मैनपुरी में भी निकली तिरंगा यात्रा, VHP ने की चंदन के हत्यारों को फांसी की मांग

इससे पहले विश्व​ हिन्दू परिषद ने पड़ोस के आगरा जिले में तिरंगा यात्रा निकाल मृतक चंदन गुप्ता को श्रद्धांजलि दी. वहीं फिरोजाबाद में भी बजरंगदल ने कासगंज हिंसा के विरोध में जुलूस निकाला.

ETV UP/Uttarakhand
Updated: January 31, 2018, 3:36 PM IST
मैनपुरी में भी निकली तिरंगा यात्रा, VHP ने की चंदन के हत्यारों को फांसी की मांग
आगरा में विश्व हिंदू परिषद और बजरंग दल की तिरंगा यात्रा
ETV UP/Uttarakhand
Updated: January 31, 2018, 3:36 PM IST
कासगंज में सांप्रदायिक हिंसा के बाद विश्व​ हिन्दू परिषद और बजरंग दल ने का विभिन्न जिलों में प्रदर्शन जारी है. मंगलवार को अमेठी और लखनऊ में विरोध प्रदर्शन के बाद बुधवार को आगरा और फिरोजाबाद में प्रदर्शन किया गया. इसके बाद मैनपुरी में भी विश्व हिन्दू परिषद के कार्यकर्ताओं ने तिरंगा यात्रा निकाली. उधर 26 जनवरी को कासगंज में तिरंगा यात्रा को लेकर हुई हिंसा में चंदन की मौत के बाद मैनपुरी में विश्व हिंदू परिषद ने तिरंगा यात्रा निकाली. इस यात्रा के दौरान चंदन गुप्ता के हत्यारों को फांसी की मांग की गई. यात्रा में विहिप कार्यकर्ताओं ने वंदेमातरम् और भारत माता की जय के नारे लगाए.

बता दें कि इससे पहले विश्व​ हिन्दू परिषद ने पड़ोस के आगरा जिले में तिरंगा यात्रा निकाल मृतक चंदन गुप्ता को श्रद्धांजलि दी. इस दौरान आगरा में भारी संख्या में फोर्स तैनात रही. वहीं फिरोजाबाद में भी बजरंगदल ने कासगंज हिंसा के विरोध में जुलूस निकाला. उत्तर थाना क्षेत्र के रामलीला ग्राउंड के पास निकल रहे इस जुलूस की पुलिस को सूचना मिलते ही बगैर परमीशन निकाले जा रहे जुलूस को रोक दिया गया. इसके बाद प्रदर्शनकारियों ने प्रशासन को ज्ञापन सौंपा.

विश्व हिंदू परिषद की तिरंगा यात्रा के दौरान जय श्रीराम और वन्देमातरम के नारे भी लगे. इस दौरान कार्यकर्ताओं ने तिरंगे के साथ भगवा ध्वज भी लहराया. उधर विहिप की तिरंगा यात्रा पर बीजेपी के राज्यसभा सांसद विनय कटियार ने कहा कि मुझे नहीं लगता कि तिरंगा यात्रा के लिए यह सही समय है.

उधर उत्तर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राज बब्बर के नेतृत्व में कासगंज जाने वाले प्रतिनिधिमंडल को प्रशासन ने अनुमति नहीं दी है. प्रशासन ने कानून व्यवस्था का हवाला देते हुए प्रतिनिधिमंडल को कासगंज जाने से रोक दिया है. दरअसल कासगंज हिंसा के बाद राजबब्बर के नेतृत्व में एक प्रतिनिधिमंडल बुधवार को मृतक चंदन गुप्ता के परिजनों से मिलने और स्थिति का जायजा लेने के लिए जा रहा था. गौरतलब है कि कासगंज हिंसा के बाद शहर में तनावपूर्ण शांति है, लेकिन अब इस पर नेताओं की बयानबाजी भी शुरू हो गई है.

 
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर