मैनपुरी: महागठबंधन की रैली के मच पर सिर्फ तीन कुर्सियां बनी चर्चा का केंद्र

दरअसल आज की महारैली में बसपा सुप्रीमो मायावती, सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव, गठबंधन प्रत्याशी मुलायम सिंह यादव, रालोद अध्यक्ष अजीत सिंह, बसपा सुप्रीमो सतीश चंद्र मिश्र समेत कई बड़े चेहरे शिरकत करेंगे. लेकिन मंच पर महज तीन प्रमुख कुर्सियों को देखने के बाद चर्चाओं का बाजार गर्म है.

News18 Uttar Pradesh
Updated: April 19, 2019, 12:49 PM IST
मैनपुरी: महागठबंधन की रैली के मच पर सिर्फ तीन कुर्सियां बनी चर्चा का केंद्र
महागठबंधन की रैली में मंच पर लगी है सिर्फ तीन कुर्सियां
News18 Uttar Pradesh
Updated: April 19, 2019, 12:49 PM IST
मैनपुरी के क्रिस्चियन मैदान पर शुक्रवार को गठबंधन की चौथी संयुक्त रैली है. इस रैली में बसपा सुप्रीमो मायावती सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव के लिए वोट मांगेंगी. लेकिन रैली के लिए बनाए गए मंच पर महज तीन ही प्रमुख कुर्सियां चर्चा का विषय बनी हुई हैं.जिसके बाद कहा जा रहा है कि कौन नहीं पहुंच रहा है.

आज की महारैली में बसपा सुप्रीमो मायावती, सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव, गठबंधन प्रत्याशी मुलायम सिंह यादव, रालोद अध्यक्ष अजीत सिंह, बसपा सुप्रीमो सतीश चंद्र मिश्र समेत कई बड़े चेहरे शिरकत करेंगे. लेकिन मंच पर महज तीन प्रमुख कुर्सियों को देखने के बाद चर्चाओं का बाजार गर्म है.

दरअसल, मंच पर पहले चार कुर्सियां लगाई गई थीं, लेकिन बाद में एक हटा ली गई. सूत्रों के मुताबिक शायद रालोद अध्यक्ष अजीत सिंह इस रैली में नहीं पहुंच रहे हैं.

ढाई दशक बाद यह पहला मौका होगा, जब मायावती और मुलायम सिंह मंच साझा करेंगे. मैनपुरी के क्रिश्चियन कॉलेज मैदान में आयोजित होने वाली इस रैली में सपा, बसपा और रालोद के शीर्ष नेताओं के बड़े-बड़े कट-आउट लगाए गए हैं. इनके जरिए जनता में एकजुटता का सन्देश देने की कोशिश है.

रैली स्थल पर बनाए गए मंच पर बसपा के प्रणेता डॉ भीमराव आंबेडकर, छत्रपति शाहूजी महाराज, बसपा के संस्थापक कांशीराम, पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह और राम मनोहर लोहिया की तस्वीरें लगाई गई हैं.

मैनपुरी सीट से मुलायम सिंह गठबंधन के उम्मीदवार हैं और ऐसा सालों बाद होगा, जब माया-मुलायम एक साथ किसी मंच पर नजर आएंगे. सपा-बसपा-रालोद गठबंधन की संयुक्त रैलियों की शृंखला में मैनपुरी के क्रिश्चियन कॉलेज मैदान में यह चौथी रैली होगी.

इस रैली पर उत्तर प्रदेश ही नहीं पूरे देश की निगाहें टिकी हुई हैं. आपको बता दें कि माया ने गठबंधन का ऐलान करते हुए कहा था कि वह गेस्ट हाउस कांड को किनारे रखकर जनहित में गठबंधन कर रही हैं. यानी वह इस चर्चित घटना को भुला नहीं पाई हैं. ऐसे में माया का मुलायम के लिए वोट मांगना बड़ी बात होगी.
Loading...

...वो गेस्ट हाउस कांड जिसे 'भुलाकर' आज मंच साझा करेंगे माया-मुलायम

EC की रोक खत्म ऐक्शन में सीएम योगी, आज करेंगे ताबड़तोड़ जनसभाएं

शत्रुघ्न सिन्हा ने किया पत्नी का प्रचार तो भड़के कांग्रेस उम्मीदवार, बोले...

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मैनपुरी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 19, 2019, 12:40 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...