लाइव टीवी

मैनपुरी: मौत से पहले छात्रा से हुआ था रेप, 15 नवंबर को ही पुलिस को मिल गई थी फॉरेंसिक रिपोर्ट!

News18 Uttar Pradesh
Updated: December 3, 2019, 1:06 PM IST
मैनपुरी: मौत से पहले छात्रा से हुआ था रेप, 15 नवंबर को ही पुलिस को मिल गई थी फॉरेंसिक रिपोर्ट!
छात्रा की मौत के मामले में अब बड़ा खुलासा हुआ है, जांच में पता चला है कि उसकी मौत से पहले रेप हुआ था.

Mainpuri Navoday Student death case: आगरा विधि विज्ञान प्रयोगशाला में हुई जांच में वैज्ञानिकों को स्लाइड में मेल स्पर्म मिले थे. लैब ने 15 नवंबर को ही इसकी रिपोर्ट मैनपुरी पुलिस को दे दी थी.

  • Share this:
मैनपुरी. नवोदय विद्यालय (Navoday Vidyalay) की छात्रा की हत्या (Murder) के मामले में नया खुलासा हुआ है. सूत्रों के अनुसार आगरा विधि विज्ञान प्रयोगशाला (Agra Forensic Lab) की रिपोर्ट के मुताबिक छात्रा की मौत से पहले उसके साथ रेप हुआ था. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक विधि विज्ञान प्रयोगशाला के वैज्ञानिकों को स्लाइड में मेल स्पर्म मिले थे. लैब ने 15 नवंबर को ही इसकी रिपोर्ट मैनपुरी पुलिस को दे दी थी. लेकिनर संदिग्धों से डीएनए मैच कराने की बजाय पुलिस ने इस रिपोर्ट को ही दबा दिया. बता दें परिवार पहले से ही दुष्कर्म के बाद हत्या का आरोप लगाता रहा है.

डीएम-एसपी पर कार्रवाई
हत्याकांड की जांच और कार्रवाई को लेकर लापरवाह बने रहे आला अधिकारी अब सरकार के निशाने पर आ गए हैं. नाराज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर पुलिस अधीक्षक अजय शंकर राय को तो हटा ही दिया गया था. सोमवार को जिलाधिकारी प्रमोद कुमार उपाध्याय को भी हटा दिया गया. इन दोनों अधिकारियों ने रेप पीड़िता की मौत के मामले में बड़े तथ्य छुपाए थे. परिजन शुरू से ही दुष्कर्म के बाद हत्या की बात कर रहे थे, लेकिन तत्कालीन एसपी मैनपुरी अजय शंकर राय लगातार आत्महत्या की दुहाई दे रहे थे. बहरहाल दोनों अधिकारी अब सरकार के निशाने पर हैं एसपी के खिलाफ विभागीय जांच के आदेश दिए गए हैं.

पोस्टमार्टम रिपोर्ट में नहीं बताए चोट के निशान

छात्रा की मौत के बाद पुलिस ने जो पंचनामा किया था उसमें बदन पर चोटों के निशान पाए थे, लेकिन पोस्टमार्टम रिपोर्ट में यह सब नहीं था. आगरा विधि विज्ञान प्रयोगशाला की जांच रिपोर्ट आने के बाद रेप पीड़िता के साथ दुष्कर्म की पुष्टि हुई.

छात्रा के साथ हुआ था दुष्कर्म
मैनपुरी की छात्रा से दुष्कर्म हुआ था इसकी पुष्टि आगरा विधि विज्ञान प्रयोगशाला की रिपोर्ट में हो गई.  जांच में वैज्ञानिकों को स्लाइड में मेल स्पर्म मिले थे. लैब ने 15 नवंबर को ही इसकी रिपोर्ट मैनपुरी पुलिस को दे दी थी. एसआईटी की अध्यक्षता कर रहे आईजी कानपुर मोहित अग्रवाल ने पूरे मामले की जानकारी पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह को दी.

ये भी पढ़ेंः  छात्रा की मौत मामला: SP के बाद अब मैनपुरी DM का तबादला,गन्ना विभाग में भेजे गए

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मैनपुरी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 3, 2019, 11:19 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर