मैनपुरी: जांच के घेरे में 2672 टीचर्स, बड़ी संख्या में फर्जी शिक्षक के सामने आने का अंदेशा
Mainpuri News in Hindi

मैनपुरी: जांच के घेरे में 2672 टीचर्स, बड़ी संख्या में फर्जी शिक्षक के सामने आने का अंदेशा
मैनपुरी में शुरू हुई फर्जी शिक्षकों की जांच

जांच शुरू होने के बाद शिक्षा विभाग (Education Department) में हड़कंप मचा हुआ है. शिक्षा विभाग को अंदेशा है कि जांच के बाद बड़ी तादाद में फर्जी शिक्षक सामने आ सकते हैं.

  • Share this:
मैनपुरी. गोंडा की अनामिका शुक्ला (Anamika Shukla) के नाम पर फर्जीवाड़े के बाद जनवरी 2009 से मैनपुरी (Mainpuri) में नियुक्ति पाने वाले शिक्षकों (Teachers) की शासन के निर्देश पर जांच शुरू कर दी गई है. मैनपुरी में अब तक 2672 शिक्षकों की नियुक्ति हुई है. इन सभी शिक्षकों के अभिलेखों की जांच की जिम्मेदारी 4 सदस्यीय टीम को सौंपी गई है. जांच शुरू होने के बाद पूरे शिक्षा विभाग में हड़कंप मचा हुआ है. शिक्षा विभाग को अंदेशा है कि जांच के बाद बड़ी तादाद में फर्जी शिक्षकों का झुंड सामने आ सकता है.

अनामिका शुक्ला फर्जीवाड़ा सामने आने के बाद बेसिक शिक्षा विभाग ने जिले में वर्ष 2010 से अब तक नियुक्ति पाने वाले सभी शिक्षकों की जांच के आदेश दिए हैं. सचिव (बेसिक शिक्षा परिषद) ने इस संबंध में मैनपुरी बीएसए को एक पत्र भेजा है. पत्र में कहा गया है कि एक जनवरी 2009 के बाद नियुक्त सभी शिक्षकों की जांच की जाए. जांच मानव संपदा पोर्टल से भी कराए जाने के निर्देश दिए हैं, जिससे इस बात का भी पता चल सके कि प्रदेश के किसी भी जिले में संबंधित शिक्षक के नाम से कोई दूसरा तो नौकरी नहीं कर रहा है.

अब तक के बर्खास्त शिक्षक



वर्ष 2013- 29 हजार शिक्षक भर्ती- 293 नियुक्तियां, 8 फर्जी शिक्षक हुए बर्खास्त
वर्ष 2013- 10800 शिक्षक भर्ती - 111 नियुक्तियां, 10 फर्जी शिक्षक हुए बर्खास्त
वर्ष 2014- 10 हजार शिक्षक भर्ती- 119 नियुक्तियां, 13 फर्जी शिक्षक हुए बर्खास्त

मैनपुरी बेसिक शिक्षा अधिकारी विजय प्रताप ने बताया शासन से पत्र प्राप्त हुआ है, जिसके बाद चार सदस्यीय टीम गठित की गई है. 2009 से नियुक्ति पाने वाले शिक्षकों के अभिलेखों की जांच की जाएगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज