Home /News /uttar-pradesh /

पुलवामा हमला: पाकिस्तान को मुंह तोड़ जवाब देने के लिए युवाओं की टोली बॉर्डर की तरफ हुई रवाना

पुलवामा हमला: पाकिस्तान को मुंह तोड़ जवाब देने के लिए युवाओं की टोली बॉर्डर की तरफ हुई रवाना

बॉर्डर देंगे श्रद्धांजलि

बॉर्डर देंगे श्रद्धांजलि

देश की सरकार पाकिस्तान को दण्ड देने का कोई निर्णय नहीं ले पा रही हैं. जिसके चलते सैकड़ों युवाओं की टोली ने यह निर्णय किया है कि वे लोग पाकिस्तान के बॉर्डर तक पैदल जाकर आतंकवादी संगठनों को ललकारेंगे

    पाकिस्तान की कायराना पुलवामा आतंकी हमले के विरोध में मैनपुरी के युवाओं ने अनोखा रास्ता अपनाया है. आतंकी हमले में शहीद हुए जवानों को श्रद्धांजलि देने और पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब देने के लिए जिले के युवाओं की एक टोली बॉर्डर की तरफ रवाना हो गई है. बॉर्डर जाने वाले इस टोली का नेतृत्व विक्राम सिंह कर रहे हैं.

    जनपद के बरनाहल थाना क्षेत्र के ग्राम इकारा  निवासी विक्रम सिंह ने बताया है कि देश की सरकार पाकिस्तान को दण्ड देने का कोई निर्णय नहीं ले पा रही हैं. जिसके चलते सैकड़ों युवाओं की टोली ने यह निर्णय किया है कि वे लोग पाकिस्तान के बॉर्डर तक पैदल जाकर आतंकवादी संगठनों को ललकारेंगे और शहीद हुए हमारे वीर सपूतों को जाकर के श्रद्धांजलि देंगे.

    24 फरवरी को सुबह 11:30 बजे नारायण वाटिका मैरिज होम बरनाहल से जैसलमेर के लिए रवाना होकर शहीदों को श्रद्धांजलि यात्रा के साथ सरकार को संदेश देना चाहते हैं कि खून का बदला खून से चाहिए. अगर सरकार बदला नहीं लेती है, तो युवाओं में सैकड़ों चंद्रशेखर भगत सिंह सुखदेव राजगुरु जैसे क्रांतिकारी आज भी हैं. वह पाकिस्तान को सबक सिखाने में सक्षम हैं.

    टीम के अध्यक्ष विक्रम सिंह ने  बताया है  कि हर बार केवल सेना के जवान ही बलिदान क्यों दें, हमें भारतीय सेना पर पूरा भरोसा है तथा भारत देश का हर एक नागरिक सेना के साथ देश की रक्षा में जान की बाजी लगाने के लिए तैयार हैं. यात्रा में मैनपुरी के सैकड़ों युवाओं के साथ साथ अन्य जिलों के युवा भी शामिल होकर रबाना हुए हैं. (रिपोर्ट-मनीष त्रिपाठी)

    ये भी पढ़ें: पुलवामा आतंकी हमला : इजरायल ने की भारत को हर तरह की मदद देने की पेशकश

    एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp

    Tags: Pakistan, Politics, Pulwama, Pulwama attack, Terrorism, Uttar pradesh news, Uttar Pradesh Politics

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर