मैनपुरी: नहीं पहुंची एंबुलेंस, तो हथठेले से बीमार पत्नी को पहुंचाया अस्पताल, तोड़ा दम

मामला कोतवाली क्षेत्र के गांव हरिहरपुर का है. यहां रहने वाले कन्हैया लाल सब्जी का ठेला लगाकर परिवार का भरण पोषण करता है.

News18Hindi
Updated: March 13, 2018, 10:58 AM IST
मैनपुरी: नहीं पहुंची एंबुलेंस, तो हथठेले से बीमार पत्नी को पहुंचाया अस्पताल, तोड़ा दम
पत्नी के शव को ठेले पर लेकर जाता कन्हैया
News18Hindi
Updated: March 13, 2018, 10:58 AM IST
उत्तर प्रदेश के मैनपुरी जनपद में सोमवार को एक बार फिर खस्ताहाल स्वास्थ्य व्यवस्था की बानगी देखने को मिली. सिस्टम की लापरवाही और चूक से एक महिला की जान चली गई. दरअसल गांव हरिहरपुर में सुबह एक महिला की तबीयत खराब होने के बाद पति ने 108 नंबर पर एंबुलेंस के लिए फोन किया. लेकिन घंटों बाद भी एंबुलेंस नहीं पहुंची. जिसके बाद पति ने बीमार पति को हथठेले पर लादकर पांच किलोमीटर दूर जिला अस्पताल पहुंचा. लेकिन इसके बाद भी इलाज शुरू नहीं हुआ. औपचारिकताओं पूरी करने में हुई देरी के बीच महिला ने दम तोड़ दिया.

मामला कोतवाली क्षेत्र के गांव हरिहरपुर का है. यहां रहने वाले कन्हैया लाल सब्जी का ठेला लगाकर परिवार का भरण पोषण करता है. सोमवार की सुबह उसकी पत्नी सोनी (30) की अचानक तबीयत खराब हो गई. इसके बाद कन्हैया ने एक राहगीर के मोबाइल से एंबुलेंस बुलाने के लिए 108 नंबर पर फोन किया. काफी देर तक एंबुलेंस नहीं आई. इसके बाद उसने ठेले पर पत्नी को लिटाया और बूढ़ी मां को बिठाने के बाद जिला अस्पताल की ओर चल पड़ा.

आरोप है कि अस्पताल पहुंचने पर स्वास्थ्य कर्मचारियों ने पहले तो भर्ती करने में आनाकानी की. उसके बाद जब डॉक्टर भर्ती करने को तैयार हुए तो औपचारिकताएं पूरी कराने लगे. इस बीच अस्पताल के बाहर ठेले पर लेटी बीमार सोनी ने दम तोड़ दिया. इतना ही नहीं कन्हैया ठेले पर ही पत्नी के शव को लेकर वापस गया.

मामले में सीएमओ अरविंद कुमार ने कहा कि महिला मृत अवस्था में ही अस्पताल लाई गई थी. मामले की जांच की जाएगी और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई भी होगी.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर