Mainpuri Panchayat Chunav Results 2021: मैनपुरी में अब तक 9 लोगों ने मारी बाजी, देखें नए प्रधानों की लिस्ट

Mainpuri Panchayat Election: ग्राम प्रधान के नतीजे आने शुरू हो गए हैं.

Mainpuri Panchayat Election: ग्राम प्रधान के नतीजे आने शुरू हो गए हैं.

Mainpuri Panchayat Election Reusults: यूपी पंचायत चुनाव के नतीजे आने का सिलसिला शुरू हो गया है. इस बीच मैनपुरी की कई ग्राम पंचायतों में लोगों ने अपने पसंदीदा प्रत्‍याशी को प्रधान चुन लिया है.

  • Share this:
मैनपुरी. उत्‍तर प्रदेश पंचायत चुनाव (UP Panchayat Election) को लेकर आज मतगणना चल रही है. इस बीच यूपी के मैनपुरी (Mainpuri) में कई ग्राम पंचायत के नतीजे सामने आए हैं. जबकि जिले में पहला नतीजा कुरावली ब्‍लॉक की ग्रामसभा तरोली से आया है, जहां सुधा चौहान ने अपने विरोधी को मात देकर जीत हासिल की है.

इसके अलावा खिचोली, भरतपुर, सुजरू देहात, रोशिंगपुर, दूल्हापुर, नगला ऊसर, बेलाहर, सहादतपुर आदि के लोगों ने भी अपना प्रधान चुन लिया है.

ये हैं विजयी ग्राम प्रधान

>> कुरावली ब्लॉक की ग्रामसभा तरोली से सुधा चौहान ने अपने विरोधी को हराकर जीत हासिल की है.
>> कुरावली ब्लॉक की ग्रामसभा सहादतपुर से कुसुमा देवी विजयी हुई हैं.

>>कुरावली ब्लॉक की ग्रामसभा भरतपुर से वंदना पत्नी मनोज कुमार विजयी रही हैं.

>>कुरावली ब्लॉक की ग्रामसभा रोशिंगपुर से प्रदीप कुमार विजयी हुए हैं.



>>कुरावली ब्लॉक की ग्रामसभा सुजरई देहात से रूबी पत्नी गुलशन ने बाजी मारी है.

>>कुरावली ब्लॉक की ग्रामसभा बेलाहार से रामेंद्र पाल सिंह ने जीत हासिल की है.

>>कुरावली ब्लॉक की ग्रामसभा खिचोली से रीता देवी विजयी हुई हैं.

>>कुरावली ब्लॉक की ग्रामसभा दूल्हापुर और नगला ऊसर का भी नतीजा आ गया है.

बता दें क‍ि सुप्रीम कोर्ट के पंचायत चुनाव की मतगणना पर रोक लगाने से इंकार करने के बाद आज सुबह 8 बजे से यूपी के 75 जिलों में वोटों की गिनती का काम शुरू हो गया है. यूपी में चार चरणों में हुए त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव हुए थे.

कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन जरूरी

राज्‍य निर्वाचन आयुक्‍त मनोज कुमार ने सभी जिलाधिकारियों और जिला निर्वाचन अधिकारियों को हर मतगणना केंद्र पर चिकित्सा सहायता डेस्क खोलने के आदेश दिए हैं. साथ ही स्पष्ट कहा गया है कि कोविड-19 के लक्षण होने पर मतगणना स्थल पर प्रवेश नहीं करने दिया जाएगा. उन्होंने कहा क‍ि मतगणना कक्ष या परिसर में प्रवेश के समय सभी व्यक्तियों की थर्मल स्कैनिंग अनिवार्य रूप से की जाएगी. आयोग ने विजय जुलूस पर प्रतिबंध लगाया है और किसी भी प्रत्याशी को विजय जुलूस की अनुमति नहीं दी जाएगी. प्रत्याशियों और अभिकर्ताओं को मतगणना शुरू होने के 48 घंटे पहले आरटीपीसीआर अथवा रैपिड एंटीजन जांच की निगेटिव रिपोर्ट दिखाये जाने के बाद ही मतगणना केंद्र में प्रवेश की अनुमति मिलेगी. मतगणना केंद्र पर जाने वाले सभी लोगों को मास्क लगाना जरूरी होगा.

पंचायत चुनाव में भाजपा, सपा, कांग्रेस, आम आदमी पार्टी और ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन जैसी राजनीतिक पार्टियों ने भी अपने प्रत्याशी उतारे हैं. हालांकि इन पार्टियों के उम्मीदवार पार्टी के चुनाव निशान पर नहीं बल्कि आयोग द्वारा दिए गए व्यक्तिगत चुनाव चिह्नों पर मैदान में उतरे. उत्तर प्रदेश के 75 जिलों में चार चरणों में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के लिए मत डाले गए थे. पहले चरण में 15 अप्रैल, दूसरे में 19 अप्रैल, तीसरे में 26 अप्रैल और चौथे चरण में 29 अप्रैल को मतदान हुआ था. राज्‍य में चारों चरणों में ग्राम पंचायत प्रधान के 58,194, ग्राम पंचायत सदस्य के 7,31,813, क्षेत्र पंचायत सदस्य के 75,808 और जिला पंचायत सदस्य के 3,051 पदों के लिए मत डाले गये हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज