सैफई में मुलायम ने परिवार संग डाला वोट, साधना, अखिलेश, डिंपल और अपर्णा भी रही साथ
Mainpuri News in Hindi

मुलायम सिंह यादव प्राइवेट जेट से बहू अपर्णा, पत्नी साधना गुप्ता के साथ लखनऊ से सैफई पहुंचे थे. अखिलेश यादव पत्नी डिंपल के साथ पहले से ही मतदान स्थल अभिनव स्कूल पर मौजूद थे.

  • Share this:
मैनपुरी से गठबंधन प्रत्याशी और सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव ने सपरिवार सैफई में वोट डाला. इस दौरान पत्नी साधना गुप्ता, दोनों बहु डिंपल यादव व अपर्णा यादव भी उनके साथ थीं. सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव और मौजूदा सांसद तेज प्रताप यादव भी मुलायम के साथ थे.

मुलायम सिंह यादव प्राइवेट जेट से बहू अपर्णा, पत्नी साधना गुप्ता के साथ लखनऊ से सैफई पहुंचे थे. अखिलेश यादव पत्नी डिंपल के साथ पहले से ही मतदान स्थल अभिनव स्कूल पर मौजूद थे. मुलायम के पहुंचते ही अखिलेश व डिंपल ने मुलायम और साधना के पैर छूकर आशीर्वाद लिया. इसके बाद पूरा परिवार एक साथ मतदान किया. हालांकि अखिलेश और डिंपल पहले ही मतदान कर चुके थे.





वोट से पहले अखिलेश यादव ने मुलायम के पैर छूकर कहा कि ये नया स्कूल बन गया है. दरअसल अखिलेश सरकार ने सैफई के प्राइमरी स्कूल को अभिनव स्कूल में बदला है.
बता दें मैनपुरी से पांचवीं बार मुलायम सिंह चुनाव लड़ रहे हैं. ये उनका आखिरी चुनाव है. पिछले दिनों उन्होंने एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा था कि इस बार वे आखिरी चुनाव लड़ रहे हैं. इस चरण में यूपी की 10 अहम् सीटों पर भी मतदान हो रहा है. इन सीटों में से ज्यादातर वे सीटें हैं जिन्हें 'यादव परिवार' का गढ़ माना जाता है. अभी तक हुए दो चरणों के मतदान में 16 सीटों पर वोटिंग हुई थी जिनमें से सिर्फ 3 पर सपा उम्मीदवार थे. इस बार 10 में से 9 पर सपा के उम्मीदवार हैं जिनमें खुद मुलायम सिंह यादव के अलावा धर्मेंद्र, अक्षय और शिवपाल यादव भी मैदान में हैं.

इस चरण में एसपी के गढ़ बदायूं, संभल, मैनपुरी, फिरोजाबाद और रामपुर के साथ-साथ आंवला, बरेली, पीलीभीत, एटा और मुरादाबाद में मतदान हो रहा है. एसपी के लिए सबसे सुरक्षित सीट मैनपुरी है नज़र आ रही है जहां से मुलायम सिंह यादव प्रत्याशी हैं, यहां बीजेपी के अलावा न तो कांग्रेस और न ही शिवपाल ने अपना कैंडिडेट दिया है. मुलायम और मायावती के मंच साझा करने से गठबंधन और पार्टी कार्यकर्ताओं में नया उत्साह देखने को मिल रहा है.

ये भी पढ़ें:

एटा: पीठासीन अधिकारी पर लगा जबरदस्ती साइकिल पर वोट डलवाने का आरोप, हंगामे के बाद हटाए गए

आज़म खान के नाम पर मायावती को ये सलाह देकर मुश्किलों में घिरी जया प्रदा

तीसरे फेज़ में मतदान के लिए तैयार बरेली, नोटबंदी और GST से त्रस्त हैं 'मांझे' वाले

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज