के लिए कहा है.

  • Share this:
मैनपुरी. वैश्विक महामारी कोविड-19 (Pandemic Coronavirus) से जंग में सांसद निधि से पहले धन का योगदान देकर फिर वापस मांगने वालों की फेहरिस्त में एक नाम और जुड़ गया है. अब भाजपा राज्यसभा सांसद हरनाथ सिंह यादव ने डीएम मैनपुरी को पत्र लिखकर उनके द्वारा सांसद निधि से दिए गए 25 लाख रुपये वापस मांगे हैं. इससे पहले भी भाजपा के एमएलसी सहित कई विधायकों व बसपा की एक विधायक ने भी संबंधित जिला प्रशासन को पत्र लिखकर निधि की धनराशि का उपयोग करने से मना कर दिया था.

यह है मामला
दरअसल कोरोना वायरस (coronavirus) का संक्रमण फैलने के बाद मैनपुरी की खराब स्वास्थ्य व्यवस्था को देखते हुए भाजपा से राज्यसभा सांसद हरनाथ सिंह यादव ने दो महीने पहले स्वास्थ्य विभाग को वेंटिलेटर खरीदने के लिए 25 लाख रुपए सांसद निधि से दिए थे. सांसद का आरोप है कि दो माह का समय बीतने के बावजूद अभी तक स्वास्थ्य विभाग द्वारा वेंटिलेटर नहीं खरीदा गया. हालांकि स्वास्थ्य विभाग ने इस खरीद के लिए प्रस्ताव भेजा है. लेकिन राज्यसभा सांसद ने डीएम मैनपुरी को पत्र लिखकर वेंटिलेटर के लिए दी गई धनराशि का प्रस्ताव निरस्त करने के लिए कहा और साथ ही वह पैसा वापस उनकी सांसद निधि में भेजने को कहा. इस मसले पर राज्यसभा सांसद हरनाथ सिंह का कहना है कि कई बार स्वास्थ्य विभाग से इस सन्दर्भ में जानकारी ली गई, लेकिन संतोषजनक जवाब न मिलने के बाद वेंटीलेटर के लिए दी गई सांसद निधि से 25 लाख की धनराशि का प्रस्ताव निरस्त करने के लिए डीएम को पत्र लिख दिया गया है. जिससे कि उस धनराशि का सदुपयोग किया जा सके. हालांकि राजनीतिक गलियारों में इसे लेकर कुछ और ही तरह की चर्चाओं का बाजार गर्म है.

बता दें कि मैनपुरी जनपद को शासन से चार वेंटिलेटर उपलब्ध कराए गए हैं. जिन्हें जिला महिला अस्पताल में लगाया गया है. सीडीओ मैनपुरी नागेन्द्र शर्मा ने बताया कि राज्यसभा सांसद द्वारा 25 लाख रुपए की धनराशि निधि से दी गई थी. इस धनराशि को स्वास्थ्य विभाग को दिया गया था. लेकिन सांसद ने पत्र भेजकर प्रस्ताव निरस्त करने के लिए कहा है उनकी मांग के अनुसार कार्यवाही की जा रही है. मैनपुरी में वेंटिलेटर खरीदने के लिए सांसद निधि से दी गई धनराशि भाजपा राज्यसभा सांसद ने वापस मांग ली है. इस संबंध में उन्होंने डीएम मैनपुरी को पत्र लिखकर वेंटिलेटर खरीदने के लिए दी गई 25 लाख की धनराशि का प्रस्ताव निरस्त करने के लिए कहा है. रिपोर्ट के मुताबिक मैनपुरी प्रशासन ने उनके पत्र का संज्ञान लेते हुए अग्रिम कार्यवाही शुरू कर दी है.



ये भी पढ़ें- COVID-19 से जंग के लिए दिए पैसे वापस मांगने वाले BJP MLA श्याम प्रकाश को पार्टी ने भेजा नोटिस


अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading